• Hindi News
  • Haryana
  • Hisar
  • Hisar News between the city39s flags the loneliness of trains tells that the sushila bhawan is the election office of any political party
--Advertisement--

शहर के बीच झंडे, गाड़ियों की रौनक बता देती है सुशीला भवन बना है किसी राजनीितक पार्टी का चुनाव कार्यालय

Hisar News - चुनाव की घोषणा होते ही पूरे शहर में रौनक आ जाती है। मगर गाड़ियां, माइक और झंडे पारिजात चौक से अग्रसेन भवन तक दिखाई...

Dainik Bhaskar

Dec 09, 2018, 04:15 AM IST
Hisar News - between the city39s flags the loneliness of trains tells that the sushila bhawan is the election office of any political party
चुनाव की घोषणा होते ही पूरे शहर में रौनक आ जाती है। मगर गाड़ियां, माइक और झंडे पारिजात चौक से अग्रसेन भवन तक दिखाई दें तो समझ में आ जाता है कि सुशीला भवन किसी राजनीतिक दल या नेता का चुनाव कार्यालय बन चुका है। वैसे सुशीला भवन कई चुनावों का गवाह रहा है। लेकिन मुख्यत: यह जिंदल परिवार के चुनाव कार्यालय से जाना जाता है।

हिसार से विधायक और सांसद का चुनाव लड़ चुके ओमप्रकाश ओपी जिंदल, जयप्रकाश और सावित्री जिंदल सुशीला भवन को अपना चुनाव कार्यालय बना चुके हैं। इस बार यह मौका गौतम सरदाना को मिला है। हरियाणा में पहली बार मेयर पद के लिए सीधा चुनाव हो रहा है, जो विधायक के चुनाव से भी ज्यादा महत्वपूर्ण है।

ओपी जिंदल, जयप्रकाश, सावित्री जिंदल के बाद इस बार मेयर चुनाव में भाजपा प्रत्याशी गौतम सरदाना ने सुशीला भवन को बनाया अपना मुख्य चुनाव कार्यालय

जिंदल परिवार ने सुशीला भवन को कई बार बनाया दफ्तर

ओमप्रकाश जिंदल ने 1991 से राजनीति पारी की शुरुआत की थी। 2000 व 2005 में ओपी जिंदल ने चुनाव लड़ा और इस बार फिर सुशीला भवन को चुनाव कार्यालय बनाकर चुनाव में जीत दर्ज की। 2011 में हिसार लोकसभा सीट से सांसद रहे चौ. भजनलाल का निधन हुआ तो उपचुनाव में कांग्रेस की आेर से जयप्रकाश ने सुशीला भवन को मुख्य चुनाव कार्यालय बनाया, लेकिन वह काफी अंतर से चुनाव हार गए थे। 2009 व 2014 के चुनावों में सावित्री जिंदल के लिए भी सुशीला भवन को ही कार्यालय बनाया।

हिसार का सुशीला भवन। मुख्य द्वार मेयर चुनाव के लिए झंडियों से सजा है तथा भवन पर झंडे लगे हैं।

पहली बार मेयर चुनाव के लिए बना है चुनाव कार्यालय

हरियाणा में पहली बार मेयर पद का चुनाव हो रहा है। इसके लिए भाजपा प्रत्याशी गौतम सरदाना ने सुशीला भवन को चुनाव कार्यालय बनाया है। इससे पहले विधानसभा और लोकसभा चुनाव के लिए राजनीतिक दलों के नेता सुशीला भवन को चुनाव कार्यालय बना चुके हैं। इस बार लोकसभा और विधानसभा के आम चुनाव अगले साल होने हैं, मगर मेयर पद के लिए सीधे चुनाव ने शहर में ऐसा माहौल तैयार कर दिया है जिससे आम चुनाव जैसी ही पिक्चर नजर आती है। गौतम सरदाना को भाजपा की ओर से टिकट दिया है, लेकिन पता चला है कि उन्होंने सुशीला भवन को पहले ही बुक करा दिया था।

X
Hisar News - between the city39s flags the loneliness of trains tells that the sushila bhawan is the election office of any political party
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..