एलईडी सप्लाई न होने के कारण स्ट्रीट लाइटें बदलने के काम पर लगा ब्रेक

Sirsa News - शहरी क्षेत्र में स्ट्रीट लाइट बदलने का काम धीमा हो गया है। इस कारण आधा शहर अभी भी रात को अंधेरे में डूब जाता है।...

Bhaskar News Network

Jul 14, 2019, 08:40 AM IST
Sirsa News - haryana news due to lack of led supply the brake on the change of street lights
शहरी क्षेत्र में स्ट्रीट लाइट बदलने का काम धीमा हो गया है। इस कारण आधा शहर अभी भी रात को अंधेरे में डूब जाता है। शहरी क्षेत्र में स्ट्रीट लाइट को एलईडी में कन्वर्ट करने का काम एलईडी लाइट की सप्लाई न मिलने और डिमांड बढ़ने के कारण बीच में रुक गया है। इतना ही नहीं नये पोल लगाने का काम भी नगर परिषद की ओर से किया जाना है जिसका प्रस्ताव तैयार कर भेजा जाएगा।

शहरी क्षेत्र में स्ट्रीट लाइट की समस्या लंबे समय से चल रही थी। पुरानी लाइट कहीं खराब थी तो कहीं धीमी रोशनी थी। सोडियम लाइट की रोशनी के बजाय एलईडी लगाने की सरकार ने मंजूरी दी और साढ़े 3 करोड़ के बजट से यह काम शुरू किया गया। हालांकि अधिकारियों का दावा है कि स्ट्रीट लाइट बदलने का काम 80 प्रतिशत पूरा हाे चुका लेकिन सच्चाई ये है कि अभी आधे शहर में काम अधूरा है।

हिसार रोड जहां पर लगाईं जाएगी स्ट्रीट लाइटें।

हिसार रोड पर आधे पोल लगाकर बीच में रोका काम

हिसार रोड पर बस स्टैंड से लेकर अनुमान मंदिर तक पुराने पोल खस्ताहाल थे। इसलिए इन पोल को बदलने का काम भी किया गया। लेकिन पोल बदले हुए दो माह हो चुके हैं लेकिन अभी तक इन पर नई एलईडी लाइट नहीं लगाई गई। इतना ही नहीं हनुमान मंदिर से महाराणा प्रताप चौक की ओर डिवाइडर पर लगने वाले नए पोल को लेकर भी ऑब्जेक्शन लग गया। सूत्र बताते हैं कि यह टेंडर पोल और स्ट्रीट लाइट बदलने का है जबकि हनुमान मंदिर से दिल्ली पुल तक नए पोल लगाए जाने हैं। इसलिए यह काम बीच में रोक दिया गया। अब नप प्रशासन इस काम के लिए नये सिरे से प्रस्ताव बनाकर विभाग को भेजेगा।

वार्डों में चल रहा काम, सैंपलिंग भी हो चुकी

शहर के मुख्य बाजारों को छोड़कर अभी विभिन्न वार्डों की गलियों में स्ट्रीट लाइट बदलने का काम चल रहा है। मुख्य बाजारों में आखिरी चरण में स्ट्रीट लाइट बदलने का काम किया जाएगा। अभी तक हिसार रोड, रानियां राेड, आईटीआई रोड, महाराणा प्रताप चौक से बरनाला रोड की ओर जाने वाला हुडा रोड पर भी स्ट्रीट लाइट बदलने का काम पेंडिंग है। हालांकि नगर परिषद प्रशासन की ओर से स्ट्रीट लाइट की गुणवत्ता की जांच के लिए पिछले माह सैंपलिंग भी की जा चुकी है। इन सैंपल को जांच के लिए लेबोरेट्री में भेजा जा चुका है। नगर परिषद के एमई श्रवण कुमार ने बताया कि स्ट्रीट लाइट की सप्लाई में दिक्कत है, इसलिए अभी काम कुछ धीमा चल रहा है। उन्होंने कहा कि स्ट्रीट लाइटों का स्टॉक आने पर तेजी से बदली जाएंगी।

किस वॉट की कितनी लगाईं जा रही लाइटें

स्ट्रीट लाइट एलईडी लाइट

संख्या का वॉट

4782 20

72 40

1180 80

560 120

276 180

मंजूरी के बाद होगा काम


X
Sirsa News - haryana news due to lack of led supply the brake on the change of street lights
COMMENT