प्लास्टिक के बने सेनेटरी पेड्स के ज्यादा इस्तेमाल पर पड़ सकते रैशेज : शिल्पी गर्ग

Yamunanagar News - शहर के एक होटल में अग्रवाल वैश्य महिला संगठन की बैठक हुई। इसमें संगठन की शिल्पी गर्ग ने महिलाओं को ऑरगेनिक सेनेटरी...

Bhaskar News Network

Jul 14, 2019, 08:50 AM IST
Yamunanagar News - haryana news rashayas can be used for excessive use of plastic made sanitary peds shilpi garg
शहर के एक होटल में अग्रवाल वैश्य महिला संगठन की बैठक हुई। इसमें संगठन की शिल्पी गर्ग ने महिलाओं को ऑरगेनिक सेनेटरी पेड्स की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि आजकल जो सेनेटरी पेड्स बाजार में आ रहे हैं, वे अधिक्तर प्लास्टिक से बने हुए हैं। जो हमारी त्वचा के लिए हानिकारक हैं। इस तरह के पेड्स के अधिक इस्तेमाल से रैशिज पड़ जाते हैं और कई तरह की त्वचा संबंधी बीमारियां हो जाती हैं। जबकि ऑरगेनिक पेड्स महिलाओं के लिए बहुत अच्छे साबित हो रहे हैं, जो पूरी तरह से कॉटन से बने हैं। इनके अंदर एलोवेरा जैल और केले के सत्र का इस्तेमाल किया जाता है। ये पेड्स बिल्कुल इको फ्रेंडली हैं। मौके पर रितू गुप्ता, भानू गर्ग, अंजू, डॉली, निशा, निधि, स्नेह व अन्य मौजूद रहे।

राज्यस्तरीय वैवाहिक परिचय सम्मेलन 29 सितंबर को |संगठन के संरक्षक सुभाष गुप्ता व रितू गुप्ता ने बताया कि संगठन ने बैठक कर निर्णय लिया कि राज्यस्तरीय वैवाहिक परिचय सम्मेलन 29 सितंबर को जगाधरी में होगा। संगठन की महिलाओं को अग्रवाल वैश्य युवक-युवती वैवाहिक परिचय सम्मेलन के लिए आमंत्रित किया गया है। सम्मेलन में हजारों अग्र बंधुओं की उपस्थिति में सैकड़ों विवाह योग्य प्रत्याशी जीवन साथी का चयन करेंगे। मौके पर अग्रवाल समाज के प्रवक्ता एवं महासचिव अशीष मित्तल्र व युवा मंच के चेयरमैन पंकज मित्तल व अग्रवाल वैश्य महिला संगठन से भानू गर्ग, अंजू, रितू, डोली, निशा, मोहनी, मिनी मौजूद रहे।

यमुनानगर| अग्रवाल वैश्य महिला संगठन की बैठक में उपस्थित पदाधिकारी।

X
Yamunanagar News - haryana news rashayas can be used for excessive use of plastic made sanitary peds shilpi garg
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना