Hindi News »Haryana »Sirsa» थानों में भेजी ई मशीन, बुक से नहीं कटेंगे चालान

थानों में भेजी ई मशीन, बुक से नहीं कटेंगे चालान

पुलिस विभाग ने अपनी सुविधाओं को लगातार हाइटेक करने का निर्णय लिया हुआ है। पहले आमजन को एफआईआर दर्ज करवाने सहित 10...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 01, 2018, 03:40 AM IST

थानों में भेजी ई मशीन, बुक से नहीं कटेंगे चालान
पुलिस विभाग ने अपनी सुविधाओं को लगातार हाइटेक करने का निर्णय लिया हुआ है। पहले आमजन को एफआईआर दर्ज करवाने सहित 10 महत्वपूर्ण सुविधाएं ऑनलाइन प्रदान की हुई है। वहीं अब चालान काटने के मैनुअल सिस्टम को बंद करने का फैसला लेते हुए सभी थानों में ई चालान मशीन भेजने के आदेश लागू कर दिए हैं।

अब पुलिस के जवान बुक से चालान नहीं करेंगे। वाहन चालकों का चालान काटने के लिए ई मशीन का ही प्रयोग करना होगा। हालांकि ट्रैफिक थाना पुलिस पहले से ही ट्रायल के तौर पर इसका प्रयोग करती आ रही है। अब जिले के सभी थानों और चौकियों में यह सुविधा देने का निर्णय लिया है। यातायात नियमों की अवहेलना करने पर अब पुलिस चालान करेगी तो वाहन चालक बिना नगदी के ही अपनी जुर्माना राशि ई चलानिंग मशीन के माध्यम से भर सकता है। यानि चालान भरने के लिए वह अपना एटीएम कार्ड, क्रेडिट कार्ड और डेबिट कार्ड का प्रयोग करके अपने खाते से जुर्माना राशि कटवा सकता है। वहीं नगद राशि भी देकर मौके पर ही भुगतान हो सकेगा। इससे वाहन चालक को दो फायदे होंगे। एक तो उसे चालान भरने के लिए एसपी कार्यालय के पास बनी चालान ब्रांच में नहीं जाना पड़ेगा। वहीं दूसरा लंबी लाइन में भी खड़ा नहीं होना पड़ेगा। बात अगर पिछले दो साल की करें तो शहर की ट्रैफिक व्यवस्था सुधारते हुए सालभर में ही करीब 55 हजार से अधिक चालान किए थे। दो साल में करीब एक लाख वाहन चालकों के चालान हुए। अब उनकी जगह ट्रैफिक थाना का प्रभार इंस्पेक्टर जयभगवान के पास है। पिछले एक महीने में करीब 3 हजार से अधिक चालान काटे गए हैं। यहां बता दें कि अब तक मैनुअल तरीके से चालान काटे जाते थे। इसलिए जब वाहन चालक चालान भरने जाते हैं तो खिड़की पर लाइनें लग जाती है। इस कारण उसका समय भी व्यर्थ जाता था। अब ऐसा नहीं होगा।

एक साल में ट्रैफिक पुलिस ने 50 हजार से अधिक वाहनों के काटे थे चालान, अब रफ्तार धीमी

भगवान परशुराम चौक पर बिना हेलमेट बाइक चलाने पर चालान काटते इंस्पेक्टर अशोक कुमार।

ये सेवाएं अब ऑनलाइन हुईं

चरित्र प्रमाण का सत्यापन।

किरायेदार एवं पीजी का सत्यापन।

घरेलू सहायता या नौकर का सत्यापन।

कार्यक्रम आयोजन का अनुरोध।

निजी सुरक्षा एजेंसी का सत्यापन।

कर्मचारी का सत्यापन।

जुलूस निकालने की अनुमति।

विरोध एवं हड़ताल अनुरोध।

पासपोर्ट वेरिफिकेशन

ट्रैफिक थाने में आ गई है मशीन

जी हां अब विभाग में मैनुअल सिस्टम खत्म करके ई मशीन से चालान किए जाएंगे। ट्रैफिक थाना में मशीन आ गई है। सभी थानों में मशीन भेजकर आदेश लागू किए जाएंगे। ’’ नरेंद्र बिजारणियां, एएसपी, सिरसा

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Sirsa

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×