Hindi News »Haryana »Sohna» प्लस 55 वर्ग में अजीत कादयान ने जीते एक गोल्ड व दो सिल्वर मेडल

प्लस 55 वर्ग में अजीत कादयान ने जीते एक गोल्ड व दो सिल्वर मेडल

गुड़गांव | राजस्थान के अलवर जिला में यूवरानी एथलेटिक समिति की तरफ से आयोजित 9वीं मास्टर एथलेटिक प्रतियोगिता में...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 14, 2018, 02:05 AM IST

प्लस 55 वर्ग में अजीत कादयान ने जीते एक गोल्ड व दो सिल्वर मेडल
गुड़गांव | राजस्थान के अलवर जिला में यूवरानी एथलेटिक समिति की तरफ से आयोजित 9वीं मास्टर एथलेटिक प्रतियोगिता में गुड़गांव की अजीत कादयान ने तीन मेडल हासिल किए हैं। प्रतियोगिता में अजीत प्लस 55 आयु वर्ग में हिस्सा लिया। वहीं शॉटपुट इवेंट में गोल्ड मेडल व डिस्कस थ्रो इवेंट और 400 मीटर दौड़ में सिल्वर हासिल किया। दरअसल अलवर की महारानी की याद में यह प्रतियोगिता हर वर्ष आयोजित होती है और इसमें युवाओं से लेकर मास्टर्स एथलेटिक के अलग-अलग मुकाबले शामिल होते हैं। प्रतियोगिता में हरियाणा व राजस्थान और दिल्ली, उत्तर प्रदेश के प्रतिभागी शामिल होते हैं।

साहसिक कैंप में विभिन्न खेलों के गुर सीख कर लौटे मेवात के 30 बच्चे

तावड़ू | शिक्षा विभाग की ओर से 2 फरवरी से 9 फरवरी तक हुए 20 वें अंतरराष्ट्रीय साहसिक कैंप में मेवात के 30 छात्रों के दल ने भाग लिया। यह कैंप पंचमढ़ी (सतपुड़ा की रानी) मध्य प्रदेश में आयोजित किया गया। इस दौरान बच्चों ने कैंप का भरपूर आनंद लिया। कैंप में प्रतिभागी गांव पढैनी के राजकीय उच्च विद्यालय के अंग्रेजी प्रवक्ता ने बताया कि कैंप में बच्चों ने क्लाइंबिंग, रैपलिंग, वैली क्रॉसिंग, घुड़सवारी, राइफल शूटिंग, तीरंदाजी आदि करना सीखा। बच्चों ने विभिन्न जगहों पर ट्रैकिंग भी की। बच्चों व प्रतिभागी अध्यापकों ने जिला शिक्षा अधिकारी डाक्टर दिनेश शास्त्री व जिला मौलिक शिक्षा अधिकारी अनूप सिंह जाखड़ का आभार व्यक्त किया। इस कैंप में विनोद कुमार, रेनू बाला, ओम सिंह सहित बच्चों ने भाग लिया।

पहलवान बिरजू और अजय के बीच हुई 51 हजार रुपए की कुश्ती बराबरी पर छूटी

सोहना स्थित देवीलाल स्टेडियम में इंदर पहलवान की याद में 18वां विशाल कुश्ती दंगल का आयोजन

भास्कर न्यूज | गुड़गांव

सोहना स्थित देवीलाल स्टेडियम में इंदर पहलवान की याद में 18वां विशाल कुश्ती दंगल का आयोजन किया गया। इस दंगल में कई अखाड़ों और अन्य प्रदेशों से आए पहलवानों ने दांव-पेच आजमाए। सोमवार देर शाम तक चले दंगल में अंतिम मुकाबला दर्शकों के आकर्षण का केंद्र बना रहा। कुश्ती दंगल में सबसे बड़ी कुश्ती 31 हजार रुपए से बढ़ाकर 51 हजार रुपए तक पहुंच गई। दंगल गांव लाखूवास निवासी गुरु इंदर अखाड़े के अजय पहलवान और दिल्ली गुरु बदरी अखाड़े के बिरजू पहलवान के बीच हुई। दर्शकों की मांग पर दोनों पहलवानों के बीच कड़ा मुकाबला रहा। इस मुकाबले के लिए दर्शकों ने तय समय को बढ़ाने के लिए आग्रह किया, लेकिन इसके बावजूद भी कुश्ती बराबरी पर छूटी। इसके अलावा कुश्ती दंगल में 21 हजार रुपए की कुश्ती गांव लाहड़पुर ग्रुप मोटा अखाड़ा से आए राजू पहलवान और सोहना गुरू धरमू अखाड़े से आए लक्ष्मण पहलवान के बीच हुई जिसमें राजू पहलवान को चित कर लक्ष्मण ने इस मुकाबले को जीत ली। 21 हजार रुपए वाली दूसरी कुश्ती राजस्थान के अलवर से आए पहलवान सरदार गुरदीप सिंह और दिल्ली के पहलवान के बीच हुई। तय समय तक एक दूसरे को चित नहीं कर पाने पर कुश्ती बराबरी पर छूट गई। वहीं 11 हजार रुपए की कुश्ती गांव बादशाहपुर स्थित गुरु रामोतार अखाड़े के सोनू पहलवान और गांव लाहड़पुर देवा पहलवान के बीच हुई, लेकिन दोनों पहलवान टक्कर के थे और यह कुश्ती भी बराबरी पर छूटी। वहीं 11 हजार की दूसरी कुश्ती सोहना के गुरु इंदर अखाड़ा के रवि पहलवान और पलवल के गुरु समुंदर अखाड़े से आए भैरा पहलवान के बीच हुई। यह कुश्ती भी निर्धारित समयावधि में दोनों पहलवानों के बराबरी पर रहने से बराबर पर छोड़ दी गई।

दिव्यांग क्रिकेट को बढ़ावा|देश की 4 टीम दिल्ली सुल्तान, यूपी स्ट्राइकर, चंडीगढ़ लायंस व साउथ वारियर्स होंगी शामिल

आईपीएल की तर्ज पर गुड़गांव में पहली बार व्हील चेयर प्रीमियर क्रिकेट लीग

दीपक पांडेय|फरीदाबाद Deepak.kumar3@dhrsl.com

आईपीएल की तर्ज पर देश में पहली बार व्हीलचेयर क्रिकेट प्रीमियर लीग होगी। पैरा स्पोर्ट्स फाउंडेशन की ओर से होने वाली लीग के पहले चरण में देश की चार टीमें भाग लेंगी। प्रतियोगिता 16 से 18 फरवरी तक गुड़गांव के लेंसर स्कूल में होगी। लीग में दिल्ली सुल्तान, यूपी स्ट्राइकर, चंडीगढ़ लायंस और साउथ वारियर्स टीम शामिल होंगी।

पैरा स्पोर्ट्स फाउंडेशन के महासचिव प्रदीप राज के मुताबिक दिव्यांग खिलाड़ियों के क्रिकेट मुकाबले अक्सर आयोजित होते हैं। जबकि अलग-अलग राज्यों की सरकार भी दिव्यांग क्रिकेट को बढ़ावा देने के लिए काफी काम कर रही हैं। लेकिन अभी तक व्हीलचेयर क्रिकेट की तरफ किसी ने ध्यान नहीं दिया। कई दिव्यांग खिलाड़ी ऐसे हैं जो बिना व्हीलचेयर के चल ही नहीं सकते। लेकिन वे क्रिकेट में अपनी प्रतिभा दिखाना चाहते हैं। ऐसे खिलाड़ियों को आगे लाने के लिए व्हीलचेयर क्रिकेट लीग कराई जा रही है।

इस प्रीमियर लीग के लिए 25 टीमों में से चुने गए खिलाड़ी

पैरा स्पोर्ट्स फाउंडेशन के मुताबिक हाल ही में व्हीलचेयर क्रिकेट का नेशनल टूर्नामेंट कराया गया था। इसमें देश के 25 राज्यों की टीमों ने भाग लिया था। यूपी की टीम ने विजेता का खिताब हासिल किया था। इन नेशनल टूर्नामेंट की टीमों में से ही प्रीमियर क्रिकेट लीग के खिलाड़ियों का चयन किया गया है। खिलाड़ियों को हर मैच में मेहनताना के तौर पर फीस भी दी जाएगी। पाकिस्तान में व्हीलचेयर क्रिकेट काफी लोकप्रिय है। हर साल वहां नेशनल टूर्नामेंट आयोजित किया जाता है।

गुड़गांव. गुरु इंदर पहलवान की स्मृति में आयोजित कुश्ती दंगल में पहलवानों से हाथ मिलवाते मुख्य अतिथि।

16 से 18 फरवरी तक होंगे क्रिकेट लीग मैच

फरीदाबाद. डिसेबल टीम के खिलाड़ी व्हीलचेयर पर बैठकर क्रिकेट खेलते हुए।

प्रदेश खेल विभाग ने 38 नए कोचों की सूची जारी की

फरीदाबाद|प्रदेश खेल विभाग ने मंगलवार को 38 नए कोचों की सूची जारी कर दी। इन्हें विभाग की ओर से जिले भी अलॉट कर दिए गए। नई सूची में ताइक्वांडो और वालीबॉल के भी पांच-पांच कोच हैं। इसके अलावा फरीदाबाद में पहली बार खो-खो कोच नियुक्त किया गया है। खेल विभाग के मुताबिक नए कोच जल्द ही अलॉट किए गए जिलों में ट्रेनिंग देना शुरू कर देंगे। प्रदेश खेल विभाग ने पिछले साल दिसंबर में 23 कोचों की सूची जारी की थी। इन कोचों ने जिलों में ट्रेनिंग देनी भी शुरू कर दी है। अब नए कोचों की सूची जारी की गई है। सबसे अधिक छह कोच पंचकूला और सिरसा को चार कोच मिले हैं। इसके बाद सोनीपत, पानीपत, जींद, फरीदाबाद, करनाल जिले में तीन-तीन और गुड़गांव, हिसार, पलवल, करनाल, कुरुक्षेत्र, रेवाड़ी, कैथल, यमुनानगर को एक-एक और अंबाला व नारनौल को दो-दो कोच मिले हैं।

45 मीटर की बाउंड्री और 20 ओवर का होगा मुकाबला

फिजिकली चैलेंज्ड क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ इंडिया के महासचिव रवि चौहान के मुताबिक व्हीलचेयर प्रीमियर क्रिकेट लीग भी सामान्य क्रिकेट की तरह लेदर बाल से खेली जाएगी। साथ ही 20 ओवर के मुकाबले में 45 मीटर की बाउंड्री होगी। मुकाबला देखने के लिए सरकारी और प्राइवेट स्कूलों को आमंत्रित किया गया है।

किकबॉक्सिंग प्रतियोगिता में पंडित जवाहर लाल नेहरू कॉलेज की टीम ने जीते 21 मेडल

भास्कर न्यूज|फरीदाबाद

महर्षि दयानंद यूनिवर्सिटी रोहतक में आयोजित इंटर कॉलेज किकबॉक्सिंग प्रतियोगिता में सेक्टर-16ए स्थित पंडित जवाहर लाल नेहरू कॉलेज की टीम ने कुल 21 मेडल जीते हैं। इनमें 11 गोल्ड हैं। प्रतियोगिता का आयोजन 6 से 11 फरवरी तक हुआ था। मेडल जीतकर लौटे खिलाड़ियों का कॉलेज प्रबंधन की ओर से जोरदार स्वागत किया गया। कॉलेज के खेल प्रभारी बलवीर सिंह दहिया के मुताबिक किकबॉक्सिंग में कॉलेज की सात गर्ल्स स्टूडेंट्स ने दो-दो इवेंट्स में 14 मेडल जीते। जबकि दाे गर्ल्स खिलाड़ियों ने चार-चार इवेंट्स में हिस्सा लेकर 5 स्वर्ण और 2 सिल्वर मेडल जीते। 48 किलोग्राम भार वर्ग में मीनाक्षी ने लो किक में ब्रांज और प्वाइंट फाइट में सिल्वर मेडल जीता। वहीं अंजू ने 48 किलोग्राम भार वर्ग में फुल कांटेक्ट में स्वर्ण और किक लाइट में सिल्वर मेडल प्राप्त किया। कल्पना ने 55 किलोग्राम के फुल कांटेक्ट और लो किक इवेंट में एक-एक ब्रांज मेडल जीता। योगिता ने 60 किलोग्राम के किकलाइट और प्वाइंट फाइट में एक-एक स्वर्ण पदक हासिल किया। वहीं भारत रोहिल्ला ने 63 किलोग्राम वर्ग में फुल कांटेक्ट और प्वाइंट फाइट में दो सिल्वर मेडल हासिल किया। इसके अलावा 85 किलोग्राम वर्ग में दिनेश ने फुल कांटेक्ट किक लाइट, लो किक और प्वाइंट फाइट में चार मेडल जीते हैं।

कबड्डी : वायुसेना की टीम ने जीती नेशनल ट्रॉफी

पलवल. विजेता ट्रॉफी के साथ मुंबई में वायुसेना की टीम में शामिल जवाहर डागर।

पलवल|कबड्डी फेडरेशन ऑफ इंडिया की ओर से आयोजित फेडरेशन कप प्रतियोगिता की विजेता बनी भारतीय वायुसेना की टीम के बेस्ट खिलाड़ी पलवल जिले के जौहरखेड़ा निवासी जवाहर डागर रहे। कबड्डी फेडरेशन ऑफ इंडिया एवं महाराष्ट्र स्टेट कबड्डी एसोसिएशन के बैनरतले 9 फरवरी को शुरू हुई कबड्डी प्रतियोगिता का फाइनल मैच भारतीय वायुसेना की टीम ने जीता। टीम के खिलाड़ी जवाहर सिंह डागर ने बताया कि प्रतियोगिता में नेशनल स्तर की आठ टीमों ने हिस्सा लिया था। भारतीय वायुसेना की टीम का सेमीफाइनल मैच 10 फरवरी को हरियाणा की टीम के साथ हुआ। हरियाणा की टीम को हराकर उनकी टीम फाइनल में पहुंची। फाइनल में उनका मुकाबला कर्नाटक की टीम के साथ 12 फरवरी को हुआ। इसमें वायुसेना की टीम ने जीत हासिल कर ली। जवाहर सिंह डागर वायुसेना में नौकरी करते हैं। जवाहर डागर प्रो कबड्डी लीग में पटना पाइरेट्स टीम से खेलते हैं। जवाहर ने कबड्डी के जरिए ही वायुसेना में नौकरी हासिल की थी। वर्ष 2014 में जब हरियाणा की टीम ने पटना में कबड्डी का मुकाबला जीतकर गोल्ड मेडल हासिल किया तो उस समय वायुसेना के अधिकारी भी मौजूद थे।

फरीदाबाद. किकबाक्सिंग प्रतियोगिता में विजेता जवाहर लाल नेहरू कालेज के स्टूडेंट्स।

गुड़गांव, बुधवार 14 फरवरी, 2018 |

02

India Result 2018: Check BSEB 10th Result, BSEB 12th Result, RBSE 10th Result, RBSE 12th Result, UK Board 10th Result, UK Board 12th Result, JAC 10th Result, JAC 12th Result, CBSE 10th Result, CBSE 12th Result, Maharashtra Board SSC Result and Maharashtra Board HSC Result Online
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Sohna News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: प्लस 55 वर्ग में अजीत कादयान ने जीते एक गोल्ड व दो सिल्वर मेडल
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Sohna

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×