पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

600 शराब की पेटियों से भरा ट्रक लेकर ड्राइवर गायब, न ड्राइवर का पता चला और न ही ट्रक का

7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
प्रतीकात्मक फोटो।
  • यमुनानगर इंडस्ट्री एरिया की घटना, ठेकेदार ने कराया केस
Advertisement
Advertisement

यमुनानगर। यमुनानगर इंडस्ट्री एरिया से 600 पेटी अंग्रेजी शराब से लोड होकर चला ट्रक साढौरा पहुंचने से पहले गायब हो गया। ट्रक को गायब हुए एक माह हो गया, लेकिन उसका पता नहीं चल पाया है। शक है कि ट्रक चालक के मन में लालच आया और वही ट्रक लेकर फरार हुआ है। शराब ठेकेदार ने अपने स्तर पर उसकी तलाश की, लेकिन पता नहीं चला। 


इसके बाद शिकायत पुलिस को दी गई। शहर यमुनानगर थाना पुलिस ने इस मामले में ट्रक चालक पर धोखाधड़ी का केस दर्ज कर लिया है। थाना के एडिशनल एसएचओ एवं जांच अधिकारी बलबीर सिंह का कहना है कि ट्रक चालक पर शक है। उसकी तलाश की जा रही है। ट्रक का भी पता नहीं चला है। 

साढौरा एरिया के ठेकों के लिए भेजी गई थी शराब
हिसार के सेक्टर 17 निवासी रिंकू ने शहर यमुनानगर पुलिस को दी शिकायत में बताया कि वह इंडस्ट्रियल एरिया स्थित सब्जी मंडी में शराब गोदाम इंचार्ज कृष्ण कुमार पर काम करता है। आठ नवंबर की शाम को उन्होंने गोपाल शर्मा ट्रांसपोर्ट से एक ट्रक किराए पर लिया था। जिसपर कैथल के गांव चीका निवासी सोहन ड्राइवर था। 


आठ नवंबर की रात को उन्होंने सोहन के ट्रक में 600 पेटी अंग्रेजी शराब लोड करके साढौरा अनाज मंडी भेजी थी। लेकिन शराब से भरा वह ट्रक वहां नहीं पहुंचा। 12 नवंबर तक उन्होंने साढौरा अनाजमंडी में ट्रक के पहुंचने का इंतजार किया, लेकिन आरोपी चालक ट्रक लेकर वहां नहीं पहुंचा। उन्होंने इसकी सूचना पुलिस कंट्रोल रूम में दी। 


इस दौरान उन्होंने अपने स्तर पर आरोपी ट्रक चालक की काफी तलाश की। लेकिन उसके बारे में कोई जानकारी नहीं मिल पाई। आरोपी सोहन के घर पर भी उन्होंने उसका पता लगाया, लेकिन आरोपी वहां पर भी नहीं पहुंचा। आरोप है कि या तो ट्रक चालक को किसी ने लूट लिया, या ट्रक चालक स्वयं उनकी 600 पेटी शराब को लेकर कहीं फरार हो गया। पुलिस ने मामले की जांच के बाद आरोपी ट्रक चालक सोहन उर्फ जोनी पर धोखाधड़ी के आरोप में केस दर्जकर जांच शुरू कर दी है।

Advertisement
0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव - आज आप कई प्रकार की गतिविधियों में व्यस्त रहेंगे। साथ ही सामाजिक दायरा भी बढ़ेगा। कहीं से मन मुताबिक पेमेंट आ जाने से मन में राहत रहेगी। धार्मिक संस्थाओं में सेवा संबंधी कार्यों में महत्वपूर्ण...

और पढ़ें

Advertisement