मंदिर के बाहर ताला लगा, अंदर 25-30 लोग कर रहे थे कीर्तन, 2 पुजारियों पर केस

Ambala News - लॉकडाउन और होम क्वारेंटाइन को मजाक समझ रहे लोगों पर प्रशासन अब सख्त हो रहा है। वीरवार को 5 लोगों पर एफआईआर दर्ज...

Mar 27, 2020, 07:20 AM IST
Ambala News - haryana news locked outside the temple 25 30 people were doing kirtan inside case on 2 priests

लॉकडाउन और होम क्वारेंटाइन को मजाक समझ रहे लोगों पर प्रशासन अब सख्त हो रहा है। वीरवार को 5 लोगों पर एफआईआर दर्ज हुई जिनकी ट्रैवल हिस्ट्री के चलते होम क्वारेंटाइन (घर में एकांतवास) किया हुआ था। लेकिन ये लोग बाहर घूम रहे थे। स्वास्थ्य विभाग ने 5 और लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने की सिफारिश एसपी से की है। इधर, बीडी फ्लोर मिल के पीछे निशांत बाग में मां वैष्णो देवी मंदिर के बाहर लॉक लगा था, जबकि अंदर चार परिवारों और आस पड़ोस से 25-30 लोग डाउन वॉल्यूम में कीर्तन कर रहे थे। किसी ने इसकी शिकायत करधान चौकी पुलिस को की। पुलिस मौके पर पहुंची तो मंदिर का बाहर से ताला लगा देख चकरा गई। जब गेट खटखटाया तो कुछ देर में खुला। इस मामले में पुलिस ने पुजारी कृष्ण वशिष्ठ और प्रमोद कुमार के खिलाफ धारा 144 तोड़ने और संक्रमण फैलने का खतरा बढ़ाने की धाराओं में केस दर्ज कर लिया है। जांच अधिकारी यशराज सिंह ने कहा कि चार परिवारों ने मिलकर कीर्तन रखा और पड़ोसियों को भी बुला लिया था।

लालकुर्ती में होटल मालिक गिरफ्तार, जमानत मिली | लाॅक डाउन के बावजूद लालकुर्ती में होटल सुपरफाइन खाेलने के मामले में पुलिस ने आरोपी होटल संचालक कर्णवीर काे गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया। जहां से जमानत मिल गई। इस मामले में पड़ाव पुलिस ने 24 मार्च को धारा 144 तोड़ने और दूसरों की जान खतरे में डालने की धाराओं में केस दर्ज किया था। इससे पहले सिटी में जीत ढाबा संचालक और कैंट में फॉरच्यून प्रिंटिंग प्रेस संचालक के खिलाफ भी केस दर्ज हो चुका है।

होम क्वारेंटाइन का अर्थ ये नहीं कि ये कोरोना पॉजिटिव, मतलब है 28 दिन एहतियात रखें


{ डिस्ट्रिक्ट क्वारेंटाइन कमेटी के इंचार्ज डॉ. राजेंद्र राय कहते हैं कि यह समझना जरूरी है कि होम क्वारेंटाइन का यह मतलब नहीं कि संबंधित व्यक्ति कोरोना पॉजीटिव है। बल्कि यह एहतियातन कदम है। जिसमें 28 दिन दूसरों के संपर्क से दूर रहना होता है। इसलिए लोग इसे गलत न समझें और पालना करें। शुरुआती दिनों में संक्रमण का पता नहीं चलता, इसलिए 28 दिन का पीरियड तय किया गया है।

{लोग घरों के बाहर निठल्ले फिरने वालों के भेज रहे वीडियो, केस दर्ज

लॉकडाउन के बावजूद दूसरों के घरों के बाहर निठल्ले बैठने या घूमने वालों की वीडियोज भी प्रशासन के पास पहुंच रही हैं। एसडीएम गौरी मिड्ढा ने तो एक ऐसी ही वीडियो पर एक्शन लेते हुए बलदेवनगर थाने में केस दर्ज कराया है। इस वीडियो में जो चेहरे पहचान में आएंगे, उन्हें नामजद किया जाएगा। ऐसे लोगों पर सीआरपीसी की धारा 144 तोड़ने की कार्रवाई होगी। जिला प्रशासन ने कोरोना संक्रमण के तहत जिले में धारा 144 लगाई हुई है। जिसके तहत 4 से अधिक लोगों के इक्ट्ठा होने पर उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जा सकती है।

