• Home
  • Haryana News
  • Shahbad
  • झगड़ रहे वॉल्वो बस-कैंटर के ड्राइवरों को समझाने उतरे दूसरे चालक, तभी ट्रॉले ने मारी टक्कर, 1 मौत 7 जख्मी
--Advertisement--

झगड़ रहे वॉल्वो बस-कैंटर के ड्राइवरों को समझाने उतरे दूसरे चालक, तभी ट्रॉले ने मारी टक्कर, 1 मौत 7 जख्मी

जीटी रोड पर शाहाबाद के निकट रविवार सुबह एक वॉल्वो बस और कैंटर में भिड़ंत हो गई। इस घटना के बाद दोनों के बीच कहासुनी...

Danik Bhaskar | Jul 09, 2018, 03:00 AM IST
जीटी रोड पर शाहाबाद के निकट रविवार सुबह एक वॉल्वो बस और कैंटर में भिड़ंत हो गई। इस घटना के बाद दोनों के बीच कहासुनी हो गई। यह देख वहां से गुजर रहे वाहन चालक समझौता कराने रुक गए। इसी बीच एक अन्य तेज रफ्तार ट्रॉले ने उक्त वाहन चालकों को चपेट में लेते हुए पेड़ से जा टकराया। इसमें ट्राला परिचालक की मौत हो गई। जबकि सात लोग जख्मी हो गए। घायलों में एक इजरायली महिला भी शामिल है। सूचना पर हेल्पर्स सोसाइटी टीम और पुलिस मौके पर पहुंची। मृतक की शिनाख्त राजेश निवासी हाथरस के रूप में हुई है।

पीछे से टकराया था कैंटर : रात करीब डेढ़ बजे वॉल्वो बस दिल्ली से मनाली जा रही थी। जब बस गांव शरीफ गढ़ के पास पहुंची, तो पीछे से सब्जी से लदे एक कैंटर ने बस को टक्कर मार दी। बस चालक ने अचानक से बस की गति धीमी की थी। इसी बीच पीछे आ रहे चालक को संभवत झपकी लगी, जब तक वह संभलता, कैंटर बस से जा टकराया।

कर रहे थे समझौता : इस घटना के बाद बस व ट्रॉले के चालकों के बीच कहासुनी हो गई। एक कैंटर व ट्रक के चालक भी रुक गए। उनके बीच समझौता कराने के लिए चारों ड्राइवर आपस में बातचीत कर रहे थे। इसी बीच वहां तेज रफ्तार में एक ट्रॉला उक्त चारों चपेट में ले लिया। इसके बाद ट्राला पहले कैंटर से टकराने के बाद सड़क किनारे पेड़ से टकरा गया। ट्रॉला लोहे की चादरें लेकर दिल्ली से लुधियाना जा रहा था। हादसे में ट्राला परिचालक राजेश की मौके पर ही मौत हो गई। मौके से चालक का केवल मोबाइल ही मिला, कोई अता पता नहीं चला।

इजरायली महिला भी घायल

वहीं इस हादसे में सात लोग जख्मी हो गए। इनमें चारों वाहन चालक और बस में सवार तीन यात्री भी है। घायलों में मंडी निवासी कश्मीर, कांगड़ा निवासी शिव कुमार, नोएडा निवासी मीनाल, दिल्ली निवासी विनोद व रणधीर और शिमला निवासी दविंदर शामिल है। वहीं एक इजरायली महिला भी मामूली रूप से जख्मी हुई।

शाहाबाद | दुर्घटना में घायल इजरायली नागरिक।

टॉले में लदी थी चादरें

हादसे का पता चलने पर रविवार देर शाम को ट्रॉला चालक के परिजन यहां पहुंचे। तब पता चला कि जिस परिचालक को गायब मान रहे थे, उसकी मौत हो चुकी है। जबकि ट्रॉला चालक गायब है। परिजनों ने बताया कि मरने वाला परिचालक राजेश वासी हाथरस है। जबकि चालक नरेश वासी मथुरा लापता है। आशंका जताई जा रही है कि कहीं चालक ट्राले के नीचे न दब गया हो। ट्रॉले में लोहे की भारी भरकम चादरें लदी हैं। हादसे के बाद ट्रॉला क्षतिग्रस्त हो गया है। अब पुलिस पहले चादरों को हटाने में जुटी है। हालांकि रविवार रात को अंधेरे के चलते चादरें उतारने का काम रोकना भी पड़ा।