हरियाणा / जेल में बंद हनीप्रीत पहनती थी डिजायनर कपड़े, खुद को फिट रखने के लिए करती थी योग



डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह के साथ मुंहबोली बेटी हनीप्रीत। फाइल फोटो डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह के साथ मुंहबोली बेटी हनीप्रीत। फाइल फोटो
Honeypreet Insan Bail Plea acceptance of Bail Plea Honeypreet Discharged from the Jail
Honeypreet Insan Bail Plea acceptance of Bail Plea Honeypreet Discharged from the Jail
X
डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह के साथ मुंहबोली बेटी हनीप्रीत। फाइल फोटोडेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह के साथ मुंहबोली बेटी हनीप्रीत। फाइल फोटो
Honeypreet Insan Bail Plea acceptance of Bail Plea Honeypreet Discharged from the Jail
Honeypreet Insan Bail Plea acceptance of Bail Plea Honeypreet Discharged from the Jail

  • शुरुआती दिनों में खाने को लेकर थोड़ी दिक्कत होती थी, लेकिन धीरे-धीरे जेल के माहौल में रम सी गई थी
  • दो गाड़ियों में आए परिवार के लोग (माता-पिता, भाई और दो बहनें) पौने 6 बजे हनीप्रीत को लेकर दिल्ली की तरफ रवाना

Dainik Bhaskar

Nov 06, 2019, 09:25 PM IST

अंबाला. पंचकूला हिंसा मामले में लगभग 2 साल से अंबाला जेल में बंद डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह की करीबी हनीप्रीत को बुधवार शाम जेल से बाहर आ गई। जेल से बाहर आने पर परिजन हनीप्रीत को लेकर दिल्ली की रवाना हो गए। हनीप्रीत जब जेल से बाहर निकली तो वह पीले सूट में थी। देखने वाले बताते हैं कि आज भी वह वैसी ही दिखती थी, जैसे जेल में जाने से पहले थी। जेल में हनीप्रीत को अपनी पसंद के कपड़े पहनने की इजाजत हासिल थी और इसी के चलते अक्सर उसे डिजायनर सूट में देखा जा सकता था। इसके अलावा उसकी वह मोबाइल फोन से अपने परिवार से बात करती थी। सूत्रों के मुताबिक यहां के माहौल में ढल चुकी हनीप्रीत फिट रहने के लिए योग करती थी।

 

ऐसा था हनीप्रीत का जेल का लाइफ स्टाइल

जेल के सूत्राें की मानें तो शुरुआती दिनों में जेल में मिलने वाले खाने को लेकर उसे थोड़ी दिक्कत होती थी, लेकिन धीरे-धीरे वह माहौल में रम सी गई थी। इन दिनों वह किसी से ज्यादा बात नहीं करती थी और अपने आप तक ही सीमित रहती थी। घर वालों से मिलने पर वह थोड़ा खुश दिखाई देती थी और इसके बाद फिर से वही सामान्य मूड होता था। वह खुद को फिट रखने के लिए हनीप्रीत काफी सजग दिखाई देती थी। योग करती थी। इसके अलावा हनीप्रीत की रोज अपने परिवार से बात होती थी। इसके लिए पिछले साल नवंबर में हनीप्रीत ने कोर्ट में याचिका लगाकर अपने भाई और परिवार के अन्य सदस्यों से मोबाइल पर रोज पांच मिनट बात करने की इजाजत मांगी थी। शुरुआत में कोर्ट ने इनकार कर दिया, लेकिन कई सुनवाई के बाद आखिर परमिशन दे दी गई थी।

 

एक दावा यह भी

हालांकि सोशल मीडिया के दावे हैरान करने वाले थे कि हनीप्रीत को जेल के अंदर वीआईपी ट्रीटमेंट मिल रहा था। दावा यहां तक था कि हनीप्रीत खुद तो मेकअप करती ही थी साथ ही जेल की दूसरी महिलाओं का भी मेकअप करती थी और उन्हें ब्यूटी टिप्स देती थी। जेल के अंदर हनीप्रीत जिस छोटे से कमरे में रहती है उसमें देसी-विदेशी ब्रांड्स के महंगे मेकअप के सामान से भर दिया है। सारा सामान जेल के बाहर से लाया गया है। डेरे से जुड़े राम रहीम के समर्थक और हनीप्रीत के रिश्तेदारों ने मेकअप के सामान को पहुंचाया है। दूसरी ओर जेल के आधिकारिक सूत्रों के मुताबिक उसे सामान्य विचाराधीन कैदियों की तरह रखा जाता था। अंडरट्रायल होने की वजह से उसे कपड़े अपनी पसंद के पहनने की इजाजत जरूर थी।

 

रिहाई के वक्त के अपडेट्स

  • 5 बजे पंचकूला कोर्ट से जमानत अर्जी मंजूर होने के बाद रिहाई के आदेश की कॉपी लेकर हनीप्रीत के परिजन अंबाला सेंट्रल जेल पहुंचे, जो उसके बाहर आने तक गेट पर ही रहे। पंजाब के नंबर की एक फॉर्च्यूनर गाड़ी में पिता रामानंद, मां आशा, भाई साहिल और बहन निशु थे। इसके अलावा दूसरी इनोवा कार में दूसरी बहन सोनाली थी।
  • जेल प्रशासन को इसके बारे में पहले ही जानकारी मिल चुकी थी, लेकिन फिर भी कुछ औपचारिकताएं पूरी करने के बाद 5:40 बजे हनीप्रीत को कड़ी सुरक्षा में जेल से बाहर लाया गया। वह फॉर्च्यूनर गाड़ी में परिजनों के साथ बैठी और फिर दोनों गाड़ियां एनएन-1 के रास्ते दिल्ली के लिए रवाना हो गई। गाड़ी में बैठी हनीप्रीत का पीले रंग का कमीज ही दिखाई दी।
  • हनीप्रीत और उसके परिवार की गाड़ियों के साथ बलदेव नगर के थाना प्रभारी और महिला थाने की इंस्पेक्टर अपनी सीमा तक अपने वाहनों में गए और फिर लौट आए।

 

 

 

DBApp

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना