पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • Sonipat News Haryana News Pharmacist Class Expressed Anger Over Non Fulfillment Of Demands For Second Consecutive Day

फार्मासिस्ट वर्ग ने मांगें पूरी न होने पर लगातार दूसरे दिन जताया रोष

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
फार्मासिस्ट ने अपनी मांगों को लेकर बुधवार को भी रोष प्रदर्शन किया। नागरिक अस्पताल में एसोसिएशन गवर्नमेंट फार्मासिस्ट ऑफ हरियाणा के बैनर तले फार्मासिस्ट इकट्ठा हुए और फिर डिप्टी सिविल सर्जन डॉ. सीताराम के माध्यम से मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन भेजा। इसके साथ मॉडल टाउन स्थित ईएसआई डिस्पेंसरी में फार्मासिस्टों ने ईएसआई बिलीकोज एसोसिएशन के बैनर तले काले बिल्ले लगाकर रोष प्रदर्शन किया।

रमेश कुमार, राजगोपाल, ईएसआई से संदीप कुमार, ओमप्रकाश, शिशुपाल, सुदेश, सुनीता, राजकुमार, अरुण कुमार, कृष्ण धीमान, अजमेर व ईएसआई में तैनात सितेंद्र सिंह, प्रदीप, अमन, नीरू, रणधीर सिंह ने बताया कि फार्मासिस्ट वर्ग अपनी विभिन्न मांगों को लेकर लंबे समय से सरकार व अधिकारियों से मिल चुके हैं। लेेकिन मांगों को लागू नहीं किया जा रहा। 21 फरवरी 2018 को मुख्यमंत्री ने फार्मासिस्ट के एक शिष्टमंडल को उनकी मांगों पर स्वीकृति दी थी। इसके बावजूद उनकी मांगों को अब तक काम नहीं हुआ। फार्मासिस्ट वर्ग में सरकार के खिलाफ रोष बढ़ रहा है। फार्मासिस्ट पिछले दो दिन से एक घंटे की गेट मीटिंग के बाद काले बिल्ले लगाकर ड्यूटी दे रहे हैं।

सोनीपत. मांगों को लेकर बुधवार को भी रोष प्रदर्शन किया।

12 से एक बजे तक कार्य छोड़कर गेट मीटिंग की

ईएसआई बिलीकोज एसोसिएशन फार्मासिस्ट जिला सोनीपत ने 12 से एक बजे तक कार्य छोड़कर गेट मीटिंग की। काली पट्‌टी बांधकर रोष प्रदर्शन किया। जिला प्रधान सतेंद्र सिंह ने कहा कि एक फार्मासिस्ट जो स्वास्थ्य संस्था की रीढ़ होता है वह अपने कार्य के साथ-साथ हर तरह की जिम्मेदारी को निर्वहन बेहतरीन तरीके से करता है। जबकि फार्मासिस्ट की अहम मांगों को पूरा नहीं किया जा रहा। प्रदीप पंचाल ने कहा कि एक चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी पदोन्नत होकर रिटायर होने तक राजपत्रित पदक पर पहुंच जाता है वहीं फार्मासिस्ट की पदोन्नति ही नहीं है। वह उसी पद से सेवानिवृत्त हो जाता है। इस दौरान नीरव, सहदेव, रणधीर सिंह, अमन सहित अन्य मौजूद रहे।

यह मांगें रखी सरकार के सामने

फार्मासिस्ट वर्ग ने कहा कि वेतन विसंगति दूर कर 4600 ग्रेड-पे देने, प्रमोशन चैनल लागू करने, नए पद सृजित करने, डिप्टी डायरेक्टर फार्मेसी का पद भरने, पदनाम बदलकर फार्मेसी ऑफिसर व शैक्षिक योग्यता बी फार्मेसी करने की मांग की। साथ ही एक सप्ताह में मांगे लागू न करने पर राज्य स्तरीय बैठक बुलाकर अनिश्चितकालीन आंदोलन करने की चेतावनी दी।

खबरें और भी हैं...