{लॉकडाउन में बाहर घूमने वालों की फोटो व वीडियो भेजें: एसपी

एसपी अभिषेक जोरवाल ने कहा कि लॉकडाउन के चलते 14 अप्रैल तक सभी को घरों में रहना है। कुछ क्षेत्रों में नागरिक पुलिस की गाड़ी को देखकर घरों के अंदर चले जाते हैं और गाड़ी निकल जाने के बाद फिर घरों से बाहर आ जाते हैं। ऐसे नागरिकों जो लॉकडाउन के आदेश की पालना नहीं करते उनकी फोटो या वीडियो भेजें। जिससे कि ऐसे लोगों के खिलाफ फोटो या वीडियो के आधार पर कार्रवाई की जा सके।

{ घर में चैन से नहीं बैठ रहे थे, अब तक 5 एफआईआर दर्ज, हो सकती 2 साल की सजा

स्वास्थ्य विभाग ने बुधवार को 5 ऐसे लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने की सिफारिश की गई थी, जिनकी ट्रैवल हिस्ट्री है। होम क्वारेंटाइन किए जाने के बावजूद ये घर में चैन से बैठने की बजाय बाहर घूम रहे थे। इनमें से 4 के खिलाफ पुलिस ने एफआईआर दर्ज कर ली है। इनमें सेक्टर-10 की महिला व सेक्टर-10, सेक्टर-9 और मॉडल टाउन के 3 युवक शामिल हैं। इनके अलावा इनके अलावा कलरेहड़ी के एक व्यक्ति पर केस दर्ज हुआ है। ये केस सीएमओ डॉ. कुलदीप सिंह की शिकायत पर दर्ज हुए हैं। शिकायत में कहा गया है कि विदेश से लौटे इन लोगों को घर में एकांतवास बिताने को कहा था। बावजूद इसके ये बाहर घूम रहे थे।

ये लोग अपनों की जान भी डाल रहे खतरे में

{ मॉडल टाउन के एक व्यक्ति को होम क्वारेंटाइन किया गया था। लेकिन वह लक्ष्मी नगर में अपनी बहन के घर पहुंच गया। स्वास्थ्य विभाग को टीम लक्ष्मीनगर पहुंची। यहां बहन ने सही जानकारी नहीं दी। दोबारा डीसी के पास शिकायत पहुंची। फिर टीम ने इस व्यक्ति और उसकी बहन दोनों के घर के बाहर होम क्वारेंटाइन के स्टिकर लगाए हैं और एफआईआर दर्ज करने की सिफारिश की है।

{ ओमेक्स ग्रीन में रह रही एक महिला डॉक्टर की भी विदेश ट्रैवल हिस्ट्री के चलते घर के बाहर होम क्वारेंटाइन का स्टिकर लगाया था। लेकिन उसके डॉक्टर पिता ने टीम के सामने ही स्टिकर फाड़ दिया। डॉक्टर अनीशा अपनी टीम के साथ मौके पर गईं थी।

{ बब्याल के दिलीपगढ़ के युवक को होम क्वारेंटाइन किया गया है लेकिन वह करियाना स्टोर चला रहा है। इसको पहले चेताया गया था, नहीं माना तो एफआईआर दर्ज करने की सिफारिश की गई है।

{ जैन कॉलेज रोड पर हीरानगर के एक व्यक्ति की सिंगापुर की ट्रैवल हिस्ट्री है। उसने होम क्वारेंटाइन का स्टिकर फाड़ दिया और टीम के साथ बदतमीजी की। सीएमओ डॉ. कुलदीप सिंह ने उसके खिलाफ एफआईआर दर्ज करने की सिफारिश की है।

यह समझ लें


}घर से बाहर न निकलते तो
आज ये न करना पड़ता


सिटी के अग्रेसन चाैक पर पुलिस कर्मी के पैर पकड़ा युवक।

X
Ambala News - haryana news locked outside the temple 25 30 people were doing kirtan inside case on 2 priests

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना