--Advertisement--

स्मॉग का असर : 12 तक बंद रहेंगी चिमनी वाली फैक्ट्रियां व ईंट भट्ठे

स्मॉग की वजह से दिल्ली के साथ लगती एनसीआर की सभी चिमनी वाली फैक्ट्रियों व ईंट भट्ठों को 12 नवंबर तक बंद करने के आदेश...

Dainik Bhaskar

Nov 11, 2018, 03:40 AM IST
Rai - the effect of smog will be closed till 12 with chimney factories and brick kiln
स्मॉग की वजह से दिल्ली के साथ लगती एनसीआर की सभी चिमनी वाली फैक्ट्रियों व ईंट भट्ठों को 12 नवंबर तक बंद करने के आदेश दिए गए है। शनिवार शाम को पर्यावरण एवं प्रदूषण विभाग के चेयरमैन भूरालाल ने अपने पत्र क्रमांक ईपीसीए-आर-2018 एल-97 के तहत सभी एचएसआईआईडीसी राई व कुंडली के उद्योगपतियों को भेज दिया है। राई, कुंडली व मुरथल की बायलर वाली फैक्ट्रियां पहले भी तीन दिन से बंद थी और अब समय बढ़ने से उद्योगपतियों को परेशानी का सामना करना पड़ेगा।

दिल्ली में स्मॉग की वजह से बढ़ रहे प्रदूषण पर कोर्ट से लेकर एनजीटी व सरकार ने कड़ा संज्ञान पहले ही ले रखा है। अब पर्यावरण एवं प्रदूषण विभाग के चेयरमैन भूरालाल ने भी इस पर कड़ा आदेश पारित किया है। उन्होंने अपने आदेश में एनसीआर की सभी चिमनी वाली फैक्ट्रियाें के अलावा ईंट भट्ठों पर 12 नवंबर तक पूर्ण रूप से प्रतिबंध लगा दिया है। इस अादेश का सबसे अधिक कुप्रभाव राई , कुंडली व मुरथल की फैक्ट्रियों पर पड़ेगा। यहां बायलर यूनिट ज्यादा है। पर्यावरण एवं प्रदूषण विभाग के इस आदेश पर उद्योगपतियों ने भी अपनी प्रतिक्रिया दी है।


राई. कुंडली की एक फैक्ट्री की चिमनी से निकलता धुअां।

सरकार कर रही है परेशान : देवगण

रीमा एसोसिएशन के प्रधान राकेश देवगण ने कहा कि सरकार उद्योगपतियों को परेशान कर रही है। प्रदूषण की वजह केवल इंडस्ट्री नहीं है। राई औद्योगिक क्षेत्र में सड़क पर कचरा पड़ा हुआ है। खुले में कचरा जलाया जा रहा है। इस पर किसी विभाग की कोई नजर नहीं है। राई व कुंडली में प्रतिदिन तीन करोड़ का नुकसान हो रहा है। ऑर्डर तक केंसिल हो रहे है। समय पर माल तैयार नहीं होने पर पैनल्टी तक लग रही है। सरकार को चाहिए कि कुछ समय के लिए इंडस्ट्री को चलाने की अनुमति दे।

पहले 4 दिन के लिए बंद की गई थीं फैक्ट्रियां

गौरतलब है कि इससे पहले इन फैक्ट्रियों और ईंट भट्‌ठों, भवन निर्माण को बंद किया गया था। यह आदेश एनजीटी ने चार दिन पहले छह नवंबर से दस नवंबर तक के लिए दिए थे। दस नवंबर को फैक्ट्रयों को फिर चालू कर दिया गया, लेकिन दिल्ली एनसीआर में स्माॅग के बढ़ते स्तर को देखते हुए 12 नवंबर तक के लिए बढ़ा दिया गया है।

डीजल के वाहनों का दिल्ली में प्रवेश बंद है

डीजल के वाहनों पर दिल्ली में प्रवेश पर पूर्ण रोक लगा दी गई है। पहले तीन दिन तक इन वाहनों का दिल्ली में प्रवेश नहीं करने के आदेश दिए गए थे। अब यह समय भी 12 नवंबर तक बढ़ा दिया गया है। इसके तहत शनिवार को भी जिला यातायात थाना पुलिस के सहयाेग से गश्त कर हैव्वी वाहनों को रोका गया है। जो वाहन दिल्ली के रास्ते यूपी में जाते थे, उन्हें केजीपी के रास्ते डायवर्ट किया जा रहा है।

X
Rai - the effect of smog will be closed till 12 with chimney factories and brick kiln
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..