बाडी माजरा में विवादित जमीन पर लगी अंबेडकर की मूर्ति तोड़ी, दलितों का पूर्व सरपंच पर अाराेप

Yamunanagar News - बाडी माजरा में विवादित जमीन पर लगी डाॅ. भीम राव आंबेडकर की मूर्ति तोड़ दी गई। सुबह जैसे ही दलित समुदाय के लोगों को...

Bhaskar News Network

Apr 17, 2019, 08:36 AM IST
Yamunanagar News - haryana news badee majra broke the statue of ambedkar on the disputed land arayape on the former sarpanch of dalits
बाडी माजरा में विवादित जमीन पर लगी डाॅ. भीम राव आंबेडकर की मूर्ति तोड़ दी गई। सुबह जैसे ही दलित समुदाय के लोगों को इसका पता चला तो विरोध शुरू हो गया। देखते ही देखते लोग वहां पर पहुंच गए और विरोध करने लगे। सूचना मिलते ही सदर थाना यमुनानगर पुलिस मौके पर गई। तहसीलदार और डीएसपी सुभाष चंद भी मौके पर हंगामा कर रहे लोगों को मनाने पहुंचे।

डीएसपी ने शिकायत पर तुरंत केस दर्ज करने और नई मूर्ति लगवाने की बात कही तो दलित पक्ष के लोग माने। प्रशासन ने तुरंत मूर्ति लगवाने की कार्यवाही शुरू कर दी। मुलाना के पास बिंजल गांव से मूर्ति लाने के लिए लोग रवाना हुए और शाम साढ़े छह बजे मूर्ति लाकर वहां पर लगाई। तब तक मूर्ति ताेड़ने का विरोध करने वाले वहीं पर जमे रहे। तहसीलदार का कहना है कि दोनों पक्षों को बुधवार को बुलाया गया है। रिकॉर्ड की जांच की जाएगी। वहीं डीएसपी ने कहा कि शिकायत पर केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

अंबेडकर की मूर्ति तोड़ने से गुस्साए लोगों को समझाते डीएसपी।

यहां जबरदस्ती लगाई गई मूर्ति : पूर्व सरपंच

गांव के पूर्व सरपंच अमर सिंह ने बताया कि यह करीब आठ मरले जमीन है। यह जमीन खाली पड़ी थी। कुछ लोगों ने इस पर जबरदस्ती कब्जा कर लिया। बाद में इस पर अंबेडकर की मूर्ति लगा दी। इसको लेकर वे कोर्ट में गए। कोर्ट ने 12 अप्रैल को इस पर स्टेटस को कर दिया। इस बात से दलित पक्ष खफा है और उन पर मूर्ति खंडित करने का झूठा आरोप लगाया गया है। उनके पास इस जमीन का पूरा रिकॉर्ड है। वे गांव के कई साल सरपंच रहे हैं। वे इसकी कानूनी लड़ाई लड़ेंगे।

अंबेडकर जयंती पर लगी थी मूर्ति

बाडी माजरा निवासी देवीचंद ने पुलिस को शिकायत दी कि उन्होंने गांव की हड्डी रोड़ी की जमीन पर पैसे एकत्रित कर मिट्टी डलवाई थी। तीन माह पहले उन्होंने कानूनगो से पैमाइश करा यहां पर गुरु रविदास जयंती पर डॉक्टर भीमराव अंबेडकर की मूर्ति स्थापित की जिसको लेकर अमर सिंह ने हमारे खिलाफ कोर्ट में केस कर दिया। 12 अप्रैल को कोर्ट में सुनवाई हुई। अगली तारीख 14 अगस्त की है। दूसरे पक्ष के लोगों ने हमें धमकी दी थी कि वे किसी भी समय अंबेडकर की मूर्ति तोड़ देंगे। ये धमकी देने वालों का ही काम है। इसको अमर सिंह, बलजिंद्र सिंह, हरि सिंह, रूप राम, व अन्य ने रात 12 बजे मूर्ति खंडित कर दी। पुलिस ने इस शिकायत पर इस मामले में धारा-295ए में केस दर्ज किया है।

X
Yamunanagar News - haryana news badee majra broke the statue of ambedkar on the disputed land arayape on the former sarpanch of dalits
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना