• Home
  • Haryana News
  • Shahbad
  • पुलिस पहरे में बिकी सब्जी, भाकियू ने फूंका पीएम का पुतला, दूधिये ने मांगी पुलिस सुरक्षा
--Advertisement--

पुलिस पहरे में बिकी सब्जी, भाकियू ने फूंका पीएम का पुतला, दूधिये ने मांगी पुलिस सुरक्षा

भास्कर न्यूज |कुरुक्षेत्र-शाहाबाद गांव बंद अभियान के तीसरे दिन भी भाकियू ने जगह-जगह प्रदर्शन किया। वहीं प्रचार...

Danik Bhaskar | Jun 04, 2018, 02:40 AM IST
भास्कर न्यूज |कुरुक्षेत्र-शाहाबाद

गांव बंद अभियान के तीसरे दिन भी भाकियू ने जगह-जगह प्रदर्शन किया। वहीं प्रचार कर किसानों से भी मदद मांगी। हालांकि मंडियों पर इस गांव बंद का ज्यादा असर नहीं दिखा। उधर भाकियू द्वारा रविवार से मंडियों में धरना देने के ऐलान के चलते पुलिस प्रशासन भी चौकस रहा।

तड़के ही मंडियों में जुटी पुलिस: भाकियू ने शनिवार को ऐलान किया था कि सभी पदाधिकारी जिलेभर की सब्जी मंडियों के गेट पर रविवार से धरना शुरू करेंगे। हालांकि शनिवार को पुलिस ने कुरुक्षेत्र मंडी में भाकियू का टेंट नहीं लगने दिया था। भाकियू की रणनीति को देखते हुए रविवार तड़के चार बजे से ही पुलिस भी मंडियों में पहुंच गई। हालांकि इस दौरान भाकियू द्वारा किसी तरह का हंगामा नहीं किया गया। रोजमर्रा की तरह ही मंडियों में कामकाज चला।

भाकियू ने फूंका पीएम का पुतला :रविवार को भाकियू ने शाहाबाद में प्रदर्शन किया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का पुतला भी फूंका। प्रवक्ता राकेश बैंस ने कहा कि सरकार ने किसानों के साथ धोखा किया है। वादे पूरा करना तो दूर, उल्टे किसानों का शोषण किया जा रहा है। इसे लेकर ही देशभर के किसान संगठनों ने मिलकर गांव बंद अभियान चलाया है। उन्होंने कहा कि जिले में इस अभियान के तहत किसी किसान को जबरन नहीं रोका जाएगा। हालांकि अब किसान खुद ही इस मुहिम से जुड़ने लगे हैं।

शाहाबाद | सब्जी मंडी में पीएम का पुतला फूंकते भारतीय किसान यूनियन के सदस्य ।

दूधियों ने मांगी सुरक्षा

पिछले कुछ दिनों में दूधियों को रोकने और उनका दूध सड़कों पर डलवाने के चलते दूधियों में भी डर है। रविवार को शाहाबाद एरिया में दूधिये एकत्रित होकर एसएचओ मलकीत सिंह से मिलने पहुंचे। उन्होंने कहा कि विभिन्न जगहों पर दूधियों के साथ हाथापाई की जा रही है। जबरन उन्हें रोका जा रहा है। कई जगहों पर दूध भी सड़कों पर गिराया। इससे नुकसान भी हो रहा है। एसएचओ ने कहा कि दूधियों को पूरी सुरक्षा दी जाएगी। किसान आंदोलन की आड़ में शरारत करने वाले तत्वों को बख्शा नहीं जाएगा। माजरी मोहल्ला में दूध गिरवाने की शिकायत मिली थी। जिसकी जांच करा रहे हैं।

शाहाबाद | एसएचओं मलकित को ज्ञापन देते दूध विक्रेता ।

भाकियू से की मीटिंग

वहीं थाना प्रभारी मलकीत सिंह ने भाकियू पदाधिकारियों के साथ मीटिंग भी की। उनसे सब्जी व दूध विक्रेताओं के साथ जबरदस्ती न करने के लिए कहा। भाकियू सदस्य जगदीश राय ने कहा कि कोई पदाधिकारी किसी तरह की जबरदस्ती नहीं कर रहा। वे लोग गांव दर गांव प्रचार कर किसानों को शांतिपूर्ण तरीके से मुहिम में शामिल कर रहे हैं। हालांकि इस तरह की घटनाओं में शरारती तत्वों का हाथ हो सकता है। ऐसे लोगों की सूचना भाकियू खुद पुलिस को देगी।