Hindi News »Haryana »Sohna» मंथली असेसमेंट में गुड़गांव ब्लॉक पहले, सोहना चौथे नंबर पर

मंथली असेसमेंट में गुड़गांव ब्लॉक पहले, सोहना चौथे नंबर पर

राजकीय स्कूलों में मंथली असेसमेंट टेस्ट के आधार पर कमजोर स्कूलों का शैक्षणिक स्तर सुधारने पर विभाग जुट गया है।...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jan 14, 2018, 05:10 AM IST

राजकीय स्कूलों में मंथली असेसमेंट टेस्ट के आधार पर कमजोर स्कूलों का शैक्षणिक स्तर सुधारने पर विभाग जुट गया है। डीईईओ राम कुमार फलस्वाल ने बताया कि मंथली असेसमेंट में गुड़गांव जिले का प्रदर्शन अन्य जिलों की अपेक्षा बेहतर रहा है। नवंबर में हुए मंथली असेसमेंट रिपोर्ट में गुड़गांव ब्लॉक पहले स्थान पर, जबकि सोहना ब्लॉक चौथे नंबर पर रहा। शिक्षा विभाग सरकारी स्कूलों में बच्चों के शैक्षिक स्तर जानने के लिए हर माह असेसमेंट कराता है, ताकि स्टूडेंट्स के प्रदर्शन का आंकलन किया जा सके। रिपोर्ट के आधार पर कमजोर प्रदर्शन करने वाले स्टूडेंट्स के पठन पाठन पर विशेष ध्यान दिया जाता है, ताकि कमजोर स्कूलों के प्रदर्शन को सुधारा जा सके। जिले के चारों ब्लॉकों के प्रदर्शन में सुधार के लिए सभी बीईईओ को निर्देश दिए गए हैं। दूसरी ओर सक्षम हरियाणा के तहत भी स्कूलों में शैक्षिक स्तर को बेहतर करने के लिए काम किया जा रहा है।

डायट प्रिंसिपल संतोष तंवर ने बताया कि जिले के चारों ब्लॉकों के स्कूलों पर नजर रखी जा रही है। सोहना ब्लॉक में जितेंद्र कुमार, गुड़गांव ब्लॉक में शिवानी और प्रीति, फर्रुखनगर में आरके पूनिया और पटौदी ब्लॉक की जिम्मेदारी राकेश को सौंपी गई है। डायट की टीम टीचर्स के पठन-पाठन में सहयोग कर रही है, ताकि स्कूलों में लर्निंग स्तर को 80 फीसदी तक लाया जा सके। साथ ही स्कूलों की जांच भी की जा रही है।

मंथली नहीं त्रैमासिक टेस्ट हो : अध्यापक संघ

हरियाणा विद्यालय अध्यापक संघ के गुड़गांव ब्लॉक के प्रधान सत्यनारायण (जेबीटी) ने कहा कि विभाग से मांग की गई है कि मंथली के बजाय त्रैमासिक टेस्ट लिया जाए। हर महीने परीक्षा होने से 10 दिन तक डेटा एंट्री करने समेत अन्य काम खराब हो जाता है। ऐसे में इसमें बदलाव की मांग की गई है। इस पर संगठन डीईओ को ज्ञापन भी दिया जा चुका है।

आंकलन

राजकीय स्कूलों में मंथली असेसमेंट टेस्ट के आधार पर कमजोर स्कूलों का शैक्षणिक स्तर सुधारने के लिए शिक्षा विभाग हर स्तर पर कर रहा प्रयास

टीचर्स पर सिलेबस पूरा करने का दबाव

हरियाणा विद्यालय अध्यापक संघ के गुड़गांव ब्लॉक के पूर्व प्रधान सुनील कुमार पचगांव ने बताया कि टेस्ट से शिक्षा में सुधार हो रहा है। हर महीने बच्चों के अंदर प्रतिस्पर्धा रहती है। मंथली टेस्ट के कारण हर महीने सिलेबस को टीचर्स को अपडेट कराना पड़ रहा है। ऐसे में टीचर्स पर भी मानसिक प्रेशर रहता है। सुनील ने बताया कि पेपर सेट में कुछ गड़बड़ी हो रही है। नंबर महीने में सामाजिक विषय में खामियां आई थीं।

नवंबर में मैट में छात्रों का प्रदर्शन

ब्लॉक 50% से ज्यादा अंक 70% ज्यादा अंक

गुड़गांव 68.73 27.37

फर्रुखनगर 63.96 23.49

पटौदी 61.92 22.88

सोहना 58.03 19.56

अक्टूबर माह में मैट में छात्रों का प्रदर्शन

गुड़गांव 67.87 26.39

फर्रुखनगर 64.50 22.91

पटौदी 62.78 22.86

सोहना 62.28 20.72

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Sohna

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×