विवेक राणा मर्डर केस में 50 हजार का इनामी अजय पिलखनी गिरफ्तार

Ambala News - मई 2018 को मोनू राणा गैंग ने विवेक का अपहरण कर की थी हत्या, 10 आरोपी पहले हो चुके गिरफ्तार भास्कर न्यूज | अम्बाला सिटी...

Oct 13, 2019, 07:20 AM IST
मई 2018 को मोनू राणा गैंग ने विवेक का अपहरण कर की थी हत्या, 10 आरोपी पहले हो चुके गिरफ्तार

भास्कर न्यूज | अम्बाला सिटी

बहुचर्चित विवेक राणा मर्डर केस में फरार चल रहे शमशेर उर्फ मोनू राणा गैंग के 50 हजार के इनामी बदमाश अजय पिलखनी को सीआईए नारायणगढ़ ने गिरफ्तार किया है। आरोपी को न्यायालय में पेश कर दो दिन के रिमांड पर लिया है। रिमांड के दौरान आरोपी से वारदात में प्रयुक्त असलहा की बरामदगी व फरार आरोपी नीरज गांधी के बारे में सुराग लगाने का प्रयास करेगी। हत्याकांड के 10 आरोपियों को पुलिस पहले ही गिरफ्तार कर चुकी है। जिन पर चार्ज फ्रेम होने के बाद मामला अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायधीश प्रवीण गुप्ता की कोर्ट में गवाहियाें पर चल रहा है। सभी आरोपियों पर विवेक राणा के भांजे अभिषेक राणा की शिकायत पर थाना बराड़ा में अपहरण एवं हत्या की धाराओं में केस दर्ज किया गया था।

16 मई 2018 को दोसड़का के पास विवेक का अपहरण कर लिया गया, जब वह अभिषेक व रितिक राणा के साथ थंबड़ निवासी राजदीप को मिलने जा रहे थे। अभिषेक ने शिकायत दी थी कि दोसड़का के पास इनकी गाड़ी का एक अन्य गाड़ी ने पीछा कर रोक लिया। इस गाड़ी में शमशेर उर्फ मोनू राणा निवासी थंबड़, अमर सिंह, गौतम व दो अन्य व्यक्ति आए व उन्हें गाड़ी से बाहर निकाल मोबाइल ले लिए। इसके बाद उसके मामा विवेक को साथ ले गए थे। बाद में विवेक राणा का शव डेराबस्सी के नजदीक गांव संगौली में बरामद हुआ था, जिसकी गोली मार कर हत्या की गई थी। एसपी अभिषेक जोरवाल के मुताबिक इस मामले में फरार चल रहे अजय पिलखनी को मोस्टवांटेड की सूची में शामिल कर उस पर 50 हजार रुपए का ईनाम घोषित किया गया था।

X
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना