• Hindi News
  • Rajya
  • Haryana
  • Sirsa
  • Sirsa News haryana news do not know the police jagnamwali39s elderly knowledge center knows where to come from and where to sell it drug

पुलिस को नहीं, जगमालवाली की बुजुर्ग ज्ञानाकौर को पता है कहां से आता और कहां बिकता है नशा

Sirsa News - जिस प्रकार निकटवर्ती राज्य पंजाब नशे की वजह से ‘उड़ता पंजाब’ के रूप में प्रचलित हो चुका है। उसी तर्ज पर अब हमारा...

Bhaskar News Network

Jul 14, 2019, 08:40 AM IST
Sirsa News - haryana news do not know the police jagnamwali39s elderly knowledge center knows where to come from and where to sell it drug
जिस प्रकार निकटवर्ती राज्य पंजाब नशे की वजह से ‘उड़ता पंजाब’ के रूप में प्रचलित हो चुका है। उसी तर्ज पर अब हमारा जिला भी ‘नशे में डूबता सिरसा’ बन रहा है। इसका चिंताजनक पहलू यह भी है कि जिला में नशा का कारोबार करने वालों की पुलिस को खोज खबर तक नहीं है, मगर कालांवाली थाना के अंतर्गत आने वाले गांव जगमालवाली की एक 70 वर्षीय बुजुर्ग महिला तस्करों के ठिकाने से लेकर उनके रास्ते तक भी बता देती है। जहां से तस्कर चिट्‌टा लाकर गांव के युवकों में बेचते हैं।

ऐसा ही एक मामला जगमालवाली में आया है। गांव की एक बूढी महिला एक वीडियो में चिट्टा यानि हेरोइन बेचने वालों के नाम और उनके ठिकानों के बारे में बता रही है और पुलिस को उनकी मुखबरी तक नहीं है। महिला का यह वीडियो पुलिस को चैलेंज कर रहा है। वहीं पुलिस की कार्यप्रणाली भी संदिग्ध होने का सबूत बन रहा है। महिला का यह वीडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है। पुलिस ने भी वीडियो में खुद की किरकिरी होती देख। बुजुर्ग महिला की ओर से बताए गए ठिकानों पर शनिवार को ताबड़तोड़ छापेमारी की, मगर वीडियो वायरल होने के बाद तस्कर अलर्ट थे। पुलिस को वहां से खाली हाथ ही लौटना पड़ा। दरअसल जगमालवाली की 70 वर्षीय महिला ज्ञानाकौर एक वीडियो में तस्करों के बारे में बता रही है। वीडियो अब तक हजारों लोगों ने वायरल किया है।



नशे में डूबता सिरसा

मै तां एही कैंदी आ जिनी छेती हो जगमालवाली नूं सुधारो

एसएसपी ने लिया एक्शन तीन टीमों ने की छापेमारी

महिला की ओर से जिस प्रकार जगमालवाली में खुलेआम चिट्टा बेचने और पीने की बात वीडियो में पुलिस विभाग के अधिकारियों ने सुनी। तुरंत एसएसपी सिरसा की ओर से एक्शन लिया गया और दो तीन टीमें गठित करके महिला की ओर से बताए गए तस्करों के ठिकानों पर दबिश दी। पहले से ही अलर्ट बैठे तस्करों के पास मौके पर पुलिस को कुछ नहीं मिला। पुलिस ने उन लोगों को सख्त लहजे में चेतावनी देते हुए। इस कारोबार को बंद करने का आदेश दिया। वहीं एसएसपी ने भी उस इलाके में स्पेशली निगरानी रखने के आर्डर जारी किए हैं।

जिले के 200 से अधिक गांव में फैल चुका चिट्टे का नशा, पुलिस ने 6 महीने में 350 तस्करों को भेजा सलाखों के पीछे

