12 जनवरी आधी रात को ज

Ambala News - 2 युवकों पर नशे में थार जीप व कार चढ़ाने वालों को बचाती रही पुलिस, बात ऊपर पहुंची तो 4 अरेस्ट, बलदेव नगर एसएचओ व...

Jan 24, 2020, 07:20 AM IST
Ambala News - haryana news 12 january at midnight
2 युवकों पर नशे में थार जीप व कार चढ़ाने वालों को बचाती रही पुलिस, बात ऊपर पहुंची तो 4 अरेस्ट, बलदेव नगर एसएचओ व सब-इंस्पेक्टर लाइन हाजिर


12 जनवरी आधी रात को जग्गी सिटी सेंटर में थार जीप व वरना कार में सवार 5 युवकों ने मामूली विवाद के बाद बाइक सवार दो युवकों को कुचलना चाहा। पहले थार से बाइक को टक्कर मारी और जब बाइक सवार उठा तो गाड़ी को बैक गियर में डालकर ऊपर चढ़ाने की कोशिश की। सारा वाकया यहां पुलिस बूथ के ठीक सामने हुआ। पुलिस ने दो दिन बाद मारपीट, गाड़ी चलाने में लापरवाही, हुड़दंग और जान से मारने की धमकी देने जैसी सामान्य धाराएं लगाकर मामला हल्का करने की कोशिश की। कारों की टक्कर से घायल सतिंद्र सिंह के परिजनों ने गृहमंत्री अनिल विज से मिलकर सारी बात बताई तब पुलिस एक्शन में आई। मामले में हत्या के प्रयास की धारा 307 जोड़ दी गई। 5 में 4 आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। इनमें एक आरोपी जसबीर सिंह संधू उर्फ नोनू वकील का बेटा है जबकि बाकी भी बड़े परिवारों से संबंध रखते हैं। सद्दोपुर निवासी एक आरोपी वरिंद्र की तो बुधवार को शादी व रात को होटल मधु महल में रिसेप्शन हुई। परिजनों का आरोप है कि पुलिस ने पूरे मामले को दबाने की कोशिश की। पहले एफआईआर में हल्की धाराएं लगाई। फिर आरोपियों की गिरफ्तारी टालती रही। एक आरोपी शादी के जश्न में डूबा रहा लेकिन पुलिस यह कहती रही कि वह मिल नहीं रहा। यही नहीं जिस पुलिस बूथ के सामने पूरी वारदात हुई, उस पर बढ़िया क्वालिटी के सीसीटीवी कैमरे लगे हैं लेकिन पुलिस ने इसकी फुटेज यह कहकर नहीं ली कि यह तो खराब पड़ा है। पुलिस की ढिलाई सामने आने के बाद एसपी ने बलदेव नगर थाने के एसएचओ इंस्पेक्टर अजीत सिंह व एडिशनल एसएचओ सब इंस्पेक्टर ओमप्रकाश को लाइन हाजिर कर दिया। आर्थिक अपराध शाखा के इंस्पेक्टर सुनील कुमार को बलदेव थाने में लगाया गया है जबकि इंस्पेक्टर रामकुमार को आर्थिक अपराध शाखा की कमान दी गई है। बलदेव नगर के नए एसएचओ ने बताया कि जसवीर, गुरदीप, जश्नदीप व वरिंद्र को जेल भेज दिया गया है। तसिंबली निवासी हरमन की तलाश चल रही है। सीसीटीवी फुटेज भी जुटाई जा रही है।

जग्गी सिटी सेंटर के सामने 12 जनवरी रात की घटना
मंत्री के फोन के बाद एसपी ने बलदेव नगर एसएचओ से पूछा

मंत्री के फोन के बाद एसपी ने बलदेव नगर एसएचओ से पूछा

मंत्री के फोन के बाद एसपी ने बलदेव नगर एसएचओ से पूछा

जितनी फोर्स चाहिए लो लेकिन यह बताओ आरोपी पकड़े क्यों नहीं

सतिंद्र के परिजन बुधवार को गृहमंत्री अनिल विज से मिले तो उन्होंने पूरी बात सुनने के बाद एसपी से बात की। बाद में परिजन एसपी से मिलने गए। तब एसपी ने बलदेव नगर थाने के एसएचओ को फोन पर सख्त लहजे में कहा-आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए कितनी कंपनी फोर्स चाहिए। जल्द से जल्द गिरफ्तारी होनी चाहिए नहीं तो सस्पेंड होगे।

जितनी फोर्स चाहिए लो लेकिन यह बताओ आरोपी पकड़े क्यों नहीं

सतिंद्र के परिजन बुधवार को गृहमंत्री अनिल विज से मिले तो उन्होंने पूरी बात सुनने के बाद एसपी से बात की। बाद में परिजन एसपी से मिलने गए। तब एसपी ने बलदेव नगर थाने के एसएचओ को फोन पर सख्त लहजे में कहा-आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए कितनी कंपनी फोर्स चाहिए। जल्द से जल्द गिरफ्तारी होनी चाहिए नहीं तो सस्पेंड होगे।

