• Home
  • Haryana News
  • Sohna
  • आंधी-बारिश से गुड़गांव-मेवात के 100 फीडर ब्रेकडाउन, 20 घंटे बिजली गायब
--Advertisement--

आंधी-बारिश से गुड़गांव-मेवात के 100 फीडर ब्रेकडाउन, 20 घंटे बिजली गायब

भास्कर न्यूज | गुड़गांव/मेवात बुधवार शाम को आई आंधी ने उत्तरप्रदेश व राजस्थान में 86 लोगों की जान ले ली। वहीं...

Danik Bhaskar | May 04, 2018, 02:10 AM IST
भास्कर न्यूज | गुड़गांव/मेवात

बुधवार शाम को आई आंधी ने उत्तरप्रदेश व राजस्थान में 86 लोगों की जान ले ली। वहीं गुड़गांव व मेवात में भी इस आंधी का काफी असर दिखाई दिया। 95 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चली आंधी से दोनों जिलों में 100 से अधिक बिजली के खंभे टूट गए। वहीं 100 से अधिक बिजली के फीडर ब्रेकडाउन हो गए। हालात ऐसे रहे कि तावडू, सोहना, बादशाहपुर, मानेसर, फिरोजपुर झिरका, पुन्हाना व नूंह आदि सब डिवीजनों में 8 घंटे से लेकर 20 घंटे तक बिजली सप्लाई पूरी तरह बंद रही। सबसे अधिक परेशानी लोगों को पेयजल को लेकर उठानी पड़ी। यहां तक कि शहरी क्षेत्र के फीडर भी ब्रेकडाउन से अछूते नहीं रहे और गुड़गांव शहर में भी मारुति फीडर 14 घंटे तक बंद रहा।

गुड़गांव में हवा की रफ्तार 76 जबकि मेवात में 95 किमी. प्रति घंटे रही। तेज हवा के कारण जहां कई स्थानों पर पेड़ व खंभे गिरे। कुछ ही देर में गुड़गांव के दोनों सर्कल के 30 से अधिक फीडर ब्रेकडाउन हो गए। वहीं मेवात में 70 से अधिक फीडरों की बिजली सप्लाई बंद हो गई। फिरोजपुर झिरका में एक मकान गिरने से एक तीन वर्षीय बच्ची की मौत हो गई जबकि डेढ़ दर्जन लोग घायल हो गए। गुड़गांव में जहां बंद पड़े फीडरों को 10 से 15 घंटे में चालू किया जा सका, वहीं मेवात क्षेत्र के कई फीडर गुरुवार दोपहर बाद तक चालू नहीं हो पाए।

फिरोजपुर झिरका| आंधी के कारण पेड़, और 63 केवी का ट्रांसफार्मर गिरा

गुड़गांव. बादशाहपुर में बिजली की लाइन ठीक करता बिजली कर्मचारी।

आपदा प्रबंधन सुस्त, मकान गिरने से तीन साल की बच्ची की मौत

आंधी से उत्तर भारत में मचे कोहराम के बाद भी मेवात के इलाकों में जिला प्रशासन की ओर से दौरा तक नहीं किया गया। ऐसे में मेवात के लोगों में रोष बना है। फिरोजपुर झिरका के वार्ड-9 के लक्ष्मण सैनी के मकान की दीवार गिरने से एक तीन साल की बच्ची की मौत हो गई थी, जबकि इसमें सात लोग घायल हो गए। लोगों का आरोप है कि इतना बड़ा हादसा होने के बावजूद भी कोई प्रशासनिक अधिकारी या प्रतिनिधि वहां नहीं पहुंचा।

मेवात के कई क्षेत्रों में 24 घंटे बाद भी बिजली सप्लाई शुरू नहीं हुई

बुधवार शाम आई तेज आंधी व हल्की बरसात से मेवात जिले में बिजली व्यवस्था पूरी तरह ठप हो गई है। 24 घंटे बीत चुके हैं, लेकिन बिजली अभी तक सुचारु नहीं हो पाई है। जिससे पूरे जिले में कम्प्यूटर सिस्टम व छोटे कल कारखाने बंद पड़े हुए हैं। इस संबंध में बिजली निगम के एक्सईएन रामनिवास ने बताया कि जिले में सिर्फ 60 खंभे टूटे हैं। इसके अलावा मेवात क्षेत्र में करीब 70 फीडर ब्रेकडाउन हुए हैं। खंभे व तार टूटने से करीब सात लाख रुपए का नुकसान हुआ है।

बूंदाबांदी व पूर्वी......

हवाओं के कारण पारा 6 डिग्री गिरा

गुड़गांव|
गुड़गांव में बुधवार शाम को तेज आंधी के बाद हुई बूंदाबांदी व पिछले 24 घंटे से तेज पूर्वी हवाएं चलने से 6 डिग्री सेल्सियस तक तापमान लुढ़क गया। गुरुवार को अधिकतम तापमान सामान्य से चार डिग्री सेल्सियस कम 35.2 डिग्री सेल्सियस जबकि न्यूनतम तापमान लुढ़ककर 19.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो सामान्य से पांच डिग्री कम है। वहीं बुधवार को न्यूनतम तापमान 26.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था। बुधवार को पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव से मौसम में बदलाव आया था। मौसम विभाग के अनुसार आने वाले दो तीन दिन बादल छाए रहेंगे और कुछ स्थानों पर बूंदाबांदी होने की संभावना है। वहीं आने वाले दिनों में अधिकतम तापमान 40 डिग्री सेल्सियस से नीचे रहने का अनुमान है।