• Hindi News
  • Haryana
  • Ambala
  • Mullana News haryana news chairperson rama39s brother in law tried to give me 7 lakh councilor daughter kavita

चेयरपर्सन रमा के देवर ने मुझे ‌Rs.7 लाख देने की कोशिश की: पार्षद बेटी कविता

Ambala News - कविता ने बराड़ा पुलिस को दी शिकायत भास्कर न्यूज | मुलाना बराड़ा नगरपालिका की चेयरपर्सन रमा खेत्रपाल के...

Jan 26, 2020, 08:10 AM IST
Mullana News - haryana news chairperson rama39s brother in law tried to give me 7 lakh councilor daughter kavita
कविता ने बराड़ा पुलिस को दी शिकायत

भास्कर न्यूज | मुलाना

बराड़ा नगरपालिका की चेयरपर्सन रमा खेत्रपाल के अविश्वास प्रस्ताव पर बैठक होने में अभी 6 दिन बाकी हैं, लेकिन दोनों ही पक्षों में अब आरोप-प्रत्यारोप का दौर शुरू हो या है। वार्ड-1 के पार्षद शमशेर सिंह की विवाहित बेटी कविता रानी ने अाराेप लगाया है कि चेयरपर्सन के देवर मुकेश खेत्रपाल ने उनके घर अाकर जबरदस्ती सात लाख रुपए देने कि कोशिश की। इस संबंध में पार्षद की बेटी ने एक शिकायत बराड़ा पुलिस को दी है। वहीं, चेयरपर्सन के देवर ने इन आरोपों को पूरी तरह से नकार दिया है। उन्होंने कहा कि वह सिर्फ पार्षद से मिलने गए थे।

पुलिस को दी शिकायत में कविता रानी ने कहा कि वह तबीयत खराब होने के चलते अपने पिता के घर पर आई हुई है। शनिवार को करीब 3.30 बजे वह अपने घर पर थी और उसके पिता कहीं बाहर गए थे। तभी दो लोग उनके घर आए और बोले कि वे सात लाख रुपए लेकर आए हैं और कहा कि उसके पिता शमशेर सिंह ने बोला है कि ये पैसे रख लो। शिकायतकर्ता के अनुसार जब उसने उन्हें शमशेर सिंह से बात करवाने के लिए कहा तो वे उनका फोन बंद होने की बात कहने लगे। शिकायतकर्ता ने बताया कि जब उसने पैसे लेने से इनकार कर दिया तो वे एक कागज पर फोन नंबर लिखकर दे गए और कहा कि जब भी शमशेर सिंह आएं तो इस नंबर पर बात करवा देना। बराड़ा थाना प्रभारी सतीश कुमार ने बताया कि मामले की शिकायत मिली है। रपट दर्ज कर ली गई है। मामले की जांच की जाएगी।

मुलाना | वार्ड-1 के पार्षद शमशेर सिंह की बेटी शिकायत लिखते हुए।

तारीख आगे बढ़ी तो हाईकोर्ट गया था पाहवा गुट

दिसंबर में बराड़ा नगर पालिका की पार्षद रिचा पाहवा सहित 11 पार्षदों ने डीसी के समक्ष पेश होकर रमा खेत्रपाल के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पर बैठक करवाने की मांग की थी। डीसी ने इस मामले में 3 जनवरी की तारीख दी थी, लेकिन 2 जनवरी को ही तत्कालीन एसडीएम भारत भूषण कौशिक का तबादला हो जाने के चलते चार्ज छोड़ देने के कारण 3 जनवरी को अविश्वास प्रस्ताव पर बैठक नहीं हो पाई थी। इसके बाद एसडीएम बराड़ा गिरीश कुमार ने 24 जनवरी की तारीख तय की थी और सभी पार्षदों को नोटिस भी दे दिए थे, लेकिन प्रशासनिक कारणों के चलते एसडीएम बराड़ा ने उसी दिन यह तारीख बदल कर 31 जनवरी कर दी थी। खफा होकर रिचा पाहवा गुट हाईकोर्ट चला गया था। हाईकोर्ट ने प्रशासन के मामले में दखल न देकर सुनवाई के लिए 3 फरवरी की तारीख तय कर दी थी।

उन्हें बदनाम करने के लिए लगाए आरोप : खेत्रपाल


हम पार्षद को मिलने गए थे, उनकी बेटी को सिर्फ फोन नंबर दिया था, पैसे नहीं: देवर मुकेश

X
Mullana News - haryana news chairperson rama39s brother in law tried to give me 7 lakh councilor daughter kavita
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना