पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अभिभावकों की सोच ने बदले हैं खेलों में हालात

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
वह निगेटिव समय बीत गया जब पाॅवर गेम में अभिभावक अपनी बेटी अथवा बहन को भेजने से हिचकते थे। अब खुद मुक्केबाज तक बनाने के लिए रिंग तक लेकर आते हैं और कोच से कहते हैं बना दो इसे भी मुक्केबाज। आज मैं विश्व स्तर पर रजत पदक जीत सकी तो उसके पीछे मेरे मां-बाप का मुझ पर एवं कोच पर भरोसा ही था। यह कहना है मौजूदा समय में मेरीकाम के बाद देश की दूसरी सबसे कामयाब मुक्केबाज हरियाणा की सानिया चहल का। यहां टीडीआई इंटरनेशनल स्कूल के खेल उत्सव में खिलाड़ियों का हौंसला बढ़ाने पहुंची सोनिया ने भास्कर से कहा कि खेलों में हम आगे बढ़ रहे हैं तो इसके पीछे खिलाड़ियों को मिलने वाले एडवांस संसाधनों के अलावा अभिभावकों की सोच भी है। पहले पाॅवर खेलों के लिए लड़कियां इतनी संख्या में नहीं आती थी। चूंकि मेरे गांव से कविता चहल ने भी देश का नाम रोशन किया है तो मेरे अभिभावकों ने मेरा भी खेलों में आगे बढ़ने के लिए हौंसला बढ़ाया। उन्होंने कहा कि अगले साल से ओलंपिक क्वालीफाई शुरू हो रहे हैं इसलिए अब उसी में कामयाब होना उनका लक्ष्य रहेगा।

सोनिया चहल

‘अभिभावकों की सोंच से हम बढ़ रहे आगे’
फेडरेशन ने बार-बार अपील के बावजूद ट्रायल नहीं करवाया

साल 2016 व 2018 में नेशनल चैंपियन मुक्केबाज होने के बावजूद भी राष्ट्रीय टीम में नहीं होने के कारण पूजा देश के लिए वर्ल्ड चैंपियनशिप में नहीं खेल सकी। क्योंकि फेडरेशन ने बार-बार अपील के बावजूद उनका ट्रायल ही नहीं करवाया। उनकी जगह उस मुक्केबाज का चयन किया गया, जिसे वह हरा चुकी थी। उन्होंने कहा कि खेलों में आगे बढ़ने के लिए चयन के लिए पार्दर्शिता बेहद जरूरी है।

पूजा

भरोसा बनाए रखने के लिए कड़ी मेहनत जरूरी
देश को 16 से ज्यादा वर्ल्ड मेडलिस्ट दे चुके जगदीश सिंह ने कहा अभिभावकों की सोच ने बदली है खेलों में हालात। उन्हें अच्छा लगता है जब अभिभावक लड़कियों को रिंग तक लेकर आते हैं। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि अभिभावकों की सोच को पॉजीटिव बनाने में कोचिंग की काफी महत्वपूर्ण भूमिका है। ऐसे में यहां प्रशिक्षकों की जिम्मेदारी बनती है कि वे खिलाड़ियों के साथ खुद कड़ी मेहनत करें साथ ही पारीवारिक माहौल भी प्रदान करें, जिससे वे उनके पास सुरक्षित महसूस कर सकें। तभी हम भविष्य में भी आगे बढ़ सकेंगे।

जगदीश सिंह

खबरें और भी हैं...