Hindi News »Haryana »Sohna» सरसों खरीद पर हो रहा है खिलवाड़:गोपीचंद गहलोत

सरसों खरीद पर हो रहा है खिलवाड़:गोपीचंद गहलोत

गुड़गांव. जिला उपायुक्त निवास पर अपनी मांगों को लेकर पहुंचे किसान नेता भास्कर न्यूज|गुड़गांव इंडियन नेशनल...

Bhaskar News Network | Last Modified - Mar 30, 2018, 02:05 AM IST

गुड़गांव. जिला उपायुक्त निवास पर अपनी मांगों को लेकर पहुंचे किसान नेता

भास्कर न्यूज|गुड़गांव

इंडियन नेशनल लोकदल के शिष्ट मण्डल ने जिले के हैलीमण्डी, फर्रुखनगर, सोहना व तावडू सहित सभी मंडियों का जायजा लेने के बाद गुरुवार को जिला उपायुक्त से कैम्प कार्यालय में जाकर मुलाकात की। इनेलो नेताओं ने उन्हें किसानों व व्यापारियों की समस्याओं से अवगत कराया। इनेलो के वरिष्ठ नेता व पूर्व डिप्टी स्पीकर गोपीचंद गहलोत की अगुवाई में इनेलो के शिष्ट मण्डल ने सरसों की खरीद में किसानों के साथ हो रही लूट को लेकर डीसी विनय प्रताप सिंह को ज्ञापन भी दिया। इस दौरान इनेलो के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष अनन्तराम तंवर, गंगाराम पूर्व विधायक, प्रधान महासचिव रमेश दहिया, किसान सेल जिलाध्यक्ष राजेन्द्र धनखड़, शैलेश खटाणा चेयरमैन, अटलबीर कटारिया, रूपचंद प्रधान, मनोज, कपिल त्यागी प्रवक्ता व पवन पंडित धनकोट उपस्थित थे। गहलोत ने कहा कि सरसों की खरीद सरकार द्वारा निर्धारित समर्थन मूल्य पर नहीं हो रही है। जिले की विभिन्न अनाज मंडियों से संकलित आंकड़ों के अनुसार अब तक इस सीजन में व्यापारियों द्वारा करीब 50 हजार क्विंटल सीधा किसानों से 3100 से 3400 रुपए प्रति क्विंटल की दर पर खरीदा गया है। दूसरी ओर सरकार द्वारा निर्धारित समर्थन मूल्य 4000 प्रति क्विंटल है। इस प्रकार सरसों की खरीद पर किसान को प्रति क्विंटल 600 से 900 रुपए की हानि उठानी पड़ी है। सरकार अब तक इस सीजन में विभिन्न अनाज मंडियों में विक्रय के लिए किसानों द्वारा लाए सरसों का एक प्रतिशत भाग भी निर्धारित समर्थन मूल्य पर नहीं खरीदा है। इनेलो ने मांग की है कि निर्धारित समर्थन मूल्य पर सरसों की खरीद की जाए। व्यापारियों द्वारा पहले जो सरसों किसानों से खरीद चुके है, उस खरीद में अंतर के एरियर भुगतान अविलंब किसानों को किया जाए।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Sohna

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×