छत्रपति मर्डर केस / राम रहीम के खिलाफ गवाह सेठी का किया था तहस-नहस, फिर थी परिवार को जिंदा जलाने की साजिश



Chhatrapati Murder case CBI witness RK Sethi shared his experiences
Chhatrapati Murder case CBI witness RK Sethi shared his experiences
X
Chhatrapati Murder case CBI witness RK Sethi shared his experiences
Chhatrapati Murder case CBI witness RK Sethi shared his experiences

  • 2002 में खबर छापने की वजह से डेरा सच्चा सौदा के अनुयायियों के गुस्से का शिकार हुए थे राजकुमार सेठी
  • बताते हैं-ऐन वक्त पर पड़ोसियों ने निकाल नहीं दिया होता तो आज जिंदा नहीं होता परिवार
  • कोर्ट में आमना-सामना होने पर डरा हुआ होता था राम रहीम

Dainik Bhaskar

Jan 11, 2019, 03:46 PM IST

फतेहाबाद. राम रहीम को हर वो व्यक्ति नगवार गुजरता था, जो उसके खिलाफ कुछ भी बोलता या लिखता था। गुरमीत राम रहीम के काले कारनामों को उजागर करने पर उसने जहां पत्रकार रामचंद्र छत्रपति की हत्या करवा दी थी। वहीं, छत्रपति का साथ देने के एवज में राम रहीम के काले कारनामों संबंधी तथ्य छापने पर पत्रकार आरके सेठी के ऑफिस में अपने गुर्गों से हमला कराया था और उनके परिजनों को जिंदा जलाने की कोशिश की थी। सेठी रामचंद्र छत्रपति की हत्या के मामले में सीबीआई की ओर से राम रहीम के खिलाफ गवाह हैं।

 

पत्रकार सेठी उस वक्त को याद करके आज भी सिहर उठते हैं। उन्होंने बताया 2002 में डेरा सच्चा सौदा के अनुयायियों ने पत्रकार रामचंद्र छत्रपति की हत्या के बाद उन पर हमला किया था। अपने सांध्य दैनिक में उन्होंने लगातार डेरे की कारगुजारियों को उजागर किया था। उस समय राम रहीम के लोग मेरे परिवार को खत्म करने पर उतारू थे। बावजूद इसके हम छत्रपति के परिवार के साथ खड़े रहे।

 

छत्रपति हत्याकांड में सीबीआई ने सेठी को अपना महत्वपूर्ण गवाह बनाया और सेठी ने सीबीआई कोर्ट में बाबा के खिलाफ अपनी गवाही भी थी। 16 साल बाद 17 जनवरी को राम रहीम को सजा का एलान होगा। राजकुमार सेठी ने उम्मीद जताई कि कोर्ट राम रहीम को फांसी की सजा देगी।

 

सेठी ने बताया कि सीबीआई कोर्ट में बाबा राम रहीम से जब उनका आमना-सामना होता तो वह डरा हुआ दिखाई देता था। हत्यारा और बलात्कारी गुंडा किस्म का इंसान जब सच को अपने सामने देखता है तो डर ही जाता है।

COMMENT