• Home
  • Haryana News
  • Sohna
  • वीकएंड पर सोहना में हो सकती है पानी की कमी, सप्लाई में कटौती शुरू
--Advertisement--

वीकएंड पर सोहना में हो सकती है पानी की कमी, सप्लाई में कटौती शुरू

इस बार वीकएंड पर सोहना में पानी की किल्लत हो सकती है। हालात ये हैं कि विभाग के टैंक में मात्र एक दिन का पानी बचा है।...

Danik Bhaskar | Mar 10, 2018, 02:05 AM IST
इस बार वीकएंड पर सोहना में पानी की किल्लत हो सकती है। हालात ये हैं कि विभाग के टैंक में मात्र एक दिन का पानी बचा है। हालात को सामान्य करने के लिए विभाग ने पानी की कटौती भी शुरू कर दी है। पहले सोहना में आए दिन साढ़े आठ लाख मिलियन लीटर पानी की सप्लाई की जाती थी, लेकिन अब विभाग ने साढ़े तीन मिलियन वाटर लीटर की कटौती करनी शुरू कर दी है। अब शहरवासियों को आए दिन मात्र 5000 मिलियन लीटर पानी सप्लाई किया जाएगा। हालांकि अधिकारियों का कहना है कि बहुत ही जल्द स्थिति सामान्य आ जाएगी, वहीं विभाग ने लोगों को पानी को लेकर जागरूक करना शुरू भी कर दिया है। सोहना शहर में इस समय पानी की भारी किल्लत चल रही है। विभाग के टैंक में मात्र एक दिन का ही पानी शेष बचा है, विभाग के अधिकारियों हालात को देखते हुए लगातार बड़े अधिकारियों के संपर्क साध रहे हैं। वहीं लोगों से भी पानी बचाने की अपील की जा रही है।

गौरतलब है कि सोहना में 214 मिलियन क्षमता का टैंक बनाया हुआ है। वहीं विभाग रोजाना लोगों को साढ़े आठ मिलियन पानी की सप्लाई निरंतर करता है। इस समय क्षमता टैंक में मात्र एक दिन का ही पानी है, जिस कारण अब विभाग लोगों को आए दिन मात्र 5000 मिलियन पानी की सप्लाई करेगाl सोहना में इस समय नहरी पानी से सप्लाई की जा रही है, वह सोहना में एनसीआर नहर से पानी आता है, जिसमें पानी की भारी किल्लत आ रही है। पानी को ही लेकर कुछ दिन पहले महिलाओं ने विरोध प्रदर्शन किया था। अब आने वाले समय में भी पानी की भारी किल्लत के आसार बनते नजर आ रहे हैं। समस्या को गंभीरता से लते हुए एसडीएम ने इसकी कमान अपने हाथ में ली है। वह निरंतर बड़े अधिकारियों से इस समस्या को लेकर लगातार संपर्क कर रहे हैं। वह लोगों से पानी बचाने की अपील कर रहे हैं। एसडीएम सतीश यादव ने बताया कि सोहना में नहरी पानी के जरिए पानी की सुविधा मुहैया कराई जाती है, लेकिन इस समय एनसीआर नहर में पानी कम आ रहा है। जिसके कारण पानी की किल्लत बनी हुई हैं, वहीं जो क्षमता टैंक की है, उसमें भी काफी कम पानी है। इसी को लेकर पानी की सप्लाई दो-चार दिन के लिए कम की जाएगी। बड़े अधिकारियों से भी बात की जा रही है।