गांव का इंद्रजीत, बाबू कलिहार कोठी चोरमार दे राह ते पाली चिट्टा बेच बेच दिल्ली ओं लाके, दिल्ली आली बस चढदा है, ओधर दिन चढयां राह चे बस खड़ दी है। चोरमार उतर दा है , पोता मेरा तीन बारी लेके आया स्कूटर ते, फैर मेरे पोते नूं लेके जांदा सी दिल्ली, आपां उथे बैठक लवांगे, फैर मैं मेरे पोते पीछे पई। खड़ जा तैनू देनी है मत मैं। जगमालवाली विच जिना चिट्टा उड़दा है ओना कित्ते वी नी उड़दा। लंडर पिंड है। सारा ही चोर, बदमाश। तैनू मैं दसां चेहरे स्याही जित्थे मरजी अखवा ली मैंथों। हां एंदा इंतजाम करो जगमालवाली दा तुसी। बीस बीस साल के साढे़ बच्चे, बारह बारह साल दे साढे़ बच्चे अज जैडे़ हत्थां तों निकले ने वे चिट्टा पिंदे व खांदे हैं, बेचन भी जांदे ने। दो बार मुफ्त चे देंदे ने। तीजी बारी पैसे लेंदे ने। जै सुधर दे जगमालवाली नूं सुधारो, नी तां आगे वोटां चूल्हे ते ढावां गे। बुजुर्ग महिला का यह वीडियो अब तक हजारों लोगों ने वायरल किया है।'' - जैसा की जगमालवाली की ज्ञानाकौर ने वायरल वीडियो में कहा।

3 से 5 हजार रुपये प्रति ग्राम के हिसाब से बिकता है दिल्ली-पंजाब से लाया चिट्‌टा

बुजुर्ग महिला का वीडियो वायरल होने के बाद दैनिक भास्कर की टीम ने गांव जगमालवाली में जाकर ग्राउंड रिपोर्ट की। ग्रामीणों से बातचीत करने से पता लगा कि महिला की ओर से वीडियो में कही गई बातें बिल्कुल ठीक है। गांव में नशा चरम सीमा पर है। युवाओं में लगातार नशा फैल रहा है। गांव में ही तस्कर है। चिट्टा नई दिल्ली और पंजाब से लेकर आते हैं। 3 हजार रुपये से लेकर 5 हजार रुपये तक एक ग्राम बेच रहे हैं। वहीं इस संबंध में गांव के सरपंच प्रतिनिधि गुरदेव सिंह ने भी माना कि बुजुर्ग महिला ठीक कह रही है। गांव में चिट्टे का प्रकोप बढ़ रहा है। पुलिस को सूचना दी जाती है। पुलिस कार्रवाई भी करती है। फिर भी तस्कर मान नहीं रहे हैं। इस वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस ने गांव में छापेमारी भी की है। ग्राम पंचायत लोगों को जागरूक कर रही है।

हालांकि एसएसपी डॉ. अरूण नेहरा ने जिला में नशा तस्करी के खिलाफ अभियान छेड़ रखा है। एसएसपी खुद मानते हैं कि सिरसा के 360 गांव में से करीब 200 से अधिक गांव चिट्टे की चपेट में आ चुके हैं। वे ग्राम पंचायतों के साथ लगातार मीटिंग करके तस्करों को पकड़वाने और ग्रामीणों को जागरूक करने का संदेश दे रहे हैं। एसएसपी डॉ. अरूण सिंह बताते हैं कि पिछले 7 महीनों में उन्होंने एनडीपीएस के 265 केस दर्ज किए हैं। जिनमें 350 नशा तस्कर पकड़कर सलाखों के पीछे भेजे हैं। डॉ. नेहरा का मानना है कि पुलिस की मुहिम रंग ला रही है। अभी 20 प्रतिशत कामयाबी मिली है। अगले कुछ महीनों में वे इस पर और अधिक लगाम लगाएंगे। उन्होंने लोगो से नशा तस्करों के बारे में सूचना देने की भी अपील की है।

रानियां में भी पार्क और अस्पतालों के शौचालय बने हैं नशेड़ियों के अड्‌डे

चिट्टा का नशा करने वाले व्यक्ति से प्रयोग करने के लिए पार्क या अस्पताल के शौचालय में जाकर इंजेक्शन लगाते हैं। हाल ही में रानियां का एक वीडियो भी वायरल हुआ था। जिसमें पार्क के शौचालय में जाकर तीन युवक चिट्टे का इंजेक्शन ले रहे थे। इसके अलावा वे कोई सुनसान जगह तलाशते हैं जहां हवा ना लगती हो। डॉक्टरों के मुताबिक जो चिट्टे का इंजेक्शन लेने लग जाता है उसकी लाइफ दो या तीन साल तक ही होती है। नशे के कारण उसकी मौत हो जाती है।

रानियां में पार्क के शौचालय में इंजेक्शन से नशा करते युवक।

Sirsa News - haryana news do not know the police jagnamwali39s elderly knowledge center knows where to come from and where to sell it drug
X
Sirsa News - haryana news do not know the police jagnamwali39s elderly knowledge center knows where to come from and where to sell it drug
Sirsa News - haryana news do not know the police jagnamwali39s elderly knowledge center knows where to come from and where to sell it drug
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना