स्टोन क्रशर संचालक की पत्नी रोजी हत्याकांड में नौकर का कबूलनामा

Bhaskar News Network

May 18, 2019, 08:55 AM IST

Yamunanagar News - स्टोर क्रशर संचालक दीपांशु सिक्का उर्फ मोंटी की 26 वर्षीय प|ी रोजी के मर्डर को पुलिस ने 24 घंटे में सुलझाने का दावा...

Yamunanagar News - haryana news confessions of a servant at the stone of the stone crusher operator39s wife
स्टोर क्रशर संचालक दीपांशु सिक्का उर्फ मोंटी की 26 वर्षीय प|ी रोजी के मर्डर को पुलिस ने 24 घंटे में सुलझाने का दावा किया है। पुलिस के मुताबिक हत्यारा सिक्का परिवार का नौकर राजेश पासवान उर्फ विलट है। डीएसपी प्रदीप राणा ने बताया कि सीआईए टू की कई घंटे की पूछताछ में आरोपी ने कबूला कि मालकिन भरपेट खाना नहीं देती थी। गुरुवार दोपहर को 1 बजे भूख लगी थी लेकिन रोजी ने खाना देने से मना कर दिया।

इसी वजह से रसोई से चाकू उठाकर रोजी की गर्दन पर पर प्रहार किया। सीआईए टू इंचार्ज श्रीभगवान यादव ने बताया कि आरोपी ने अपना असली नाम विलट किसी को नहीं बताया था। पुलिस उसे साइको केस भी मान रही है। शनिवार को आरोपी को कोर्ट में पेश कर पुलिस रिमांड पर लेगी। रोजी के शव का जगाधरी सिविल अस्पताल में डॉ. हरसिमरन सिंह, डॉ. रितेश कुमार और नुपूर बहगल के पैनल ने पोस्टमार्टम किया। शव का दो बजे संस्कार हुआ।

बेटे ख्यान के साथ रोजी का फाइल फोटो।

सर्वेंट क्वार्टर के बाथरूम में खून के धब्बे देख हुआ था शक, अंगुली पर दांतों के निशान ने किया पुख्ता

पिता की मौत के बाद मुझे अपने हिस्से में से एक रोटी कुत्ते को डालनी पड़ती थी

मालिक (दीपांशु) की शादी से पहले मैं ही खाना बनाता था। तब जो चाहे खाता था। पिछले साल मालिक की शादी के बाद मालकिन ने मुझसे खाना बनवाना बंद कर दिया। साफ-सफाई और कपड़े धोने का काम कराया जाता था। मुझे 7-8 रोटी की भूख लगती थी लेकिन मालकिन 5 रोटी से ज्यादा नहीं देती थी। मैंने कई बार उनसे कहा भी कि मेरी भूख नहीं मिटती। हालांकि मालिक को कभी यह बात नहीं बताई। मार्च में मेरे पिता का देहांत हो गया। मैं घर बिहार गया था। वहां से आया तो अपने हिस्से से एक रोटी कुत्ते को भी देनी होती थी। गुरुवार सुबह मैंने काम किया और 10 बजे नाश्ता किया। सुबह 11.30 बजे मालिक दीपांशु और राजेंद्र सिक्का काम पर चले गए। काम से फ्री होकर करीब डेढ़ बजे कोठी में गया और खाना मांगा। मालकिन ने कहा कि दीपांशू के आने पर ही खाना बनेगा। मुझे इतना गुस्सा आया कि किचन से चाकू उठाया। मालकिन बेड पर बैठकर गेम खेल रहीं थीं। मैंने दाई बाजू से गर्दन को जकड़ा और बाएं हाथ में लिए चाकू से गला रेत दिया। मालकिन ने मेरे हाथ को दांत से काटा लेकिन मैंने छुड़ा लिया। उन्होंने चाकू से बचने की कोशिश में संघर्ष किया। पांच मिनट तक गर्दन पर चाकू चलाता रहा। फिर चाकू को किचन में धोकर वहीं छिपाया और अपने कमरे पर जाने लगा। गेट नहीं खुला तो छोटे गेट से कूदकर बाहर गया। वहां पर जाकर खून से सने कपड़ों को धोया। करीब पौने दो बजे मालिक के मोबाइल फोन कर कहानी बनाई कि मालकिन गेट नहीं खोल रहीं। मैं डर गया था लेकिन पता था कि कहीं भागा तो कहीं न कहीं से पकड़ा जाऊंगा। यदि घर पर ही रहूंगा तो शायद कोई शक नहीं करेगा, यही सोचकर भागा नहीं। जब पिता की मौत पर मैं घर गया था तो मालिक को फोन कर 30 हजार रुपए खाते में डलवाने को कहा था लेकिन उन्होंने मना कर दिया था।

-पुलिस के मुताबिक जैसा आरोपी नौकर राजेश ने कबूला

7 रोटी की भूख होती थी, मालकिन 5 देती थी, मैंने गले पर 5 मिनट चाकू चलाया

दो रोटी के लिए मर्डर

घर में विलाप करने वालों को पानी पिलाता रहा हत्यारोपी नौकर

दुष्कर्म तो नहीं किया, इस एंगल पर भी होगी जांच, सैंपल लिए

पुलिस इस मामले में इस एंगल से भी जांच कर रही है कि कहीं रेप के बाद हत्या तो नहीं की गई। पोस्टमार्टम के दौरान इसकी पुष्टि के लिए सैंपल लिए गए हैं। आरोपी के डीएनए सैंपल भी लिए जाएंगे। हालांकि आरोपी राजेश से जब पुलिस ने इस एंगल से पूछताछ की तो उसने कान पकड़ कर कहा राम-राम-राम। यह तो उसके लिए पाप है। उसने ऐसा कभी सोचा भी नहीं।

इस चाकू को खुद लेकर आया था राजेश: जिस चाकू से रोजी की हत्या की गई है वह खुद राजेश बाजार से लेकर आया था। उसने कहा था कि छोटे चाकू से सब्जी ठीक से नहीं कटती, इसलिए वह आरी से बना चाकू लेकर आया था।

हमें नहीं लगता था नौकर ऐसा करेगा: सिक्का

राजेंद्र सिक्का का कहना है कि राजेश पर भरोसा था। इसलिए वे घर को उसके हवाले छोड़ कर जाते थे। जब वे नया स्क्रीनिंग प्लांट लगा रहे थे तो तीन माह तक उसने सारा काम देखा। उसे काम के लिए आने-जाने के लिए एक्टिवा तक दे रखी थी। नौकर ने उनका विश्वास ही नहीं तोड़ा, परिवार बर्बाद कर दिया।

पुलिस के कब्जे में जाने के बाद शव से गहने गायब

यमुनानगर | न्यू जैन नगर निवासी रोजी की पहनी ज्वैलरी गायब हो गई है। परिवार का कहना है कि जब तक शव कमरे में पड़ा था, तब तक ज्वैलरी पूरी थी। पुलिस ने शव कब्जे में लिया और जब पोस्टमार्टम के दौरान ज्वैलरी परिजनों को दिखाई तो वह पूरी नहीं मिली। रोजी के ससुर राजेंद्र सिक्का ने वहीं पर कहा कि ज्वैलरी तो पूरी थी, गायब कैसे हुई यह तो पुलिस को या फिर अस्पताल स्टाफ को पता होगा। यह सुनकर पुलिस की टेंशन भी बढ़ गई। पुलिस तुरंत मौके से ली गई फोटो और वीडियो में जांच करने लगी। फोटो में दोनों हाथों में डाले दो-दो सोने के कड़े नजर आ रहे हैं। हालांकि अंगूठी और मंगलसूत्र नजर नहीं आया। तभी वहां पर उनका पड़ोसी प्रदीप अग्रवाल पहुंचा। उन्होंने भी अपने मोबाइल में फोटो दिखाई और दावा किया कि इसमें मंगल सूत्र व अन्य ज्वैलरी नजर आ रही है। तब पुलिस ने पहले पोस्टमार्टम कार्रवाई के बाद इसकी जांच करने की बात कही। राजेंद्र सिक्का ने पोस्टमार्टम रूम के बाहर बताया कि उनकी पुत्रवधु के एक हाथ के दो चूड़ियां, मंगल सूत्र, एक सोने की बाली, दो सोने की अंगूठी गायब हैं। रोजी के शव से एक हाथ की दो चूड़ियां, एक बाली ही मिली है। एसएचओ जगाधरी राकेश राणा का कहना है कि जो भी सामान था, वह परिजनों के सामने था। मौके की पूरी वीडियोग्राफी और फोटोग्राफी है।

एक बाली, एक हाथ के दो कड़े, मंगलसूत्र और दो अंगूठियां नहीं मिलीं

डीजीपी के भाई ने सुस्त बता निकाला था नौकरी से तब सिक्का परिवार ने रखा

आरोपी राजेश कई साल से यमुनानगर में रह रहा है। वह इससे पहले बिलासपुर के तत्कालीन डीएसपी के पास भी काम कर चुका है। वहीं डीजीपी के भाई के पास भी वह रह चुका है। डीजीपी रहे केपी सिंह के भाई आदर्शपाल ने उसे इसलिए नौकरी से निकाल दिया था वह सुस्त था। इसके बाद उसे सिक्का ने रखा था। यहां पर करीब दो साल से लगा हुआ था। सिक्का की प|ी की 2016 में मौत हो गई थी। दीपांशू व रोजी की शादी फरवरी 2018 में हुई।

आरोपी राजेश की अंगुली पर रोजी के काटे के निशान।

24 घंटे में खुलासा

भास्कर ने पहले बता दिया था

17 मई को छपी खबर

Yamunanagar News - haryana news confessions of a servant at the stone of the stone crusher operator39s wife
Yamunanagar News - haryana news confessions of a servant at the stone of the stone crusher operator39s wife
Yamunanagar News - haryana news confessions of a servant at the stone of the stone crusher operator39s wife
X
Yamunanagar News - haryana news confessions of a servant at the stone of the stone crusher operator39s wife
Yamunanagar News - haryana news confessions of a servant at the stone of the stone crusher operator39s wife
Yamunanagar News - haryana news confessions of a servant at the stone of the stone crusher operator39s wife
Yamunanagar News - haryana news confessions of a servant at the stone of the stone crusher operator39s wife
COMMENT

किस पार्टी को मिलेंगी कितनी सीटें? अंदाज़ा लगाएँ और इनाम जीतें

  • पार्टी
  • 2019
  • 2014
336
60
147
  • Total
  • 0/543
  • 543
कॉन्टेस्ट में पार्टिसिपेट करने के लिए अपनी डिटेल्स भरें

पार्टिसिपेट करने के लिए धन्यवाद

Total count should be

543