• Hindi News
  • Harayana
  • Yamunanagar
  • Khijrabad News haryana news the thermal administration did not come to the leopard cage for three days in the goat cages and now buy three goats of its own

थर्मल प्रशासन ने तीन दिन किराए के बकरे पिंजरों में बांधे तेंदुआ नहीं आया तो अब खुद के तीन बकरे खरीद लिए

Yamunanagar News - थर्मल प्लांट में घुसे एक लैपर्ड (तेंदुए) को काबू करने के लिए तीन बकरे कई दिनों तक किराए पर लेकर पिंजरों में रखे गए,...

Jul 20, 2019, 08:10 AM IST
Khijrabad News - haryana news the thermal administration did not come to the leopard cage for three days in the goat cages and now buy three goats of its own
थर्मल प्लांट में घुसे एक लैपर्ड (तेंदुए) को काबू करने के लिए तीन बकरे कई दिनों तक किराए पर लेकर पिंजरों में रखे गए, लेकिन तेंदुआ पकड़ में नहीं आया। इंतजार लंबा होने के कारण थर्मल प्रबंधन ने अब तीन बकरों को मार्केट से खरीद लिया है। बकरों को दिन ढलते ही तेंदुआ के लिए लगाए गए पिंजरों के अंदर बांध दिया जाता है, दिन निकलते ही उन्हें बाहर चरने के लिए खुले में छोड़ दिया जाता है। एक सप्ताह पूर्व यमुनानगर थर्मल प्लांट के आस पास तेंदुआ देखे जाने की सूचना वन्य प्राणी विभाग कलेसर को दी गई। विभाग की टीम ने लगातार दो दिनों तक प्लांट की खाली पड़ी जमीन पर उगी झाड़ियाें में तेंदुए की गहनता से तलाश की गई। विभागीय टीम को न तो किसी जगह पर तेंदुआ दिखा और न ही जानवर के पंजों के निशान मिले। खूंखार जानवर की दहशत के चलते थर्मल मैनेजमैंट की मांग पर विभाग की ओर से तीन अलग-अलग स्थानों पर झाड़ियाें में तीन पिंजरे लगा दिए गए। दो कर्मचारियों एक वन्य प्राणी सब इंस्पेक्टर, एक गार्ड को जंगली जानवर की गतिविधियों पर नजर रखने के लिए तैनात किया गया।

तीन पिंजरों में बांधे गए हैं, तीन बकरे : तेंदुए को जीवित पकडऩे के लिए वन्य प्राणी विभाग की ओर से तीन पिंजरे लगाए गए हैं। तीनों पिंजरों में रात के समय एक-एक बकरा बांध दिया जाता है। सब इंस्पेक्टर सुलतान सिंह ने बताया कि दिन ढलते ही बकरे को पिजरे के अंदर बांध कर तेंदुए के आने का इंतजार किया जाता है। सुबह होते ही बकरे को पिंजरे से बाहर चरने के लिए छोड़ दिया जाता है। थर्मल से मिली जानकारी के मुताबिक दो दिनों तक चार सौ रुपए प्रतिदिन किराए के हिसाब से तीन बकरे पिंजरें में रखे गए, लेकिन लैपर्ड पिंजरे तक नहीं आया। जानवर का इंतजार लम्बा होने के कारण अब मैनेजमैंट ने तीन बकरों को खरीद कर पिंजरों में छोड़ दिया है। पिछले चार दिनों से वन्य प्राणी विभाग दिन रात तेंदुए का इंतजार कर रहा है।

खिजराबाद | थर्मल पॉवर प्लांट में लगाए गए तेंदुआ पकड़ने के लिए पिंजरे।

सप्ताह बीतने पर भी नहीं मिले तेंदुए के कोई पद चिन्ह

वन्य प्राणी विभाग के सब इंस्पेक्टर सुलतान सिंह ने बताया कि अभी तक की जांच में कहीं पर भी तेंदुए के कोई निशान नही मिले हैं। इंस्पेक्टर ने बताया कि एक सप्ताह के बीच तेंदुए द्वारा किसी जानवर के शिकार किए जाने के कोई प्रमाण नहीं दिखे। उन्होंने बताया कि तेंदुए जैसा मांसाहारी जानवर शिकार करने के तीन चार दिन तक शांत रह सकता है, लेकिन एक सप्ताह तक भूखा नहीं रह सकता। उन्होंने बताया कि आजकल जमीन के अंदर नमी है कहीं न कहीं पर पंजों के निशान जरूर दिखाई दे जाते लेकिन पंजों के निशान नही दिखे।

सीसीटीवी भी लगाए गए

तेंदुए की दहशत के चलते वन्य प्राणी विभाग द्वारा आस पास के एरिया में पेड़ों पर सुरक्षा को लेकर कई जगहों पर सीसीटीवी भी लगाए गए हैं। जब कभी भी जानवर झाडिय़ों से बाहर निकल कर मूवमेंट करेगा तो कैमरे में दिखाई दे जाएगा।

खिजराबाद | थर्मल पॉवर स्टेशन में तेंदुए की निगरानी के लिए पेड़ों पर कम उंचाई पर लगाए गए सीसीटीवी कैमरे।

Khijrabad News - haryana news the thermal administration did not come to the leopard cage for three days in the goat cages and now buy three goats of its own
X
Khijrabad News - haryana news the thermal administration did not come to the leopard cage for three days in the goat cages and now buy three goats of its own
Khijrabad News - haryana news the thermal administration did not come to the leopard cage for three days in the goat cages and now buy three goats of its own
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना