--Advertisement--

गैर कर्मचारी ने काटे मंडी के फर्जी गेट पास, डीएमईओ ने मांगा जवाब

रतिया की अनाज मंडी में धान के से भरी गाडिय़ों के फर्जी गेट पास मामले में जींद के डीएमओ हवा सिंह खोबड़ा ने रतिया...

Dainik Bhaskar

Nov 11, 2018, 02:37 AM IST
Ratiya - non staffed fake gate pass of kate mandi dmeo asked for response
रतिया की अनाज मंडी में धान के से भरी गाडिय़ों के फर्जी गेट पास मामले में जींद के डीएमओ हवा सिंह खोबड़ा ने रतिया मार्केट कमेटी से जवाब मांगा है। इसे लेकर डीएमओ हवा सिंह खोबड़ा ने शनिवार को पत्र जारी किया है। मामले की जानकारी हरियाणा राज्य कृषि विपणन बोर्ड हिसार को भी भेजी गई है।

मार्केट कमेटी को डीएमईओ द्वारा जारी किये गये पत्र में कहा गया है कि 9 नवंबर को मार्केट कमेटी रतिया नोटिफाइड ऐरिया में निरीक्षण करने पर अनेक तरह की कमिया व खामिया पाई गई है। निरीक्षण के दौरान रतिया के एक राइस मिल की पर्ची पाई गई। जिसमें राजस्थान की गाड़ी के नंबर पर 8 नवंबर को 720 बैग धान के थे। इसके अलावा कोई कागजात नहीं था। उसके बाद बुक नंबर 58 से फर्जी तरीके से गेट पास जारी करवा लिया। जिस पर मार्केट कमेटी के सचिव के हस्ताक्षर नहींं है।

गेट पास जिस कर्मचारी द्वारा जारी किया गया है वह सरकारी कर्मचारी नही है। इसके अलावा हरियाणा नंबर 6 गाडिय़ा नथवान व हैफेड के गोदाम में खड़ी की गई है। डीएमईओ ने कहा कि उक्त गाडिय़ों की जांच पड़ताल कर अगर इनकी मार्केट फीस, एचआरडीएफ व जुर्माना बनता है तो राशि जमा करवाने से पहले इस मामले में की गई कार्रवाई रिपोर्ट पहले चेक करवा ले। रिपोर्ट चेक करवाने के बाद ही फीस जमा करवाए और बाद में फिर से रिपोर्ट चेक करवाए। उधर मार्केट कमेटी के सचिव चरण सिंह गिल का कहना है कि पूरा काम ईमानदारी से हो रहा है। खरीद आदि में कोई गड़बड़ी नहीं है बल्कि वे खुद समय समय पर जाकर जायजा ले रहे है।

हर रोज रिपोर्ट जेडएमईओ कार्यालय को भेजे

जींद के डीएमईओ को हवा सिंह खोबड़ा को मार्केटिंग बोड पंचकूला के मुख्य प्रशासक ने रतिया अनाज मंडी का अतिरिक्त चार्ज दिया है। इसको लेकर 2 नवंबर को पत्र जारी किया गया है। हवा सिंह पहले भी अनाज मंडी में सचिव के तौर पर रह चुके है।

मौजूदा समय में वे जींद के डीएमईओ है। उन्हें धान के सीजन के दौरान अनाज मंडी व खरीद केद्रों पर जायजा लेने व गड़बड़ी मिलने पर कार्रवाई की हिदायत दी गई है। कहा गया है कि पंजाब व यूपी से आने वाले धान फर्जी गेट पास बिलिंग,,खरीद व अन्य फर्जीवाड़ा को रोका जाए। उन्हें कहा है कि वे सीधे तौर पेपर चेकिंग करे। हर रोज चेकिंग कर रिपोर्ट जेएडएमईओ कार्यालय को भेजी जाए। उल्लेखनीय है कि रतिया क्षेत्र धान बहुल क्षेत्र है। धान के सीजन में मार्केट कमेटी में अधिकारियों व कर्मचारियों की उठापटक आम बात है। कई बार को हर दूसरे तीसरे दिन अधिकारी व कर्मचारी बदले जाते है। बदले गये अधिकारी व कर्मचारी फिर सिफारिश करवा कर वापस आ जाते है और वे रोड़े अटकाने वाले कर्मचारियों व अधिकारियों का दूसरी जगह भेजने के प्रयास में रहते है।

X
Ratiya - non staffed fake gate pass of kate mandi dmeo asked for response
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..