• Home
  • Haryana News
  • Shahbad
  • पत्नी को लाने उगाला गया था युवक, न भेजने पर ससुराल में ही काटी नस, मौत
--Advertisement--

पत्नी को लाने उगाला गया था युवक, न भेजने पर ससुराल में ही काटी नस, मौत

भास्कर न्यूज | कुरुक्षेत्र/शाहाबाद ससुराल से प|ी को लेने गए स्टेशन माजरी शाहाबाद वासी 24 वर्षीय युवक की सोमवार देर...

Danik Bhaskar | Jun 06, 2018, 02:55 AM IST
भास्कर न्यूज | कुरुक्षेत्र/शाहाबाद

ससुराल से प|ी को लेने गए स्टेशन माजरी शाहाबाद वासी 24 वर्षीय युवक की सोमवार देर रात संदिग्ध हालात में मौत हो गई। युवक के परिजनों ने प|ी, साढू व साले पर हत्या करने का आरोप लगाया है।

आरोप है कि उसकी प|ी के बहनोई के साथ संबंध थे। जिसका सचिन विरोध करता था। इसे लेकर ही दंपती के बीच अनबन थी। वहीं उगाला अम्बाला वासी ससुरालियों का कहना है कि सचिन ने उनके घर आकर खुद ही दाएं हाथ की नस काटी। इसके चलते गंभीर हालत में वे लोग उसे अस्पताल लेकर गए। जहां उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई। सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची। मृतक की शिनाख्त स्टेशन माजरी मोहल्ला वासी 24 वर्षीय सचिन के तौर पर हुई है। मृतक के पिता की शिकायत पर पुलिस ने सचिन की प|ी, साढू व साले के खिलाफ आत्महत्या के लिए उकसाने का मामला दर्ज किया है। आरोपियों की गिरफ्तारी न होने से परिजनों ने मंगलवार शाम शाहाबाद में थाने के सामने शव रखकर जाम लगा दिया। सूचना पर डीएसपी जगदीश राय, एसएचओ मलकीत सिंह मौके पर पहुंचे और परिजनों को समझा 10 मिनट के बाद जाम खुलवाया।

मृतक सचिन।

आरोपियों की गिरफ्तारी न होने से परिजनों ने शव रख लगाया जाम

10 माह पहले हुई थी शादी, जीजा के साथ संबंध का शक

मृतक सचिन के पिता रामकुमार ने बताया कि तीन लड़कियों के बीच सचिन इकलौता बेटा था। सचिन दिहाड़ी करता था। उसकी शादी मार्च 2017 में उगाला वासी जसविंदर कौर के साथ हुई थी। शादी के बाद जसविंद्र के बहनोई मोंटी महमूदपुर वासी (यमुनानगर) का उनके घर आना-जाना शुरू हुआ था। आरोप लगाया कि जब भी जसविंद्र मायके जाती बहनोई ही लेने आता था। उसके मायके से न तो कभी भाई आया न अन्य ससुरालिए। उन्होंने आरोप लगाया कि उसके जीजा के साथ संबंध थे। सचिन के विरोध करने के बावजूद वह हमेशा बहनोई के साथ ही मायके जाती थी। पांच दिन पहले जसविंद्र की मां, बहन मनजीत और जीजा मोंटी घर आए और जसविंद्र को साथ लेकर जाने की बात कही। सचिन के विरोध के बावजूद जसविंद्र जीजा के साथ चली गई। सोमवार को फोन आया कि गलती हो गई है और सचिन आकर प|ी को ले जाए। सचिन सोमवार शाम साढ़े सात बजे प|ी को लेने के लिए उगाला गया। रात 10 बजे उनके पास महमदपुर वासी सुखबीर का फोन आया कि सचिन की हालत गंभीर है। जिसपर वे उगाला जाने के लिए शाहाबाद से निकल पड़े, लेकिन रास्ते में ही फोन आ गया कि सचिन को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र शाहाबाद में भर्ती कराया गया है और जब वे शाहाबाद के अस्पताल में पहुंचे तो पता चला कि सचिन को एलएनजेपी कुरुक्षेत्र रेफर कर दिया गया, लेकिन वहां पर कुछ नहीं पता चला। बाद में शहर स्थित एक प्राइवेट अस्पताल में उन्हें सचिन का शव मिला।

शाहाबाद | मौत मामले में शव को सड़क पर रखकर रोष जताते परिजन।

अधिक खून बहने से गई जान

परिजनों के आरोपों के बाद पुलिस ने दो चिकित्सकों डॉ. एसएस अरोड़ा व डॉ. विनोद की टीम से पोस्टमार्टम करवाया। डॉ. विनोद ने बताया कि पहली नजर में यह युवक द्वारा नस काटने के कारण खून अधिक बहने से मौत होना लग रहा है। हालांकि विसरा जांच के लिए मधुबन भेजा है। सही मौत के कारणों का पता उससे ही चलेगा।

जल्द होगी गिरफ्तार : वीरभान

पिता रामकुमार की शिकायत पर बराड़ा पुलिस ने मृतक की प|ी, साढू मोंटी व साले मीत्ता के खिलाफ आत्महत्या के लिए उकसाने के तहत मामला दर्ज किया है। जांच अधिकारी एएसआई वीरभान ने बताया कि आरोपियों को जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा। इसके अलावा पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आधार पर आगामी कार्रवाई की जाएगी।