भौतिक नेत्रों से कामवासना बढ़ती है : गिरी

Ambala News - भास्कर न्यूज | अम्बाला सिटी नावल्टी रोड पर स्थित रघुनाथ मंदिर में श्री कल्याण कमल सत्संग समिति की तरफ से चल रही...

Jan 16, 2020, 07:20 AM IST
Ambala News - haryana news sex increases with physical eyes fall
भास्कर न्यूज | अम्बाला सिटी

नावल्टी रोड पर स्थित रघुनाथ मंदिर में श्री कल्याण कमल सत्संग समिति की तरफ से चल रही पार्वती मंगल कथा के चाैथे दिन महामंडलेश्वर स्वामी कमलानंद गिरि महाराज ने कथा करते हुए कहा कि भगवान भोलेनाथ को जब दो नेत्रों से कामदेव दिखाई नहीं दिया तो उनको तीसरा नेत्र खोलना पड़ा। उन्होंने कहा कि भौतिक नेत्रों से तो कामवासना बढ़ती है जोकि तभी भस्म होगी, जब प्रभु का कृपा रूपी तीसरा नेत्र खुलेगा। काम सदा नेत्रों के माध्यम से मन में आता है, मन से बुद्धि में जाता है और बुद्धि से इंद्रियों के द्वारा प्रकट होने लगता है। कामदेव के भस्म होने के बाद जैसे भोले शंकर ने नेत्र खोले ताे सभी देवताओं ने भोलेनाथ की मंगलमई स्तुति की।

उन्हाेंने कहा कि भगवान शिव का शृंगार भी मानव मात्र को महत्वपूर्ण मार्गदर्शन करता है। जगत का दूल्हा कई दिन तक हल्दी अपने शरीर पर मलता है और भोलेनाथ अपने शरीर में भस्म मलते हैं। हल्दी कामोत्तेजक है और भस्म शरीर को सीतल रखता है। उन्हाेंने कहा कि शंकर के हाथ में त्रिशूल है। इसका अर्थ है काम, क्रोध और लोभ रूपी तीनों शूलों को शंकर ने अपनी मुट्ठी में काबू कर रखा है।

प्रवचन करते स्वामी कमलानंद गिरी महाराज

सिटी के रघुनाथ मंदिर में चल रही कथा सुनती महिलाएं।

Ambala News - haryana news sex increases with physical eyes fall
X
Ambala News - haryana news sex increases with physical eyes fall
Ambala News - haryana news sex increases with physical eyes fall
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना