प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना / इलाज से पहले और बाद में बॉयोमीट्रिक हाजिरी जरूरी

प्रतीकात्मक फोटो। प्रतीकात्मक फोटो।
X
प्रतीकात्मक फोटो।प्रतीकात्मक फोटो।

  • फर्जीवाड़ा रोकने काे पहल, लिए जाएंगे थम्ब इप्रेशन
  • प्रदेशभर में बने 15 लाख कार्ड, लेकिन लाभार्थियों की संख्या 60-70 लाख के करीब

दैनिक भास्कर

Dec 14, 2019, 04:29 AM IST

हिसार| प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के लाभार्थी को पांच लाख रुपए तक कैशलेस लाभ मिलता है। इसमें फर्जीवाड़ा रोकने के लिए सरकार ने कई कदम उठाए हैं। अब गोल्डन कार्ड बनवाने से लेकर इलाज से पहले और बाद में बॉयोमीट्रिक मशीन पर थम्ब इंप्रेशन देना होगा। इसकी पालना सुनिश्चित करने सभी जिलों के सिविल सर्जन और योजना के नोडल ऑफिसर को दिशा-निर्देश जारी हुए हैं। प्रदेशभर में फर्जी बीमा करवाकर लाखों रुपए क्लेम लेने के मामले सामने आते रहे हैं। हाल ही में आरोपियों को गिरफ्तार किया गया था। 

हिसार में 1.6 लाख परिवार हैं, जिनमें से 91 हजार परिवारों के कार्ड बने हैं, जबकि लाभार्थी करीब 5 लाख हैं। {प्रदेश में 15 लाख गोल्डन कार्ड बन चुके हैं, लेकिन लाभार्थियों की संख्या करीब 65 लाख हैं। इस काम को गति देने के लिए जोर दिया गया है। 

हिसार में 9300 ने उठाया लाभ, बीमा क्लेम 11 करोड़
प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के तहत हिसार जिले के करीब 9300 प्रार्थी कैश लेस स्वास्थ्य सेवाओं का लाभ उठा चुके हैं। करीब 11 करोड़ रुपये बीमा क्लेम हुआ है। सबसे ज्यादा इम्पैनल निजी अस्पतालों में लाभार्थियों ने स्वास्थ्य सेवाओं का लाभ उठाया है। सरकारी अस्पतालों में इलाज को पहुंचे लाभार्थियों की संख्या में धीरे-धीरे बढ़ोतरी हो रही है। इसके लिए विशेषतौर पर मेडिकल ऑफिसर लगाया है, जिनका काम लाभार्थी का रिकॉर्ड इकट्ठा करके बीमा क्लेम करवाना है। बता दें कि इम्पैनल निजी अस्पतालों की संख्या 42 हैं। सभी सरकारी अस्पतालों में भी योजना के तहत इलाज का लाभ उठा सकते हैं।

प्लानिंग : भविष्य में अन्य जरूरतमंद लोगों को योजना में शामिल करने के लिए प्रक्रिया शुरू होने की उम्मीद है। इसको लेकर मंथन जारी है। किन नियमों के तहत लाभ दिया जाएगा, संबंधित ऑफिशियल पत्र जिला प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग के अफसरों को भेजा जाएगा।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना