सोहना

--Advertisement--

6 गांव के लोगों ने एमआर टीकाकरण से किया इनकार

अंतिम चरण में चल रहे एमआर कैंपेन (मीजल्स रूबेला) अभियान को झटका लगता दिख रहा है। गुड़गांव जिले के करीब 6 गांव जो मेवात...

Dainik Bhaskar

May 31, 2018, 02:10 AM IST
अंतिम चरण में चल रहे एमआर कैंपेन (मीजल्स रूबेला) अभियान को झटका लगता दिख रहा है। गुड़गांव जिले के करीब 6 गांव जो मेवात से सटे हैं वहां लोगों ने टीकाकरण से इनकार कर दिया है। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने गांव सरपंचों के साथ टीकाकरण कराने व बच्चों को बीमारियों से बचाने के फायदे बताते हुए इसे कराने की अपील की। अधिकारियों के अनुसार जिले में टीकाकरण अभियान अंतिम चरण में है। लेकिन मेवात से सटे जिले के कुछ गांव अब टीकाकरण से इनकार कर रहे हैं। क्षेत्र के अधिकतर गांव मुस्लिम बाहुल्य हैं, जो टीकाकरण को लेकर तैयार नहीं है। वहीं ग्रामीणों के इस रवैये से परेशान टीकाकरण अभियान में शामिल अधिकारी गांव के सरपंचों के साथ बैठक कर उन्हें समझाया गया। अधिकारियों का कहना है कि टीकाकरण से 0 से 15 साल तक के कई बच्चों को बीमारियों से बचाया जा सकता है।

इन गांवों में नहीं हो पाया टीकाकरण

अधिकारियों ने बताया कि टीकाकरण के लिए जो गांव तैयार नहीं हैं। उनमें सोहना ब्लॉक के घंघोला, सतलका, कालियका, नूनेरा, किरणकी, रायपुर व नूरू गांव शामिल हैं। अमेरिकन स्कूल आरडी सिटी भी बच्चों का टीकाकरण को तैयार नहीं हुआ है।


4 लाख से अधिक बच्चों का टीकाकरण किया

एमआर अभियान में अभी तक 2184 स्कूलों में टीकाकरण कर 4.87 लाख छात्रों को बीमारियों से सुरक्षित किया गया है। कुल 6,37,2,846 बच्चों को टीके लगाने का लक्ष्य है। आंकड़ों के मुताबिक कुल 2184 स्कूलों में 525 सरकारी तो 1584 निजी स्कूल शामिल हैं।

X
Click to listen..