--Advertisement--

15 दिन पहले आवक थी 3 गुणा, कम रेट पर बराबर से भी कम हुआ आंकड़ा

अनाज मंडी में व्यापारी धान करीब 3650 रुपए तक खरीद रहे हैं। इस रेट से किसान संतुष्ट नहीं है। इसलिए किसान कम धान लेकर...

Dainik Bhaskar

Nov 11, 2018, 03:11 AM IST
Gohana - 15 days before arrival was 3 times less than even less figure at lower rate
अनाज मंडी में व्यापारी धान करीब 3650 रुपए तक खरीद रहे हैं। इस रेट से किसान संतुष्ट नहीं है। इसलिए किसान कम धान लेकर मंडी में पहुंच रहे हैं। करीब 15 दिन पहले जहां मंडी में पिछले वर्ष की तुलना में करीब तीन गुणा धान की आवक थी। किसानों द्वारा फसल का स्टॉक किए जाने से अब यह आवक पिछले वर्ष की तुलना कम हो गई हैं। किसानों को रेट बढ़ने का इंतजार हैं।

मंडी में धान की फसल 3550 से लेकर 3650 रुपए प्रति क्विंटल के भाव से बिक रही हैं। वहीं जो किसान कंबाइन से फसल कटवाकर लेकर आ रहे हैं, उसका रेट 300 से 400 रुपए तक कम मिलता है। किसान इस रेट में फसल बेचने को तैयार नहीं हैं। इसलिए किसान कुछ फसल ही मंडी में लेकर पहुंच रहे हैं। यही कारण है कि 24 अक्टूबर को पिछले वर्ष मंडी में 1.32 लाख क्विंटल धान की आवक थी। जबकि इस वर्ष यह आंकड़ा करीब 3.32 तक पहुंच गया था। जिस तेजी से आवक हुई थी, उसमें लगातार कमी आती रही। नई अनाज मंडी में बीते वर्ष 9 नवंबर को धान की आवक 906494 क्विंटल थी। इस वर्ष 9 नवंबर तक धान की आवक 857435 क्विंटल हुई हैं। किसानों का कहना है कि धान का रेट अच्छा नहीं मिल रहा है।

गोहाना . नई अनाज मंडी में पड़ी धान की फसल की ढेरियां।

भाव बढ़ने का कर रहे थे इंतजार


फसल की लागत पूरी नहीं हो रही


कंबाइन से कटी फसल का कम मिलता है रेट

किसान कृष्ण, प्रकाश, सत्यवान, प्रवीन, मुकेश, संदीप का कहना है कि धान की फसल में किसानों की लागत अधिक आई है। कम रेट पर धान बिकने पर किसान को फायदा नहीं होगा। व्यापारी फसल में नमी और दाने में कमी बताकर भाव कम लगाते हैं। कम भाव मिलने से फसल लगाने की लागत भी पूरी नहीं होती है। किसानों का कहना है कि फसल कंबाइन मशीन से कटवाई थी। कंबाइन से कटाई होने के कारण व्यापारी कम भाव लगा रहे हैं। भाव में 300 से 400 रुपए तक का अंतर है।

किसान शिकायत दें


X
Gohana - 15 days before arrival was 3 times less than even less figure at lower rate
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..