सोनीपत

  • Hindi News
  • Haryana News
  • Sonipat
  • बिजली निगम के खिलाफ कुंडली के उद्योगपतियों ने की मीटिंग, कनेक्शन नहीं मिलने पर जताया रोष
--Advertisement--

बिजली निगम के खिलाफ कुंडली के उद्योगपतियों ने की मीटिंग, कनेक्शन नहीं मिलने पर जताया रोष

कुंडली इंडस्ट्रियल एसोसिएशन की सोमवार को एचएसआईआईडीसी कुंडली में मीटिंग हुई, जिसमें बिजली कनेक्शन नहीं मिलने पर...

Dainik Bhaskar

May 01, 2018, 02:55 AM IST
बिजली निगम के खिलाफ कुंडली के उद्योगपतियों ने की मीटिंग, कनेक्शन नहीं मिलने पर जताया रोष
कुंडली इंडस्ट्रियल एसोसिएशन की सोमवार को एचएसआईआईडीसी कुंडली में मीटिंग हुई, जिसमें बिजली कनेक्शन नहीं मिलने पर निगम के खिलाफ रोष प्रदर्शन भी किया। कुंडली एसोसिएशन के प्रधान अरविंद चौधरी ने कहा कि सीएम मनोहरलाल, उद्योग मंत्री विपुल गोयल व डीसी सोनीपत के आदेश पर भी उद्योगपतियों को बिजली कनेक्शन नहीं दिए जा रहे हैं। जिस कारण उद्योगपतियों को मजबूरन यहां से पलायन करना पड़ेगा। बिजली समस्या की वजह से ही कुंडली के उद्योग बंद होने की कगार पर पहुंच गए हैं। इस संबंध में जब एसई से बातचीत करने का प्रयास किया तो फोन रिसीव नहीं किया।

कुंडली इंडस्ट्रियल एसोसिएशन के प्रधान अरविंद चौधरी, वरिष्ठ उपप्रधान सुभाष गुप्ता, अशोक कपूर, गगन धूपर, रमन विज ने कहा कि कुंडली में सबसे ज्यादा समस्या बिजली की है। बिजली निगम उद्योगपतियों को नए कनेक्शन नहीं दे रहा है। एक फरवरी को उद्योग मंत्री ने समाधान दिवस पर एसई को 46 कनेक्शन जल्द लगाने के आदेश दिए थे। उद्योगपति सीएम से भी मिले थे। सीएम ने भी बिजली कनेक्शन देने का आदेश दिया था। वरिष्ठ उपप्रधान सुभाष गुप्ता ने कहा कि 35 कनेक्शन के डिमांड नोटिस इशू कर दिए गए, लेकिन कनेक्शन आज तक नहीं दिए।

राई . एचएसआईआईडीसी कुंडली में बिजली निगम के खिलाफ रोष जताते उद्योगपति।

जिनके पास कनेक्शन हैं, उन्हें बिजली नहीं मिलती

अशोक कपूर ने कहा कि कुंडली में बिजली समस्या ने उन्हें रूला दिया है। जिनके पास कनेक्शन हैं,उन्हें बिजली नहीं मिल रही है। अघोषित कट लगाए जा रहे हैं, लाइन कंडम हो चुकी है। ट्रांसफार्मर ओवरलोड हो चुके हैं। कट लगाने से पहले उद्योगपतियों को कोई सूचना नहीं दी जाती। उनका करोड़ों का नुकसान हो रहा है। रात भर बिजली सप्लाई बंद रहती है। उन्हें कई बार तो लगता है कि कुंडली में फैक्ट्री लगाकर सबसे बड़ी गलती की है।

ऐसी हालत रही तो यहां से चले जाएंगे : रमन विज ने कहा कि यदि ऐसी हालत रही तो कुंडली को छोड़ने पर मजबूर होना पड़ेगा। किसी भी उद्योग के लिए बिजली सबसे जरूरी होती है। जब बिजली नहीं मिलेगी तो वे कारखाना कैसे चलाएंगे। वे यहां से पलायन को मजबूर हाे गए हैं। कुंडली के 40 प्रतिशत उद्योग पहले ही बंद हो चुके हैं। एचएसआईअाईडीसी और बिजली निगम दोनों से उद्योगपति परेशान हो चुके हैं।


X
बिजली निगम के खिलाफ कुंडली के उद्योगपतियों ने की मीटिंग, कनेक्शन नहीं मिलने पर जताया रोष
Click to listen..