• Hindi News
  • Haryana
  • Shahbad
  • आशा वर्कर बोलीं, हर माह एक हजार मिलता है वेतन 6 माह से वह भी नहीं मिला
--Advertisement--

आशा वर्कर बोलीं, हर माह एक हजार मिलता है वेतन 6 माह से वह भी नहीं मिला

16वें दिन बुधवार को भी आशा वर्करों का उपायुक्त कार्यालय के बाहर धरना प्रदर्शन किया गया। आशा वर्करों ने सरकार के...

Dainik Bhaskar

Feb 01, 2018, 01:25 PM IST
आशा वर्कर बोलीं, हर माह एक हजार मिलता है वेतन 6 माह से वह भी नहीं मिला
16वें दिन बुधवार को भी आशा वर्करों का उपायुक्त कार्यालय के बाहर धरना प्रदर्शन किया गया। आशा वर्करों ने सरकार के खिलाफ नारेबाजी भी की। आशा वर्करों ने कहा कि उन्हें हर माह एक हजार रुपए वेतन मिलता है, लेकिन पिछले छह माह से वह भी नहीं मिल रहा।

आशा वर्कर यूनियन प्रधान रानी देवी ने कहा कि आशा वर्करों को सरकार की तरफ से प्रति डिलीवरी 200 रुपए मिलते हैं, लेकिन अगर गर्भवती महिला प्राइवेट अस्पताल में डिलीवरी कराने चली जाए तो उन्हें कुछ नहीं मिलता। उन्होंने कहा कि आशा वर्कर अब पीछे नहीं हटेंगी। जब तक सरकार उनकी मांगें नहीं मान लेती तब तक कर्मचारी प्रदर्शन जारी रखेंगी। जिला कमेटी संगठन सचिव पिंकी देवी ने कहा कि आशा वर्कर 24 घंटे की ड्यूटी दे रही हैं, लेकिन सरकार की तरफ से उनके हित में कुछ नहीं किया गया।

इसके चलते उन्हें परिवार का खर्चा चलाने में परेशानी झेलनी पड़ रही है। बुधवार को शाहाबाद ब्लॉक की आशा वर्करों ने धरना प्रदर्शन जारी रखा। धरने की अध्यक्षता पिंकी देवी ने की। पिंकी ने कहा कि जब तक आशा वर्कर को सरकारी कर्मचारी घोषित कर नियमित नहीं किया जाता और समान काम समान वेतन के आधार पर वेतन नहीं दिया जाता, तब तक आंदोलन जारी रहेगा। इस मौके पर सीआईटीयू के जिला उपप्रधान भीम सिंह, जिला कोषाध्यक्ष राजेंद्र सिंह, जन संगठन मंच हरियाणा की और से उषा देवी, महाबीर प्रसाद, सर्व कर्मचारी संघ के जिला उप प्रधान सुरेश गुढ़ा और जिला सचिव ओमप्रकाश मौजूद रहे।

X
आशा वर्कर बोलीं, हर माह एक हजार मिलता है वेतन 6 माह से वह भी नहीं मिला
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..