• Hindi News
  • Haryana News
  • Sohna
  • दो माह में स्नेचिंग की 79 वारदातें, सबसे अधिक 33 मोबाइल स्नेचिंग के मामले
--Advertisement--

दो माह में स्नेचिंग की 79 वारदातें, सबसे अधिक 33 मोबाइल स्नेचिंग के मामले

साइबर सिटी में बदमाश मौका पाते ही राहगीर से मोबाइल फोन, सोने की चेन तोड़ने के अलावा कार छीनने जैसी वारदातों को अंजाम...

Dainik Bhaskar

Mar 11, 2018, 02:05 AM IST
दो माह में स्नेचिंग की 79 वारदातें, सबसे अधिक 33 मोबाइल स्नेचिंग के मामले
साइबर सिटी में बदमाश मौका पाते ही राहगीर से मोबाइल फोन, सोने की चेन तोड़ने के अलावा कार छीनने जैसी वारदातों को अंजाम दे रहे हैं। दो माह में 79 स्नेचिंग की वारदातें हुई। इसमें 33 मोबाइल स्नेचिंग के मामले है। वहीं 48 घंटे में चार स्नेचिंग की वारदातें सामने आ चुकी हैं। इस साल 28 फरवरी तक स्नेचिंग के 79 मामले आ चुके हैं जिसमें सबसे अधिक 33 मामले मोबाइल स्नेचिंग व आठ मामले सोने की चेन स्नेचिंग संबंधी है। कार स्नेचिंग की 12 वारदातें हुई थी। अन्य मामलों में कैश, पर्स स्नेचिंग से संबंधित है। बदमाश छीने गए मोबाइलों के ईएमआई नंबर भी बदल देते हैं जिससे आरोपी जल्दी पुलिस की पकड़ में नहीं आते हैं।

हाईवे पर बदमाशों ने कई कारों को छीना

शहर में कार स्नेचिंग व लूट की वारदातें भी हो रही है। हाल में हाईवे पर बदमाशों ने कई कारों को छीन लिया। कार लूट की घटनाओं में लगातार बढ़ोतरी हो रही है। ऐसे में पुलिस की कार्यशैली पर लगातार सवाल खड़े हो रहे हैं। शहर के अलग-अलग क्षेत्रों में करीब 12 से अधिक कारें लूट/स्नेचिंग को अंजाम दे चुके हैं। इसमें बदमाशों ने कैब चालक, व्यवसायी और नौकरीपेशा करने वाले लोगों की कारें लूटी हैं। लूट/स्नेचिंग की वारदातें हाईवे, पालम विहार क्षेत्र, गुड़गांव-सोहना रोड के अलावा ओल्ड सिटी में अधिकतर होती है।

कार स्नेचिंग की करीब 12 वारदातें हुई थी, अन्य मामलों में कैश, पर्स स्नेचिंग से संबंधित है

कार लूट/स्नेचिंग की प्रमुख वारदातें

11 जनवरी| सेक्टर 56 थाना एरिया में निजी बैंक मैनेजर से कार लूटी।

18 जनवरी| पालम विहार में एक वरिष्ठ अधिकारी से कार लूटी।

08 फरवरी| द्वारका एक्सप्रेस-वे के पास हथियार के बल लूटी कार।

16 फरवरी| सेक्टर-81 में हथियार के बल पर एसयूवी कार लूटी

24 फरवरी| हाईवे पर मानेसर के पास बदमाशों ने कार लूटी।

26 फरवरी| अलग-अलग थाना एरिया में दो कार स्नेचिंग।

ऐसे देते हैं अंजाम

बदमाश कार लूट या स्नेचिंग की वारदातों को सवारी बनकर, रोडरेज का बहाना बनाकर, कार को ओवरटेक करने के बाद हथियार या मारपीट कर वारदात को अंजाम देते हैं।

इस साल फरवरी तक स्नेचिंग के मामले

(धारा 379ए के तहत 62 और 379बी के तहत 17)

कुल मामले

मधुबनी विहार निवासी कृष्ण कुमार वजीराबाद में रहते हैं। सेक्टर 53 थाना पुलिस में दी शिकायत में बताया कि आठ मार्च को करीब पौने दस बजे मोबाइल पर गेम खेल रहा था। इसी बीच एक लड़का पीछे से आया और मोबाइल छीनकर फरार हो गया। पीड़ित ने आरोपी का पीछा किया लेकिन आरोपी फरार हो गया। शिकायत पर पुलिस ने शुक्रवार को अज्ञात पर स्नेचिंग में केस दर्ज कर लिया है।

सेक्टर 14 निवासी निशा ने शुक्रवार को पुलिस में दी शिकायत में बताया कि बाइक सवार युवक आए और अचानक पर्स छीनकर फरार हो गया। जांच अधिकारी नरपत ने बताया कि पीड़िता एक निजी कंपनी में काम करती है। शाम सात बजे सेक्टर 14 में वारदात हुई। रात होने से सीसीटीवी की फुटेज भी साफ नहीं है। पुलिस आरोपियों की पहचान करने में जुट गई है।

केस 1

केस 2



सतर्क रहना जरूरी


X
दो माह में स्नेचिंग की 79 वारदातें, सबसे अधिक 33 मोबाइल स्नेचिंग के मामले
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..