• Hindi News
  • Haryana
  • Shahbad
  • लाखों खर्च कर वाटर रिचार्ज सिस्टम बना भूला विभाग, अब बना महज शो पीस
--Advertisement--

लाखों खर्च कर वाटर रिचार्ज सिस्टम बना भूला विभाग, अब बना महज शो पीस

शाहाबाद | एक तरफ सरकार लोगों को जल संरक्षण के लिए प्रेरित कर रही है। कई योजनाएं बनाई है। जल संरक्षण के मकसद से...

Dainik Bhaskar

Jun 28, 2018, 02:35 AM IST
लाखों खर्च कर वाटर रिचार्ज सिस्टम बना भूला विभाग, अब बना महज शो पीस
शाहाबाद | एक तरफ सरकार लोगों को जल संरक्षण के लिए प्रेरित कर रही है। कई योजनाएं बनाई है। जल संरक्षण के मकसद से सिंचाई विभाग व प्रशासन ने मारकंडा नदी किनारे वाटर रिचार्ज सिस्टम तैयार कराया था। लेकिन लाखों रुपए की लागत से बना रिचार्जिंग सिस्टम अब देख रेख के अभाव में सफेद हाथी बन कर रह गया है। अब यह किसी काम नहीं आ रहा। ऐसे ही अनाज मंडी में बनाए गए वाटर रिचार्ज सिस्टम के साथ हो रहा है। इनमें कबाड़ भरा हुआ है। इनकी सफाई की सुध भी कोई नहीं लेता।

पांच साल पहले था बना : डार्क जोन घोषित हो चुके शाहाबाद उपमंडल में भू-जल स्तर को बढ़ाने के लिए पांच साल पहले मारकंडा नदी के किनारे पर एक रिचार्जिंग सिस्टम बनाया गया था । ताकि नदी में ज्यादा पानी आने की स्थिति में जल को सीधा भूमि में पहुंचाया जाए। 20 गुणा 60 फुट के इस सिस्टम पर लाखों रुपए खर्च किए गए थे । लेकिन उसके बाद किसी ने इसकी कोई भी सुध नहीं ली। जिससे यह सिस्टम शो-पीस बनकर रह गया है। रिचार्जिंग के लिए बनाए टैंक में पूरी तरह से रेत भर गई है। समाज सेवी तिलक राज अग्रवाल और अमित सिंगला ने प्रशासन से मांग की है कि वर्षा ऋतु से पहले रिचार्ज के लिए बनाए गए टैंकों की सफाई करवाए ताकि पानी खड़ा होने की स्थिति में इसका लाभ मिल सके और भूमिगत जल स्तर में सुधार हो। सिंचाई विभाग के अधिकारियों को कहना है कि जल्द ही उक्त सिस्टम को दुरुस्त कराया जाएगा।

बाबैन | भैंस चोरी की घटना पर पुलिस के खिलाफ रोष जताते ग्रामीण।

X
लाखों खर्च कर वाटर रिचार्ज सिस्टम बना भूला विभाग, अब बना महज शो पीस
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..