• Hindi News
  • Haryana News
  • Sonipat
  • खेवड़ा और पीएम शिक्षण संस्थान में बनेंगी दो नई आईटीआई, विभाग से मिली मंजूरी
--Advertisement--

खेवड़ा और पीएम शिक्षण संस्थान में बनेंगी दो नई आईटीआई, विभाग से मिली मंजूरी

कौशल विकास के क्षेत्र में युवाओं को पारंगत करने के लिए यहां आईटीआई की संख्या में बढ़ोतरी होगी। जिला आईटीआई को मॉडल...

Dainik Bhaskar

May 01, 2018, 03:45 AM IST
कौशल विकास के क्षेत्र में युवाओं को पारंगत करने के लिए यहां आईटीआई की संख्या में बढ़ोतरी होगी। जिला आईटीआई को मॉडल आईटीआई के रूप में विकसित किया जाएगा। विभाग की ओर से कामी के पास स्थित पीएम शिक्षण संस्थान में नई निजी तथा गांव खेवड़ा में सरकारी आईटीआई बनाने की मंजूरी प्रदान कर दी है। इस कड़ी में सरकार की ओर से बजट आवंटन के साथ ही काम भी शुरू कर दिया गया है। अगस्त से शुरू होने वाले नए सत्र में विद्यार्थियों को नई सुविधाओं का लाभ मिलेगा। पीएम कामी एवं खेवड़ा में खुलेगी नई आईटीआई विभाग की ओर से कामी के पास स्थित पीएम शिक्षण संस्थान में नई निजी तथा गांव खेवड़ा में सरकारी आईटीआई बनाने की मंजूरी प्रदान कर दी है। खेवड़ा में जो आईटीआई बनाई जाएगी।

इसमें कुल सीट शुरुआती चरण में 280 होगी। राई मुरथल क्षेत्र के काफी विद्यार्थी हाल में सोनीपत आईटीआई में पढ़ने आते हैं। आने-जाने में ही इनका काफी समय जाता है। कई बार बस निकल जाने से दिक्कत होती है, लेकिन अब उनके गांव के नजदीक में आईटीआई बन जाएगी तो सीधा लाभ मिलेगा। आने-जाने में दिक्कत कम होगी। यही नहीं राई कुंडली औद्योगिक जोन के रूप में लगातार विकसित हो रहा है। यहां हाल में करीब साढ़े तीन हजार छोटी-बड़ी फैक्ट्रियां हैं। कुंडली में तो गुड़गांव की तर्ज पर बड़ी विदेशी कंपनियां भी निवेश कर रही हैं। आईटीआई डिप्लोमा किए युवाओं की यहां हर साल सैकड़ों की संख्या में मांग रहती है। खास बात तो यह है कि आईटीआई डिप्लोमा किए युवा को औद्योगिक जोन नजदीक होने से इंटर्नशिप में भी आसानी रहेगी।

सोनीपत आईटीआई बनेगी आदर्श

आईटीआई प्रदेश सरकार ने सोनीपत की आईटीआई का चयन मॉडल आईटीआई के रूप में किया है। इस पर करीब पांच करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे। आईटीआई में संचालित किए जाने वाले विभिन्न कोर्स को विशेषज्ञ के ऑडियो एवं वीडियो तैयार कर मल्टीपर्पज हॉल में विद्यार्थियों के ज्ञान को बढ़ाया जाएगा। इसके अतिरिक्त डिजिटल लाइब्रेरी में यहां संचालित विभिन्न कोर्सेस को अन्य प्रदेशों के सिलेबस के साथ जोड़कर विद्यार्थियों को सहज रूप से समझाने के लिए फार्मूले निकाले जाएंगे। वहीं मॉडल आईटीआई में कम्युनिकेशन लैब भी तैयार की जाएगी, जिसमें कैंपस को वाई-फाई किया जाएगा। इसके अतिरिक्त विद्यार्थियों को किसी इंडस्ट्री की वर्कशाॅप के साथ सीधे तौर पर जोड़ा जाएगा। यहां मोबाइल, इंटरनेट तथा हार्डवेयर के कोर्स भी शुरू होंगे तथा संस्थान की मौजूदा मशीनरी को भी अपडेट किया जाएगा। आईटीआई में एनसीसी अधिकारी संजय श्योराण ने बताया कि ये सुविधाएं शुरू होने से औद्योगिक क्षेत्र में सोनीपत के युवाओं की प्रतिभा निखर सकेगी। करीब 19 एकड़ में बनी सोनीपत आईटीआई में अभी करीब 1500 विद्यार्थी शिक्षा ग्रहण कर रहे हैं।

अब 14 हो जाएगी आईटीआई

सोनीपत जिले में इस समय 12 आईटीआई हैं, जिसमें सोनीपत, गन्नौर, खरखौदा, फरमाणा, पुरखास, गोहाना, बुटाना, मुंडलाना, कथूरा सरकारी आईटीआई हैं। इसके अतिरिक्त सेहरी, गुढ़ा एवं सोनीपत के शंभुदयाल स्कूल में है। नए सत्र से गांव खेवड़ा व पीएम ग्रुप कामी में भी आईटीआई शुरू होने से यह संख्या बढ़कर 14 हो जाएगी।


X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..