Hindi News »Haryana »Sonipat» गुहला चीका में जनस्वास्थ्य विभाग के एसडीओ को रिश्वत लेने पर सस्पेंड का मामला

गुहला चीका में जनस्वास्थ्य विभाग के एसडीओ को रिश्वत लेने पर सस्पेंड का मामला

10 को गुहला चीका में ग्रीवेेसेंज कमेटी की बैठक में दो ठेकेदारों ने जनस्वास्थ्य विभाग के एसडीओ वेदपाल पर रिश्वत...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 18, 2018, 04:05 AM IST

गुहला चीका में जनस्वास्थ्य विभाग के एसडीओ को रिश्वत लेने पर सस्पेंड का मामला
10 को गुहला चीका में ग्रीवेेसेंज कमेटी की बैठक में दो ठेकेदारों ने जनस्वास्थ्य विभाग के एसडीओ वेदपाल पर रिश्वत मांगने का आरोप लगाया था। बैठक की स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज अध्यक्षता कर रहे थे। उन्होंने बगैर एसडीओ का पक्ष सुने ही एसडीओ को तत्काल ही सस्पेंड करने का फरमान जारी कर दिया। जिसके विरोध में डिप्लोमा इंजीनियर एसोसिएशन के बैनर तले इंजीनियरों और विभिन्न कर्मचारी संगठनों के यूनियन कर्मियों ने गुरुवार को डीसी कार्यालय में नारेबाजी कर विज को सार्वजनिक रूप से माफी मांगने और मुख्यमंत्री से ग्रीवेंसेज कमेटी की बैठक से हटाने की मांग की। एसोसिएशन के प्रधान ने कहा कि विज ने पूर्व नियोजित तरीके से जानबूझकर एसडीओ को सस्पेंड किया। सुप्रीम कोर्ट भी बिना पक्ष सुने फैसला नहीं सुनाती है। लेकिन पावर का गलत इस्तेमाल किया जा रहा है। गोहाना रोड स्थित जनस्वास्थ्य विभाग के सर्कल कार्यालय में डिप्लोमा इंजीनियर एसोसिएशन के आह्वान पर सर्व कर्मचारी संघ, सर्व कर्मचारी महासंघ, संयुक्त कर्मचारी मंच, सीटू और आशा वर्करों का नेतृत्व करने यूनियन नेता इकट्ठा हुए। एक सभा की गई। यहां से कर्मियों ने नारेबाजी करते हुए डीसी कार्यालय तक पैदल मार्च किया। मौके पर जेई दिलबाग मेहरा, अनिल दहिया, सुशील कुमार, प्रवीन छिक्कारा, सुरेंद्र सरोहा, सिंचाई विभाग से मनोज, वेदपाल, गोहाना से कृष्ण वर्मा, बलराज मोर जेई, एसडीओ राकेश, एसडीओ अमित महला, सर्व कर्मचारी संघ से जयभगवान, शीलकराम, संयुक्त कर्मचारी मंच के रविकांत, श्यामचंद और संसार मौजूद रहे।

स्वास्थ्य मंत्री द्वारा एसडीओ को असंवैधानिक तरीके से सस्पेंड करने पर बिफरे इंजीनियरों और कर्मचारी संगठनों ने डीसी के माध्यम से मुख्यमंत्री को भेजा मांगपत्र

कर्मचािरयों ने जनस्वास्थ्य विभाग कार्यालय से उपायुक्त कार्यालय तक किया प्रदर्शन

सोनीपत . लघुसचिवालय में रोष प्रदर्शन करते करते कर्मी।

ग्रीवेंसेज के तीन दिन पहले एसडीओ को पीटा गया था

इंजीनियर एसोसिएशन के प्रधान सतपाल योगी ने बताया कि सात मई को गुहला चीका के जनस्वास्थ्य विभाग कार्यालय में विधायक कुलवंत बाजीगर के कारिंदों ने एसडीओ वेदपाल के साथ मारपीट की। 10 तारीख को ग्रीवेंसेज कमेटी की बैठक में पूर्व नियोजित तरीके से दो ठेकेदारों को पेश किया गया। जिन्होंने झूठे ही रिश्वत मांगने का आरोप लगा दिया। अनिल विज ने बगैर बात सुने ही एसडीओ का तत्काल ही सस्पेंड कर दिया। मामले में एसई तक की बात नहीं सुनी गई।

यह मांगें रखी गई : एसडीओ के साथ मारपीट करने वालों पर मुकदमा दर्ज किया जाए और कानूनी कार्रवाई की जाए। एसडीओ को सस्पेंड करने का फरमान तत्काल वापस लिया जाए। स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज को ग्रीवेंसेज कमेटी की बैठक से हटाया जाए। ताकि सरकार की और छवि यह मंत्री खराब नहीं कर सके। मंत्री विज सार्वजनिक रूप से गलती के लिए माफी मांगें।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Sonipat

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×