--Advertisement--

रोडवेज हड़ताल / 190 निजी बसों की टेंडर प्रक्रिया पर बोले यूनियन नेता- एक बार फिर टकराव की स्थिति पैदा कर रही सरकार



Roadways union protest against government tender policy for private bus
X
Roadways union protest against government tender policy for private bus

  • 12 नवंबर को इस मुद्दे पर कर्मचारी यूनियन नेताओं से बातचती करेंगे एसीएस

Dainik Bhaskar

Nov 10, 2018, 07:05 PM IST

यमुनानगर। हरियाणा सरकार द्वारा 190 निजी बसों की किलोमीटर स्कीम के तहत टेंडर प्रक्रिया शुरू करने का कर्मचारी यूनियन ने विरोध किया है। हरियाणा तालमेल कमेटी के सदस्य हरिनारायण शर्मा का कहना है कि सरकार एक बार फिर से टकराव की स्थिति पैदा कर रही है। उनका कहना है कि 12 नवंबर को इस मुद्दे पर कर्मचारी यूनियन नेताओं की एसीएस के साथ वार्ता होनी है। 

सर्व कर्मचारी संघ ने सरकार के साथ वार्ता से पहले बुलाई बैठक

  1. विभाग के इस कदम से फिर टकराव की स्थिति बन सकती है। क्योंकि प्रदेश में 18 दिन हड़ताल 700 निजी बसों को किलोमीटर स्कीम पर देने के विरोध में ही हुई थी। सर्व कर्मचारी संघ ने इसे लेकर एसीएस से वार्ता से पहले रोहतक में 11 नवंबर को प्रदेश कार्यकारिणी की मीटिंग बुला ली है। 
     

  2. हरिनारायण शर्मा का कहना है कि सरकार टेंडर प्रक्रिया शुरू करके उन्हें उकसाने का काम कर रही है। रोडवेज सहित सभी विभागों के कर्मचारी किसी भी सूरत में रोडवेज में निजीकरण बर्दाश्त नहीं करेंगे। उन्होंने आरोप लगाया कि सरकार ऐसी कार्रवाई करके कर्मचारियों को दोबारा आंदोलन के लिए मजबूर कर रही हैं। उन्होंने बताया कि रोडवेज कर्मचारियों को हड़ताल अवधि का वेतन नहीं दिया गया है।

  3. सरकार के इशारे पर भिवानी जेल में बंद नेताओं को घोर यातनाएं दी गईं हैं। उनको अपमानित किया गया। उन्होंने बताया कि सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा ने 11 नवंबर को रोहतक में प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक बुलाई गई है। इस बैठक में सरकार के बदले हुए रवैए पर चर्चा कर आगामी निर्णय लिया जाएगा।
     

Bhaskar Whatsapp
Click to listen..