जितनी फोर्स चाहिए लो लेकिन यह बताओ आरोपी पकड़े क्यों नहीं

सतिंद्र के परिजन बुधवार को गृहमंत्री अनिल विज से मिले तो उन्होंने पूरी बात सुनने के बाद एसपी से बात की। बाद में परिजन एसपी से मिलने गए। तब एसपी ने बलदेव नगर थाने के एसएचओ को फोन पर सख्त लहजे में कहा-आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए कितनी कंपनी फोर्स चाहिए। जल्द से जल्द गिरफ्तारी होनी चाहिए नहीं तो सस्पेंड होगे।

वे नशे में थे, कुचल कर मार देना चाहते थे, गाड़ी रिवर्स कर भी चढ़ाईः गुरजीत

मैं जग्गी सिटी सेंटर में वैन हुसैन शोरूम में काम करता हूं। मेरा दोस्त पिलखनी निवासी सतिंद्र सिंह यूएस पोलो के शोरूम में काम करता है। 12 जनवरी रात को करीब साढ़े 10 बजे हम पल्सर बाइक पर चाउमिन खाने जग्गी सिटी सेंटर से निकले थे। चाउमीन की दुकान बंद थी और 4-5 लड़के दो गाड़ियों पर शराब पी रहे थे। हमने पूछा चाउमिन की दुकान क्यों बंद है। इस पर उन लड़कों ने हमें गालियां देना शुरू कर दिया। उन्हें नशे में देख हम कैपिटल चौक की तरफ चले गए। एक रेहड़ी पर सोया चाप खाकर वापस जग्गी सिटी सेंटर आ गए। करीब सवा 11 बजे हम घर जाने के लिए निकले तो जंडली पुल के नीचे वही चार पांच युवक गाड़ियां रोकर नाचते दिखे। हमें देखकर उन्होंने फिर गालियां देना शुरू कर दिया। डर के मारे हमने बाइक को वापस जग्गी सेंटर की ओर मोड़ दिया लेकिन युवकों ने थार जीप (चंडीगढ़ में सुरमुख सिंह के नाम रजिस्टर्ड) व वरना कार (होशियारपुर में अंशुल कुमार के नाम रजिस्टर्ड) से हमारा पीछा शुरू कर दिया। मॉडल टाउन क्रॉसिंग पर ट्रैफिक बूथ के ठीक सामने युवकों ने हमारी बाइक को टक्कर मारी। हम दोनों नीचे गिर गए। हमें चोटें आई लेकिन हम उठ गए। इस पर इन्होंने गाड़ी को रिवर्स किया और हमारे ऊपर चढ़ाने की कोशिश की। इसी बीच थार और वरना टकरा गई। वरना का फॉग लैंप टूट कर गिर गया। जिसे बाद में पुलिस ने बरामद भी किया। -जैसा गुरजीत सिंह कुलदीप नगर ने पुलिस को बयान दिया

यह तस्वीर 12 जनवरी रात की है।


मोहाली के ओमेक्स अस्पताल में उपचाराधीन सतिंद्र को 12 जनवरी के बाद से होश नहीं आया है। वेंटिलेटर पर है। डॉक्टरों का कहना है कि गले की हड्डी, जबड़ा टूट गया है। सतिंद्र के मामा नग्गल निवासी चरणजीत सिंह ने बताया कि सतिंद्र की डेढ़ साल पहले ही अमनदीप से शादी हुई है। उसकी 15 साल की छोटी बहन है। परिवार का गुजारा सतिंद्र के वेतन से चल रहा था। अभी तक अस्पताल में करीब 7 लाख रुपए खर्च हो चुके हैं। परिवार उधार व मदद मांगकर काम चला रहा है। आरोपी प्रभावशाली परिवारों से हैं, इस वजह से पुलिस ने मामले को हल्का किया। एक आरोपी वरिंद्र तो घर में शादी के जश्न में रहा लेकिन पुलिस कहती रही कि वह मिल नहीं रहा। यही नहीं बुधवार को शादी के बाद बड़े होटल में पार्टी भी की और पुलिस उसे टाइम देती रही।

अस्पताल में वेंटिलेटर पर सतिंद्र


आरोपियों में से एक उस रात जग्गी सिटी सेंटर के पास पानी की बोतल, सोडा व सिगरेट खरीदने के बाद कार्ड स्वैप कर पेमेंट करते हुए दिख रहा है। एक सीसीटीवी में सतिंद्र व गुरजीत बाइक पर जाते हुए दिख रहे हैं। पांचों आरोपियों में एक जैश संधू ने सोशल साइट पर फोटो पोस्ट की है। जिसमें थार जीप पर शराब की बोतल के साथ दिख रहे हैं और कमेंट लिखा है-

फट्टे चक्क देंगे, हजे मित्रां दे सुख नाल यार बड़े...।

सीसीटीवी में जग्गी सिटी सेंटर से सामान खरीदते दिखा एक आरोपी।

Ambala News - haryana news 12 january at midnight
Ambala News - haryana news 12 january at midnight
X
Ambala News - haryana news 12 january at midnight
Ambala News - haryana news 12 january at midnight
Ambala News - haryana news 12 january at midnight
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना