• Hindi News
  • Haryana News
  • Sonipat
  • मिमारपुर पुलिस चौकी में घोड़ा गश्त बंद होने का फायदा उठा रहे हैं पशु तस्कर
--Advertisement--

मिमारपुर पुलिस चौकी में घोड़ा गश्त बंद होने का फायदा उठा रहे हैं पशु तस्कर

यूपी-हरियाणा बॉर्डर पर तस्करी की वारदातों को रोकने के लिए हरियाणा पुलिस की तरफ से मिमारपुर में चार घोड़े दिए गए थे।...

Dainik Bhaskar

May 01, 2018, 03:00 AM IST
यूपी-हरियाणा बॉर्डर पर तस्करी की वारदातों को रोकने के लिए हरियाणा पुलिस की तरफ से मिमारपुर में चार घोड़े दिए गए थे। यमुना नदी की रेतीली जमीन में इन्हीं घोड़ों से रात की गश्त की जाती थी। पिछले डेढ़ साल से मिमारपुर पुलिस चौकी में घोड़ा गश्त बंद है, जिसका फायदा पशु तस्कर उठा रहे हैं। वे हरियाणा के यमुना नदी के साथ लगते गांवों में पशु चोरी की वारदात को अंजाम देकर यमुना के रास्ते आसानी से यूपी में प्रवेश कर रहे हैं। इसी का नतीजा है कि दो दिन में राई के चार गांवों से पशु चोर 12 भैंस चोरी कर ले गए। पशु चोर गिरोह के सदस्य सीसीटीवी कैमरे में भी कैद हुए, लेकिन उनकी पहचान नहीं हो सकी है।

हरियाणा व यूपी के बीच खाद, डीजल, पेट्रोल, कीटनाशक दवाइयों के अलावा शराब के रेटों में काफी अंतर है। इसी वजह से तस्कर हरियाणा से खरीदकर यूपी में सप्लाई करते हैं। इस तस्करी को रोकने के लिए हरियाणा पुलिस की तरफ से मुरथल थाना की मिमारपुर पुलिस चौकी को घोड़े दिए गए थे। मिमारपुर पुलिस चौकी की घोड़ा गश्त टीम सुबह-शाम यमुना नदी के साथ लगती सीमा पर गश्त करती थी। यमुना की रेतीली जमीन में केवल घोड़ा गश्त ही कामयाब है। डेढ़ साल पहले मिमारपुर चौकी से सभी चार घोड़े मधुबन बुला लिए गए। उसके बाद ये घोड़े यहां वापस नहीं आए। जिस कारण पिछले डेढ़ साल से यमुना नदी की रेतीली जमीन पर तस्करी रोकने के लिए घोड़ा गश्त बंद है, जिसका फायदा तस्कर उठा रहे हैं। वे आसानी से रात के अंधेरे में यमुना के कच्चे रास्ते से यूपी में प्रवेश कर रहे हैं।

चार गांवों में पशु तस्करों ने चोरी किए 12 मवेशी, सीसीटीवी कैमरे में आए तस्कर

चार घोड़े मधुबन भेजे गए हैं उसके बाद घोड़े नहीं मिले हैं


इन गांवों में हुए हैं मवेशी चोरी

पहली घटना: कुंडली गांव के बादाम ने पुलिस को शिकायत दी कि देर रात उसके पशुबाड़े का ताला तोड़कर चोर दो भैंस चोरी कर ले गए। इसी तरह से चोरों ने भतीजे मनोज की दो भैंस चोरी कर ली, जिनकी कीमत करीब ढाई लाख रुपए थी। भैंस चोरी करने के लिए चोर एक कैंटर से आए थे। चोरी की यह वारदात सीसीटीवी कैमरे में रिकाॅर्ड हो गई। कुंडली थाना पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है।

दूसरी घटना: सबोली गांव के ईश्वर ने बताया कि चोर राजेंद्र की दो भैंस व रविंद्र की एक भैंस चोरी कर ले गए। इनकी कीमत दो लाख रुपए थी

तीसरी घटना: मल्हा माजरा गांव के राजेंद्र का आरोप है कि चोर दो भैंस चोरी कर ले गए।

चौथी घटना: नांगल कलां गांव में सुबह तीन बजे के करीब जयकिशन की तीन भैंस चोरी हो गई। जयकिशन के भाई कप्तान ने बताया कि ढाई बजे उन्होंने पशुबाड़े में भैंस बंधी देखी थी। उसके बाद जब चार बजे आए तो भैंस चोरी हो गई थी। चोर कैंटर से वाहन चोरी की वारदात को अंजाम दे रहे हैं।

गढ़मिरकपुर पुलिस चौकी बंद, मिमारपुर में बाइक से होती है गश्त

यूपी बॉर्डर पर गढ़मिरकपुर पुलिस चौकी को भी बंद कर दिया गया है। गढ़मिरकपुर पुलिस चौकी के सभी गांव राई थाना में शिफ्ट कर दिए गए थे। गढ़मिरकपुर पुलिस चौकी पर अब कोई नाकाबंदी नहीं हो रही है। यहां केवल वीटी होने के बाद ही वाहनों की चेकिंग होती है। राई थाना से ही पुलिस की एक टीम यहां भेजी गई है। मिमारपुर पुलिस चौकी में केवल एक बाइक दी गई है। बाइक से यमुना नदी की रेतीली जमीन में गश्त संभव नहीं है। मिमारपुर से लेकर दहिसरा गांव तक यमुना नदी पूरी तरह से सूखी हुई है। यूपी से आ रहे पशु चोर गिरोह के सदस्य यमुना नदी के इसी कच्चे रास्ते का प्रयोग कर रहे हैं। झुंडपुर, मिमारपुर, महेंदीपुर, मनौली टौकी, खुरमपुर व दहिसरा गांव से आसानी से कैंटर यमुना नदी से निकल रहे हैं।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..