पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

रेलवे स्टेशन पर मिलेगा सिर्फ पैक फूड, छोले-भटूरे व पकौड़े नहीं बनेंगे

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

आईआरसीटीसी ने बेस किचन व रिफ्रेशमेंट रूम भी बंद किया

अम्बाला | कोरोना वायरस से बचाव काे लेकर 22 मार्च को लगने वाले जनता कर्फ्यू को लेकर रेलवे ने कैंट रेलवे स्टेशन पर पुख्ता प्रबंध कर लिए हैं। 22 मार्च को स्टेशन पर कुकिंग बंद रहेगी। अाज स्टालों पर छोले-भटूरे व पकौड़े नहीं बनेंगे। इसके अलावा स्टालों पर केवल पैक फूड ही बिकेगा। वहीं एक दिन में 1109 यात्रियों ने टिकट रद्द कराए।

कर्फ्यू के दौरान स्टेशन पर कम ही यात्रियों को आने दिया जाएगा। ट्रेनों का परिचालन बंद है और कुछ चुनिंदा ट्रेन ही चलेंगी। इसे लेकर रेलवे ने स्टालों पर केवल पैक फूड बेचने की अनुमति दी है जबकि आईआरसीटीसी द्वारा बेस किचन और रिफ्रेशमेंट रूम को भी बंद कर दिया गया है। यूटीएस और रिजर्वेशन काउंटरों की संख्या भी घटाई गई है जबकि रिफंड काउंटर अब ज्यादा कर दिए गए हैं। जनता कर्फ्यू के दौरान स्टेशन पर कम ही यात्रियों को एंट्री दी जाएगी।

शनिवार को रेलवे द्वारा सभी शताब्दी एक्सप्रेस समेत 54 ट्रेनों को रद्द कर दी गई। ट्रेनें रद्द व ट्रेनाें के इंतजार में सैकड़ों यात्री परेशान हुए। कुछ ट्रेनों का ही संचालन हुआ जिनमें ठूंस-ठूंस कर यात्री सफर कर रहे थे। कैंट रेलवे स्टेशन के यूटीएस काउंटर पर ट्रेनों की जानकारी लेने के लिए सैकड़ों यात्री जुटे रहे।

रिकार्ड: 1109 टिकट एक दिन में कैंसिल

कोरोना वायरस को लेकर बीते कुछ दिनों में रिकार्ड टिकट 1109 एक दिन में कैंसिल हुए हैं। जिन्हें रेलवे ने 3.55 लाख रुपए रिफंड किए। अब तक कैंट स्टेशन पर करीब दो लाख टिकट कैंसिल हो चुके हैं।
खबरें और भी हैं...