Hindi News »Haryana »Sirsa» डायलिसिस कराने के नाम पर ले िलए दो हजार रुपये, शिकायत पर देने पड़े वापस

डायलिसिस कराने के नाम पर ले िलए दो हजार रुपये, शिकायत पर देने पड़े वापस

जिला नागरिक अस्पताल में स्थापित डायलिसिस सेंटर के एक कर्मचारी पर मरीज के परिजनों से दो हजार रुपये मांगने का आरोप...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 18, 2018, 02:55 AM IST

जिला नागरिक अस्पताल में स्थापित डायलिसिस सेंटर के एक कर्मचारी पर मरीज के परिजनों से दो हजार रुपये मांगने का आरोप लगा है। इसके अलावा 1600 रुपये लिए जाने का मामला भी उजागर हुआ है। जिसकी रसीद मांगे जाने पर कर्मचारी की ओर से हंगामा किए जाने के आरोप लगे हैं। हालांकि यह मामला सिविल सर्जन डॉ. गोबिंद गुप्ता के संज्ञान में आने के बाद उक्त कर्मचारी ने मरीज के इलाज की एवज में ली राशि वापस कर दी। लेकिन परिजनों ने दोषी कर्मचारी के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है।

फतेहाबाद निवासी महिला अमिता प|ी महावीर प्रसाद पिछले काफी समय बीमार है। उसका इलाज सिरसा के नागरिक अस्पताल के डायलिसिस सेंटर से चलता था। महिला के परिजनों ने बताया कि अमिता की सेंटर से सात बार डायलिसिस करवाई है। मरीज के परिचित गांव फतेहाबाद निवासी पंकज सिंगला ने बताया कि परिवार बेहद गरीब है और विभागीय हिदायतों के अनुसार महिला का इन्कम सर्टिफिकेट भी बना रखा है। लेकिन उसके बावजूद भी हर बार सेंटर में उससे 1143 रुपये डायलिसिस के लिए जाते रहे हैं। गुरुवार को डायलिसिस के लिए अमिता को भर्ती करवाया। लेकिन उसकी एवज में सेंटर के एक कर्मचारी ने दो हजार रुपये की राशि मांगी। मरीज के परिजनों ने आरोप लगाया कि कर्मचारी ने 1600 रुपये उनसे लिए। जब उसकी रसीद देने की बात कही, तो उक्त कर्मचारी ने उनके साथ अभद्र व्यवहार किया। मामले की शिकायत सिविल सर्जन डॉ. गोबिंद गुप्ता को दी, तो कर्मचारी ने पैसे वापस भी कर दिए। मरीज के परिचित पंकज सिंगला ने मामले की जांच करवाकर दोषी के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की है।

अगस्त 2017 से संचालित हैं सेंटर

नागरिक अस्पताल में पीपीपी(पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप) मोड पर डायलिसिस सेंटर अगस्त 2017 से संचालित है। यहां हर महीने 250 के करीब मरीज डायलिसिस कराने आते हैं। सरकार के साथ कंपनी के करार मुताबिक सस्ते दाम पर मरीजों को डायलिसिस की सुविधा दी जाती है। जिसमें दोनों कैटेगरीज में डायलिसिस के 1043 व 1143 रुपये निर्धारित हैं। इसके अलावा बीपीएल कार्ड धारक एवं इन्कम सर्टिफिकेट देने पर यह डायलिसिस की सुविधा मरीजों को मुफ्त दी जाती है।

मामला आया था, लेकिन उन्हें ज्यादा जानकारी नहीं

उनके सामने किसी मरीज से पैसे मांगने वाला मामला आया था, लेकिन उन्हें ज्यादा जानकारी इस बारे में नहीं है। सेंटर में नियमानुसार जो राशि मरीज से ली जाती है, उसकी रसीद दी जाती है। बीपीएल मरीजों को मुफ्त डायलिसिस सुविधा भी सेंटर दी जाती है। वहीं इन्कम सर्टिफिकेट पर भी ऐसी छूट देने का प्रावधान है। '' डॉ. अजय कुमार, डायलिसिस सेंटर।

संबंधित ऑथोरिटी को मार्क कर दी है शिकायत

अस्पताल में स्थापित डायलिसिस सेंटर में मरीज के परिजनों से 2 हजार रुपये मांगने के मामले की शिकायत आई है। जोकि संबंधित ऑथोरिटी को मार्क कर दी है। इसके अलावा कर्मचारी को फटकार लगाते हुए पैसे वापस भी दिलवा दिए हैं। '' -डॉ. गोबिंद गुप्ता, सिविल सर्जन, सिरसा।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Sirsa

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×