पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • Yamunanagar News Haryana News Sushma Ji Did A Lot Of Work For The Industries Of Yamunanagar Bajaj

यमुनानगर के उद्योगों के लिए सुषमा जी ने बहुत काम किया: बजाज

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
पूर्व केंद्रीय मंत्री स्व. सुषमा स्वराज चाहती थीं कि हरियाणा में उद्योगों को गति मिले। जब वे अटल बिहारी सरकार में सूचना एवं प्रसारण मंत्री थीं तब प्रदेश में बंसीलाल सरकार थी। इस दौरान उन्होंने उद्योगों की बेहतरी के लिए काफी काम किया। पुरानी यादों को ताजा करते हुए ये बात 1998 में हरियाणा चैंबर अॉफ कामर्स एंड इंटस्ट्री के प्रदेश अध्यक्ष रहे शिव प्रताप बजाज ने कही।

उन्होंने कहा कि अप्रैल 1998 में चैंबर की बैठक में सुषमा को निमंत्रण दिया गया। वे केंद्रीय मंत्री थीं। तब हरियाणा में उद्योगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा था। चैंबर के पदाधिकारियों ने सुषमा स्वराज के सामने बिजली की बढ़े बिल, टिंबर कारोबार पर सैल्स टैक्स की ऊंची दरों के बारे में शिकायत की। मौके पर हरियाणा के उद्योग मंत्री शशीपाल मेहता भी मौजूद थे। सुषमा ने इन मांगों पर मुख्यमंत्री से बात कर बिजली से सरचार्ज को समाप्त कराया, साथ ही सैल्स टैक्स की दरों को भी ठीक कराया।

उद्योगिक क्षेत्र को व्यवस्थित कराने में मदद की: शिव प्रताप बजाज ने बताया कि यमुनानगर का औद्योगिक क्षेत्र काफी अव्यवस्थित था। इस बारे में केंद्रीय मंत्री सुषमा स्वराज से बात की गई। उन्होंने इसके बाद एचएसआईआईडीसी से बात कर इसे व्यवस्थित कराया। यहां पर उद्योगपतियों को सुविधाएं दिलाई गईं। इसी तरह जगाधरी में कुटीर उद्योग के रूप में चल रही मैटल इंडस्ट्री के लिए पास में ही मानकपुर में जगह दिलाने में उनकी बड़ी भूमिका रही।

चैंबर ऑफ कॉमर्स की बैठक में बोलतीं सुषमा स्वराज (फाइल फोटो)

19 फरवरी 1999 को श्री कटाक्षराज में मनाया था जन्मदिन

श्रीकटाक्षराज यात्रा के मुख्य संरक्षक शिव प्रताप बजाज ने याद ताजा करते हुए कहा कि फरवरी 1999 में जो जत्था पाक स्थित श्रीकटाक्ष राज के दर्शन को गया उसमें केंद्रीय मंत्री सुषमा स्वराज भी शामिल थीं। तब 19 फरवरी को शिवरात्रि भी थी। बजाज ने बताया कि वहीं पर सुषमा जी ने अपना जन्मदिन होने की जानकारी दी। लेकिन वहां पर हर तरफ जंगल था। इस पर वे बहुत दूर से एक इत्र की शीशी लाए और सुषमा जी को तोहफे में दी। इस पर वे बहुत खुश हुईं।

जानकारी देते शिव प्रताप

खबरें और भी हैं...