--Advertisement--

लंदन में सिख सैनिकों के सम्मान में बने ‘लॉयन ऑफ द ग्रेट वाॅर’ स्मारक पर उपद्रवियों ने लिखे नस्ली कमेंट

ब्रिटेन के वेस्ट मिडलैंड्स के स्मिथविक टाउन स्थित गुरुनानक गुरुद्वारे के बाहर बीते रविवार को वर्ल्डवाॅर खत्म...

Dainik Bhaskar

Nov 11, 2018, 03:40 AM IST
Rai - racial racial commentary on 39lion of the great war39 memorial in honor of sikh soldiers in london
ब्रिटेन के वेस्ट मिडलैंड्स के स्मिथविक टाउन स्थित गुरुनानक गुरुद्वारे के बाहर बीते रविवार को वर्ल्डवाॅर खत्म होने के 100 साल पूरे होने पर सिख सैनिक की 10 फीट ऊंची कांसे की प्रतिमा का अनावरण किया गया। यह स्मारक उन भारतीय व एशियाई सैनिकों के सम्मान में बनाया है जिन्होंने पहले विश्व युद्ध में ब्रिटेन की तरफ से लड़ते हुए जान दे दी थी। इस प्रतिमा के नीचे बड़े-बड़े अंकों में ‘लॉयन ऑफ द ग्रेट वाॅर’ लिखा था। उद्घाटन के सप्ताह भर में ही प्रतिमा भी नस्लवाद से बच नहीं पाई। स्मिथविक स्थित कुछ उपद्रवियों ने शुक्रवार रात लॉयन ऑफ द ग्रेट वाॅर को काले स्प्रे पेंट से काट दिया। उसकी जगह ‘सिपाही नो मोर’ और ‘1 जरनैल’ लिख दिया। सिपाही शब्द का उपयोग ब्रिटिश इंडियन आर्मी में निचले दर्जे के सैनिक के लिए उपयोग किया जाता था। जरनैल लिखकर उपद्रवियों ने सैनिक की तुलना जरनैल सिंह भिंडरांवाला से की है। इस बात को लेकर वहां मौजूद सिख कम्युनिटी समेत अन्य लोगों में डर और चिंता का माहौल है।

सिख सैनिकों की शहादत को याद कराएगी प्रतिमा

काले पेंट से लिखे नस्ली कमेंट

बर्मिंघम एजबेस्टन के सांसद ने कहा कि 2022 में यहां कॉमनवेल्थ गेम्स होने हैं। उस दौरान यह प्रतिमा हर कॉमनवेल्थ देश के नागिरकों काे सिख सैनिकों की शहादत को याद करने का मौका देगी, जिन्होंने बिना किसी हिचक के पूरे युद्ध के दौरान लोकतंत्र को बचाए रखने के लिए अपनी जान दी और आजादी के लिए लड़े। उन्होंेने कहा ब्रिटिश आर्मी में हर छठा सैनिक भारतीय था, जिसने सेना को बड़ा बनाया।

वेंकैया नायडू ने फ्रांस में युद्ध स्मारक का लोकार्पण किया

पेरिस|उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू ने शनिवार को फ्रांस में भारत की मदद से बनाए गए युद्ध स्मारक का लोकार्पण किया। यह स्मारक प्रथम विश्व युद्ध में मारे गए भारतीय सैनिकों की याद में बनाया गया है। स्मारक उसी जगह पर बना है, जहां 20 नवंबर 1917 को कैम्बराई की लड़ाई हुई थी। इस लड़ाई में अनेक भारतीय जवानों सहित लगभग 40 हजार जवान शहीद हुए थे।

Rai - racial racial commentary on 39lion of the great war39 memorial in honor of sikh soldiers in london
X
Rai - racial racial commentary on 39lion of the great war39 memorial in honor of sikh soldiers in london
Rai - racial racial commentary on 39lion of the great war39 memorial in honor of sikh soldiers in london
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..