हरियाणा / 16 साल पहले सिवानी में सिपाही की हत्या करने वाला 3 लाख रुपए का इनामी विनोद गिरफ्तार



criminal vinod arrested
X
criminal vinod arrested

  • विनोद के खिलाफ हत्या, हत्या के प्रयास, फिरौती व अपहरण के 50 केस दर्ज, 12 में हो चुकी सजा
  • आरोपी विनोद ने जेल वापस जाने से बचने के लिए वर्ष 2010 में किया था अपने अपहरण का झूठा नाटक

Dainik Bhaskar

May 21, 2019, 07:16 AM IST

सिवानी मंडी (हिसार). जिला पुलिस ने कुख्यात अपराधी अपराधी विनोद मित्ताथलिया को धर दबोचा। अाराेपी विनोद करीब 16 साल पहले सिवानी थाना में तैनात सिपाही सुभाष की हत्या में शामिल था। विनोद मित्ताथलिया को जिला पुलिस ने राजस्थान के चुरु जिला के गांव दुदलासर से गिरफ्तार कर लिया। 

 

पुलिस के एंटी व्हीकल थेफ्ट टीम व साइबर सेल की संयुक्त टीम की तरफ से गिरफ्तार किए आरोपी विनोद ने जेल वापस जाने से बचने के लिए वर्ष 2010 में अपने अपहरण का झूठा नाटक किया था। विनोद के खिलाफ हत्या, हत्या के प्रयास, फिरौती व अपहरण जैसे 50 अभियोग अंकित हैं, जिसमें से 12 अभियोगों में उसे सजा हो चुकी है। फिलहाल पुलिस राजस्थान से गिरफ्तार किए गए आरोपी विनोद से पूछताछ कर रही है। गौरतलब है कि दिसंबर 2003 में विनोद मित्ताथलिया ने सिवानी थाने में तैनात सिपाही सुभाष की रूपाणा गांव में हत्या कर दी थी। इस मामले में अदालत ने आरोपी को आजीवन कारावास की सजा सुनाई थी।

 

इस मामले में विनोद पैरोल पर बाहर आया था और वापस जेल जाने से बचने के लिए विनोद ने वर्ष 2010 में अपने अपहरण का झूठा नाटक रचा। विनोद के इस अपहरण की सच्चाई सामने आने के बाद हरियाणा पुलिस के विभिन्न जिला पुलिस की तरफ से गिरफ्तारी के लिए इनाम घोषित किया गया था। भिवानी जिले में विनोद की गिरफ्तारी की सूचना देने वालों के लिए दो लाख, जिला रोहतक में 50 हजार व जिला झज्जर में 50 हजार रुपये की इनाम की राशि पुलिस महानिदेशक हरियाणा की तरफ से घोषित की गई थी।


राजस्थान के चुरू जिले में पकड़ा गया विनोद 
पुलिस को सूचना मिली थी कि विनोद चुरू जिला के गांव दुदलासर गांव में एक झोपड़ी में शरण लेकर छिपा है। जिला पुलिस ने राजस्थान पुलिस के सहयोग से बताए गए ठिकाने पर दबिश दी तो पिछले नौ साल से फरार चल रहा अति वांछित अपराधी पुलिस के हत्थे चढ़ गया। पुलिस ने कई आपराधिक वारदातों में विनोद के साथ रहे उसके साथी बदमाश मालवास देवसर निवासी प्रवीण को भी गिरफ्तार करने में कामयाबी हासिल कर ली है। आरोपियों से पुलिस ने तीन 9 एमएम पिस्टल व 6 राउंड तथा 315 बोर के 9 राउंड बरामद किए हैं। पैरोल से फरार होने के बाद आरोपियों ने कई वारदातों को अंजाम दिया था जिसे लेकर पुलिस आरोपियों से पूछताछ कर रही है। पुलिस आरोपियों काे 21 जुलाई को अदालत में पेश करेगी जहां से उन्हें पुलिस रिमांड पर लिया जाएगा।
 

दादरी में डॉ. केएल बावा की भी कर चुका हत्या
सूर्या अल्ट्रासाउंड केंद्र संचालक डॉ. केएल बावा का अपहरण कर हत्या करने के आरोपियों का ढाई वर्ष बाद भिवानी पुलिस ने दबोच कर खुलासा किया है। करीब 9 वर्ष से फरार तीन लाख का इनामी मोस्टवांटेड विनोद मिताथल ने हत्या की वारदात कबूली है। डॉ. केएल बावा हत्या में मिताथल के साथ उसके दो दोस्त भी शामिल थे। अब डॉ. बावा की हत्या क्यों और किसके कहने पर की थी इसके लिए पुलिस ने पूछताछ शुरू कर दी है। 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना