• Hindi News
  • Haryana
  • Yamunanagar
  • पुलिस कर्मी की होगी मेडिकल जांच पुलिस-डॉक्टरों के दर्ज होंगे बयान
--Advertisement--

पुलिस कर्मी की होगी मेडिकल जांच पुलिस-डॉक्टरों के दर्ज होंगे बयान

सिविल अस्पताल में भर्ती मंदबुद्धि महिला से दुष्कर्म के मामले की महिला आयोग नए सिरे से जांच चाहता है। आयोग ने पुलिस...

Dainik Bhaskar

Feb 01, 2018, 01:40 PM IST
पुलिस कर्मी की होगी मेडिकल जांच पुलिस-डॉक्टरों के दर्ज होंगे बयान
सिविल अस्पताल में भर्ती मंदबुद्धि महिला से दुष्कर्म के मामले की महिला आयोग नए सिरे से जांच चाहता है। आयोग ने पुलिस की जांच पर सवाल उठाए हैं। पुलिस ने आयोग को दी अपनी रिपोर्ट में कहा था कि दुष्कर्म के कोई सबूत नहीं मिले हैं।

आयोग की सदस्य नम्रता गौड़ के मुताबिक पुलिस सही जांच नहीं कर रही। अब तक आरोपी पुलिस कर्मी का मेडिकल तक नहीं कराया, जबकि यह जरूरी था।

आयोग ने फैसला लिया है कि आरोपी पुलिस कर्मी का मेडिकल कराया जाएगा। इसके साथ ही घटना के बाद मौके पर पहुंचे सिविल अस्पताल पुलिस चौकी के कर्मचारियों, डॉक्टरों और वार्ड में मौजूद स्टाफ के आमने-सामने बैठाकर बयान दर्ज किए जाएंगे। जल्द ही आयोग की टीम दोबारा यमुनानगर पहुंचेगी। गौड़ ने बताया कि इस मामले को लेकर आयोग गंभीर है।

पुलिस ने इन पहलुओं पर नहीं की जांच: महिला पुलिस थाने में अज्ञात पुलिस कर्मी के खिलाफ केस दर्ज किया है। इस मामले का खुलासा करने वाली फरीदा ने बताया था कि आरोपी पुलिस कर्मी नशे में था, लेकिन पुलिस ने आरोपी पुलिस कर्मी का मेडिकल नहीं कराया। वहीं दुष्कर्म की पुष्टि के लिए महिला का ही मेडिकल कराया गया, आरोपी का मेडिकल नहीं कराया गया। आरोपी से सख्ती से पूछताछ नहीं की गई। सिर्फ उसे जांच में शामिल कर जो बयान पुलिस कर्मी ने दिए, पुलिस ने उसे ही सच मान लिया।

पुलिस ने दी थी रिपोर्ट दुष्कर्म के सबूत नहीं मिले

यह है मामला: मंदबुद्धि महिला को सिविल अस्पताल के महिला वार्ड में भर्ती किया गया था। उसी वार्ड में कैदी वार्ड था। 26 दिसंबर की रात को वार्ड में फरीदा ने हंगामा कर दिया। महिला का कहना था कि पुलिस कर्मी मंदबुद्धि महिला से दुष्कर्म कर रहा था। अगले दिन महिला पुलिस ने इस मामले में अज्ञात पुलिस कर्मी के खिलाफ केस दर्ज किया था।

X
पुलिस कर्मी की होगी मेडिकल जांच पुलिस-डॉक्टरों के दर्ज होंगे बयान
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..