Hindi News »Haryana »Shahbad» शुगर मिल की पर्ची वितरण में गड़बड़ी का आरोप लगा किसानों ने किया प्रदर्शन

शुगर मिल की पर्ची वितरण में गड़बड़ी का आरोप लगा किसानों ने किया प्रदर्शन

भारतीय किसान यूनियन के सदस्यों ने सोमवार को शुगर मिल में गन्ने की पर्ची वितरण में गड़बड़ी का आरोप लगाते हुए...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 01, 2018, 03:00 AM IST

शुगर मिल की पर्ची वितरण में गड़बड़ी का आरोप लगा किसानों ने किया प्रदर्शन
भारतीय किसान यूनियन के सदस्यों ने सोमवार को शुगर मिल में गन्ने की पर्ची वितरण में गड़बड़ी का आरोप लगाते हुए प्रदर्शन किया। किसानों ने आरोप लगाया कि ऑफर की पर्ची कम मिलने के कारण यह समस्या आ रही है। भाकियू प्रवक्ता राकेश बैंस ने कहा कि क्षेत्र में खड़े गन्ने का दोबारा सर्वे कराया जाए और जल्द से जल्द पर्चियां वितरित की जाएं। उन्होंने कहा कि गर्मी के कारण गन्ना सूखने लगा है और लेबर की समस्या भी है। किसानों ने आरोप लगाया कि ऑफर की पर्ची कम मिल रही हैं।

किसानों ने कहा कि कई दिनों से लेबर खाली बैठी है और शुगर मिल प्रशासन गन्ने की पर्ची नहीं दे रहा। किसानों ने आरोप लगाया कि पर्ची वितरण में गड़बड़ी हो रही है। दो एकड़ भूमि और 15 एकड़ भूमि वाले किसानों को एक ही सिस्टम से पर्ची भेजी जा रही है, यह गलत है। इसलिए शुगर मिल प्रशासन सही सिस्टम के साथ पर्ची बांटे, ताकि वह ठीक समय पर गन्ना डाल सकें।

गन्ना प्रबंधक से मिले किसान : इसके बाद भाकियू प्रवक्ता और कार्यकारी राज्य प्रधान कर्म सिंह मथाना के नेतृत्व में किसान गन्ना प्रबंधक जेएस ढींढसा से मिले और अपनी समस्या को उनके सामने रखा। गन्ना प्रबंधक ने कहा कि सभी कर्मचारी दिन-रात काम में जुटे हैं और जिस किसान का गन्ना खत्म हो गया है कर्मचारी उससे पर्ची वापस मंगवा रहे हैं। उन्होंने कहा कि किसानों की समस्या का जल्द समाधान किया जाएगा। एमडी सुजान सिंह ने कहा कि वे इसकी जांच करवाएंगे और किसानों को कोई भी परेशानी नहीं होने देंगे। उन्होंने किसानों के सुझावों को मानते हुए सर्वे लिस्ट को सार्वजनिक तौर पर बोर्ड पर चस्पा करने के भी आदेश दिए। वहीं एक शिकायत पेटी भी स्थापित करवाई, जिसमें किसान अपनी समस्या लिखकर डाल सकते हैं। उन्होंने किसानों को आश्वासन दिया कि मिल क्षेत्र में खड़े पूरे गन्ने की पिराई करने के बाद ही बंद होगी। जिसके बाद ही किसान संतुष्ट हुए।

शाहाबाद | मांगों को लेकर बैठक कर रोष जताते किसान।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Shahbad

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×