पशु मालिकों के भय से कैंट बोर्ड नहीं पकड़ रहा लावारिस पशु

Ambala News - दो माह से रुका है अभियान, सेना क्षेत्र में लावारिस पशुओं की संख्या बढ़ने लगी, बोर्ड ने सेना से मांगी सहायता ...

Bhaskar News Network

Sep 14, 2019, 07:16 AM IST
Ambala News - haryana news fearful of animal owners the cant board is not holding unclaimed animals
दो माह से रुका है अभियान, सेना क्षेत्र में लावारिस पशुओं की संख्या बढ़ने लगी, बोर्ड ने सेना से मांगी सहायता

बोर्ड स्टाफ ने कहा- लावारिस पशु पकड़ते हैं तो ग्वाले करते हैं हमला

भास्कर न्यूज | अम्बाला

सेना क्षेत्र में लावारिस पशुओं को पकड़ने का अभियान दो माह से बंद पड़ा है। पशु पकड़ने के लिए बोर्ड का अपना स्टाफ है, मगर पशु मालिकों के भय से स्टाफ फील्ड में नहीं उतर रहा। आलम यह है कि सेना क्षेत्र में अब लावारिस पशुओं की संख्या बढ़ती जा रही है। 2 दिन पहले ही रेलवे काॅलोनी में रात्रि सैर कर रहे कुछ लोगों पर पशुओं ने हमला किया। गनीमत रही कि लोग सुरक्षित दूरी पर थे। इतना ही नहीं स्टाफ रोड, माल रोड, तोपखाना, पंजोखरा रोड एवं अन्य क्षेत्रों में लावारिस पशुओं की संख्या बढ़ती जा रही है।

पूर्व में हुए हादसों से अब तक बोर्ड स्टाफ खौफ में है। कुछ माह पूर्व तोपखाना परेड एवं अन्य क्षेत्रों में बोर्ड स्टाफ ने लावारिस पशुओं को पकड़ने के लिए अभियान चलाया था, मगर इसका स्थानीय लोगों ने विरोध किया था, साथ ही स्टाफ से मारपीट तक हो गई थी। इसकी बाकायदा एफआईआर भी बोर्ड द्वारा दर्ज कराई गई थी। इतना ही नहीं रेलवे काॅलोनी, मिलिट्री फार्म, माल रोड एवं अन्य क्षेत्रों में भी पशुओं को पकड़ने के दौरान स्टाफ एवं पशु मालिकों में विवाद हो चुका है। करीब दो माह से बोर्ड ने पशुओं को पकड़ने के लिए विशेष अभियान को रोक दिया है।

मिलिट्री पुलिस से मांगी मदद

अभियान चलाने के लिए बोर्ड ने मिलिट्री पुलिस से मदद मांगी है। बोर्ड ने इसके लिए पत्र लिखकर स्टेशन हेडक्वार्टर को भेजा है। तर्क दिया है कि पशुओं को पकड़ने के दौरान स्टाफ पर हमला हो सकता है, इसी वजह से मिलिट्री पुलिस की निगरानी में यह अभियान चलाया जाए। बोर्ड को अभी स्टेशन हेडक्वार्टर से रिस्पांस नहीं मिला।

X
Ambala News - haryana news fearful of animal owners the cant board is not holding unclaimed animals
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना