• Hindi News
  • Haryana News
  • Sonipat
  • अब महज एक रुपया दीजिए और बेल वाली सब्जियों के पौधे तैयार कराइए
--Advertisement--

अब महज एक रुपया दीजिए और बेल वाली सब्जियों के पौधे तैयार कराइए

विवेक राणा | घरौंडा (करनाल) अगेती बेल वाली सब्जियां उगाने वाले किसानों के लिए खुशखबरी है। अबकी बार सब्जी...

Dainik Bhaskar

Feb 01, 2018, 01:30 PM IST
विवेक राणा | घरौंडा (करनाल)

अगेती बेल वाली सब्जियां उगाने वाले किसानों के लिए खुशखबरी है। अबकी बार सब्जी उत्कृष्टता केंद्र घरौंडा में 25 लाख बेल वाली सब्जियों के पौधे तैयार किए जाएंगे। अब तक करीब 8 लाख पौधे के आर्डर आए हैं, इनमें से किसानों ने खरबूजे बोबी की पौध तैयार करा ली है। कई िकसानों ने तो दिसंबर व जनवरी में पौध अपने खेत में भी लगा दी है। ये वे किसान हैं जो दूसरे किसानों से करीब एक से डेढ़ माह पहले फसल लेंगे और दाम भी इन किसानों को दोगुने तक मिल सकते हैं। क्योंकि जब तक आम किसानों की फसल खेत में आएगी, तब तक इनके काफी खरबूजे बाजार में महंगे दामों पर बिक चुके होंगे। यह सिलसिला यूं तो पिछले करीब 10 12 साल से जारी है, बहुत से ऐसे प्रगतिशील किसान हैं जो कि केंद्र में इस तरह से पौध तैयार कराते हैं और एडवांस फसल उगाकर अधिक मुनाफा ले रहे हैं। सब्जी उत्कृष्टता केंद्र घरौंडा में सबसे अधिक आवक हिसार, कुरुक्षेत्र, करनाल, पानीपत व सोनीपत जिलों के किसानों की होती है। क्योंकि यहां सब्जी का अधिक उत्पादन किया जाता है। यहां किसान खुले में व पॉली हाउस में बड़े स्तर पर सब्जियों की पैदावार कर अच्छा मुनाफा लेते हैं।

एक माह एडवंास मिलेगी फसल, इन सब्जियों की पौध होगी तैयार

4 लाख किसानों ने लिए खरबूजे के पौधे

बीमारी कम, फल भी अच्छा होने से मुनाफा बढे़गा

संस्थान के वैज्ञानिक डॉ. कृष्ण कुमार के अनुसार अबकी बार प्रदेश के कई जिलों के किसानों ने करीब 4 लाख पौधे खरबूजा तैयार कराए हैं। किसानों ने यह पौध लगभग खेत में लगा दी है। फरवरी के अंत या मार्च के प्रथम सप्ताह में इन पौधों से किसानों को फल मिलने लगेगा और वे उन्हें बाजार में अच्छे दामों पर बेच सकेंगे। सबसे खास बात यह है कि जो भी पौधा यहां पर तैयार किया जाता है, वह बीमारी रहित होता है। ऐसे में उससे फल भी अधिक होता है। क्योंकि बीज या पौध अच्छी होगी तो किसान की 80 फीसदी तक समस्या पहले ही हल हो जाएंगी। ऐसे में किसान का मुनाफा बढ़ जाता है। इस तरह से बीज देकर पौध तैयार कराने वाले किसानों की संख्या लगातार बढ़ रही है।

किसान सब्जी उत्कृष्टता केंद्र घरौंडा जिला करनाल जो कि जीटी रोड पर स्थित है यहां से टमाटर, खरबूजा, करेला,तोरी, घीया, शिमला मिर्च, हरी मिर्च सहित अन्य कई सब्जियों की पौध तैयार करा सकते हैं। इसके लिए किसान को सेंटर का दौरा करना पड़ेगा और यहीं से बुकिंग होगी।

एटीएम से ली जाएगी 80 फीसदी राशि

सब्जी उत्कृष्टता केंद्र में किसान को आना होगा। जहां किसान को जिस भी बेल वाली सब्जी की पौध तैयार करानी है उसका बीज लाना होगा। प्रति पौध किसान से एक रुपया लिया जाएगा। किसान से 80 फीसदी राशि एडवांस में एटीएम के जरिए ली जाएगी। शेष राशि पौधा तैयार होने पर देनी होगी। 30 दिन में वैज्ञानिकों की ओर से किसान को यह पौधे उपलब्ध करा दिए जाएंगे।

घीया-ताेरी के मिलते हैं खूब दाम

किसानों का कहना है कि सबसे बड़ा फायदा घीया तोरी में होता है। क्योंकि आम किसानों की घीया या तोरी की फसल अप्रैल के प्रथम या दूसरे सप्ताह में बाजार तक आती है, लेकिन यहां पौधा सर्दियों में ही तैयार हो जाता है और फरवरी के प्रथम सप्ताह में इसकी रोपाई कर देते हैं। ऐसे में किसानों को मार्च तक फल मिलने लगता है। ऐसे में किसान को अधिक मुनाफा बाजार में ज्यादा रेट मिलने से होता है।

अॉर्डर करें, 1 रुपए में मिलेगा पौधा


X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..