पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Yamunanagar News Haryana News Capacity Of Magnification Canal Will Be 4500 To 6 Thousand Times

आवर्धन नहर की क्षमता 4500 से की जाएगी 6 हजार क्यूसिक

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
गर्मी के दिनों में दक्षिण हरियाणा को जरूरत के हिसाब से अधिक नहरी पानी की आपूर्ति की जा सके इसके लिए अगमनटेशन चैनल (आवर्धन नहर) की जल संग्रहण क्षमता में करीब 15 सौ क्यूसिक की बढ़ोत्तरी की जाएगी। हमीदा हैड से करनाल के मुनक हैड तक करीब 67 किमी लंबी इस नहर की क्षमता अभी 45सौ क्यूसिक है, लेकिन पानी 32सौ क्यूसिक के आसपास ही चल पाता है। अब इसकी चौड़ाई बढ़ाई जाएगी। इससे इसकी क्षमता छह हजार क्यूसिक हो जाएगी। इसके लिए नहर के दोनों किनारों को तोड़कर दोबारा बनाया जाएगा। नहर के 20 किमी हिस्से का काम यमुनानगर के अधिकारी कराएंगे जबकि शेष हिस्से का काम करनाल डिवीजन करेगी। रास्ते में पड़ने वाले कई पुल व पुलियों को भी बदले जाने का प्लान है। इस पूरे काम पर 604 करोड़ खर्च आने का अनुमान है।

विभाग के अधिकारियों की योजना है कि मानसून सीजन खत्म होते ही नवंबर माह में इसका काम शुरू करा दिया जाए। ताकि तय की गई दो साल की डेट लाइन में इसका काम पूरा हो सके। 2021 के अंतिम या 2022 के शुरूआत क्वार्टर में इस काम को पूरा किया जा सके। जब आवर्धन नहर की क्षमता बढ़ाने का काम चलेगा तब तक दो साल पश्चिम यमुना नहर डब्ल्यूडेजी से पानी को मुनक हैड तक पहुंचाया जाएगा। लेकिन अभी डब्ल्यूजेसी की क्षमता बढ़ाने का काम चल रहा है। इसकी क्षमता को 15500 क्यूसिक से बढ़ाकर 17530 क्यूसिक की जा रही है। यह काम मानसून से पहले नहरी विभाग को पूरा कर लेना था, लेकिन कई कारणों के चलते यह लेट हो गया। अब मानसून सीजन के बाद पहले अधिकारी डब्ल्यूजेसी का बचा काम पूरा कराएंगे उसके बाद ही आवर्धन नहर को बंद कर पानी इसमें छोड़ा जाएगा। ऐसे में संभव है कि आवर्धन नहर की क्षमता बढ़ाने का काम फरवरी तक शुरू हो पाए।

दक्षिण हरियाणा को 3500 क्यूसिक ज्यादा पानी
अभी दक्षिण हरियाणा को आवर्धन नहर से अधिकतम 45 सौ क्यूसिक व डब्ल्यूजेसी से 15500 क्यूसिक पानी की आपूर्ति की जा सकती है। लेकिन दोनों नहरों की हालत एेसी नहीं है कि पूरी क्षमता में पानी छोड़ा जा सके। अभी ये अंडर केपिसिटी चल रहीं हैं। लेकिन क्षमता बढ़ने के बाद आवर्धन नहर से छह हजार व डब्ल्यूजेसी से 17530 क्यूसिक पानी की आपूर्ति की जा सकेगी। इससे दक्षिण हरियाणा को करीब 3530 क्यूसिक अतिरिक्त पानी मिल सकेगा। गर्मी के दिनों में भी 1500 क्यूसिक अतिरिक्त पानी उपलब्ध रहेगा।

अगमनटेशन चैनल की क्षमता को छह हजार क्यूसिक किया जाना है। इसका पेपर वर्क पूरा हो चुका है। बरसात के बाद इसका काम शुरू कराने की योजना है। इसके 20 किमी के हिस्से को हम पूरा करेंगे, बकाया काम करनाल डिविजन करेगी। इसका दक्षिण हरियाणा को अच्छा लाभ मिलेगा। डब्ल्यूजेसी की क्षमता बढ़ाने का मेजर काम हो चुका है। कुछ प्वाइंट बचे हैं उन्हें बरसात के बाद पूरा करा दिया जाएगा। इसमें अधिक समय नहीं लगेगा। विमल कुमार, एसई सिंचाई विभाग यमुनानगर

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज का दिन परिवार व बच्चों के साथ समय व्यतीत करने का है। साथ ही शॉपिंग और मनोरंजन संबंधी कार्यों में भी समय व्यतीत होगा। आपके व्यक्तित्व संबंधी कुछ सकारात्मक बातें लोगों के सामने आएंगी। जिसके ...

और पढ़ें