कुरुक्षेत्र / पुलिस को अाशंका- बेईमान बाबा नेपाल के रास्ते विदेश भागा, पांच करोड़ की ठगी के 5 नए केस आए



Police says fraud Baba ran abroad via Nepal
X
Police says fraud Baba ran abroad via Nepal

  • शरीफगढ़ में डेरा चलाने वाले राजेश कैंडी के खिलाफ 5 और शिकायतें पुलिस के पास पहुंची हैं
  • कैंडी के ज्यादातर शिकार कैथल जिले के हैं, उसके खिलाफ पंजाब में भी केस दर्ज हैं

Jul 04, 2019, 07:51 AM IST

कुरुक्षेत्र (संजीव राणा). बाबा वडभाग सिंह के नाम पर कुरुक्षेत्र के शरीफगढ़ में डेरा चलाने वाले राजेश कैंडी के खिलाफ 5 और शिकायतें पुलिस के पास पहुंची हैं। इन मामलों में करीब 5 करोड़ की ठगी का आरोप है। कैंडी 7 माह से डेरे में नजर नहीं आया है।

 

ग्रामीणों में चर्चा है कि वह कनाडा भाग गया है, क्योंकि उसके वहां भी संपर्क थे। पुलिस को अंदेशा है कि वह नेपाल में भी छिपा हो सकता है। अब उसके पासपोर्ट की जानकारी जुटाई जा रही है। कैंडी के ज्यादातर शिकार कैथल जिले के हैं। उसके खिलाफ पंजाब में भी केस दर्ज हैं। डेराबस्सी का एक केस कोर्ट में भी चल रहा है।

 

शरीफगढ़ आने से पहले वह 10 साल अम्बाला व पंजाब में ही सक्रिय रहा। कैंडी के ठगी मामलों की जांच कर रहे सीआईए-1 प्रभारी मनदीप सिंह और सीआईए-2 प्रभारी मलकीत सिंह के पास 5 नई शिकायतें पहुंची हैं। इनमें एक मामला पंचकूला व एक कैथल के सीवन का है। सीवन के प्रवीण कुमार से करीब एक करोड़ रुपए हड़पे। ऐसे ही पंचकूला के नसीब सिंह से करीब 30 लाख और कैथल के राजीव से करीब एक करोड़ रुपए हड़पे। जबकि दो अन्य मामलों भी करीब दो करोड़ के हैं। 

 

छोटा फायदा पाकर बड़ी रकम फंसा बैठे :

कैंडी झाड़-फूंक व चौकी लगाकर लोगों की तकलीफें दूर करने का दावा करता था। हाथ की सफाई दिखाकर लोगों पर प्रभाव जमाता था। सस्ता सोना, पैसे दोगुने करने व विदेश भेजने का झांसा देकर कइयों को ठगा। पहले लोग थोड़ा पैसा निवेश करते। बदले में उन्हें जब सस्ता सोना दिया गया, तो लालच बढ़ गया। वे सस्ता सोना लेने के लिए मोटी रकम थमाने लगे। शरीफगढ़ के सरपंच दीदार सिंह के मुताबिक पिछले 5-6 माह में ऐसे सैकड़ों लोग आ चुके हैं, जिनके साथ ठगी हुई। पुलिस के पास तो अप्रैल से शिकायतें आने लगी। करीब एक साल से लोग खुद ही पंचायतें कर रहे थे, ताकि किसी तरह पैसा निकल जाए। 7 माह पहले कुछ लोगों ने खुद ही डेरे पर ताला जड़ दिया। तब कैंडी डेरा खोलना चाह रहा था। उसने पैसे लौटाने के बदले कइयों को डेरा नाम कराने का झांसा दिया हुआ था।
 

100 करोड़ से ज्यादा की ठगी :
अधिकांश पीड़ित अभी चुप्पी साधे हैं। दूसरे जिलों में उसके खिलाफ केसों की जानकारी जुटा रहे हैं। संभव है कि ठगी का आंकड़ा 100 करोड़ रुपए से ज्यादा का निकले। -मलकीत सिंह, इंस्पेक्टर, सीआईए-2 प्रभारी

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना